DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  दोहरे हत्याकांड का खुलासा : कामिनी का रिश्ता तय होने पर बौखला गया था 'गोविंदा', पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार

उत्तर प्रदेशदोहरे हत्याकांड का खुलासा : कामिनी का रिश्ता तय होने पर बौखला गया था 'गोविंदा', पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार

बाह(आगरा)। हिन्दुस्तान संवादPublished By: Dinesh Rathour
Tue, 09 Mar 2021 09:50 PM
दोहरे हत्याकांड का खुलासा : कामिनी का रिश्ता तय होने पर बौखला गया था 'गोविंदा', पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार

कस्बा जरार के हवेली मोहल्ले में रविवार की रात शारदा देवी और कामिनी की हत्या करके फरार हुआ गोविंद उर्फ गोविंदा मंगलवार सुबह मुठभेड़ में पकड़ा गया। एसएसपी ने उस पर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। पुलिस ने बटेश्वर मार्ग पर नौरंगी घाट के पास हत्यारोपी को घेरा। वह बाइक से फिरोजाबाद की तरफ भाग रहा था। दोनों तरफ से गोलियां चलीं। एक गोली उसके पैर में लगी। प्राथमिक उपचार के बाद पुलिस ने उसे जेल भेज दिया। हत्या में प्रयुक्त चाकू बरामद करने के लिए पुलिस उसे रिमांड पर लेगी। वह उसे जंगल में छिपा दिया है।

रविवार देर रात 50 वर्षीय शारदा देवी और 16 वर्षीय बेटी कामिनी की बेरहमी से हत्या की गई थी। मोहल्ले के गोविंदा ने एकतरफा प्यार में सनसनीखेज वारदात को अंजाम दिया था। पुलिस के मुताबिक कामिनी का रिश्ता तय होने की खबर सुनकर वह बौखला गया था। घटना से पहले उसने एलान किया था कि बड़ा कांड करेगा। रात के अंधेरे में छत के रास्ते से युवती के घर में घुस गया था। शोर शराबा होने पर आई किशोरी की भाभी कमलेश उर्फ रेखा पर भी चाकू से प्रहार किए थे। उन्होंने कमरे में छिपकर अपनी जान बचाई थी।

एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि गोविंदा की गिरफ्तारी इतनी आसान नहीं थी। पुलिस से बचने के लिए उसने पूरा दिमाग लगाया। पुलिस की सात टीमें गठित की गई थीं। फिरोजाबाद, दिल्ली, इटावा और कन्नौज में दबिश भेजी गई। पुलिस ने एक-एक करके सभी रिश्तेदारों के घर दस्तक दी। पुलिस को हिदायत दी गई थी कि रिश्तेदारों के घर से हटना नहीं है। वह किसी रिश्तेदार से संपर्क जरूर करेगा। उसके पास ज्यादा पैसा नहीं है। इसी योजना के तहत एक रिश्तेदार से संपर्क करने पर पुलिस को गोविंदा का सुराग मिल गया। मंगलवार सुबह पुलिस ने उसे बाइक पर आगरा से बाहर भागते समय घेर लिया। उसने पुलिस को देखते ही गोली चलाई। पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की। एक गोली गोविंदा के बाएं पैर में लगी है। एसएसपी ने बताया कि हत्यारोपी ने खून से सना चाकू और अपने कपड़े जंगल में छिपाए हैं। पुलिस बरामदगी के लिए उसे रिमांड पर लेगी। फिलहाल हत्यारोपी को जेल भेज दिया गया है।

पहले मां को मारा फिर बेटी पर किए प्रहार
दोहरे हत्याकांड का आरोपित गोविंद उर्फ गोविंदा बीएससी का छात्र है। पुलिस ने पूछताछ की तो उसने बताया कि पहले शारदा देवी पर हमला किया। उनकी चीख सुनकर कामिनी जागी तो उस पर भी ताबड़तोड़ प्रहार किए। इसी दौरान कामिनी की भाभी कमरे से बाहर आ गई। उसको भी घायल कर दिया।हत्यारोपी ने पुलिस को बताया कि उसने रात को शराब पी थी। अपने साथ चाकू लेकर बिस्तर पर लेटा था। कामिनी की हत्या करने की पूरी तैयारी थी। उसे लगता था कि उसकी शादी किसी दूसरे को हो गई तो दोस्त उसका मजाक बनाएंगे।

रात को वह छत के रास्ते से घर में घुसा था। घर में घुसते ही कामिनी की मां शारदा देवी की नींद खुल गई। उन्होंने उसे देख लिया। शोर मचाना शुरू कर दिया। इसी दौरान उसने शारदा देवी की गर्दन और सीने पर कई प्रहार किए। मां की चीख सुनकर कामिनी जाग गई। उसने घर से बाहर भागने का प्रयास किया। लेकिन गोविंद ने उसे घेर लिया। चाकू से ताबड़तोड़ प्रहार किए। इसी बीच कामिनी की भाभी कमलेश आ गईं। उसने उन पर भी हमला कर दिया। मौका पाकर कामिनी घर से बाहर निकल कर भागी। हत्यारोपी भी दौड़ा। लेकिन करीब 20 मीटर के बाद वह जमीन पर गिर पड़ी। हत्यारोपी मौके से भागकर जंगल में छिप गया। उसके बाद बाहर भागने की फिराक में था। पुलिस ने घेर लिया।

बेटी के आठ और मां के छह जख्म मिले
गोविंदा ने शारदा देवी के शरीर पर चाकू से छह प्रहार किए थे। वहीं कामिनी के शरीर पर उसने आठ बार चाकू से वार किया। मां-बेटी के सभी जख्म सीने और गर्दन पर थे। अत्याधिक खून बहने और नसें कटने के कारण मौत हुई थी। 


 

संबंधित खबरें