ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशडॉक्‍टर ने इलाज के बहाने की शर्मनाक हरकत, क्‍लीनिक से चीखते हुए भागी लड़की; मचा बवाल

डॉक्‍टर ने इलाज के बहाने की शर्मनाक हरकत, क्‍लीनिक से चीखते हुए भागी लड़की; मचा बवाल

एक डॉक्‍टर ने इलाज के बहाने लडकी को क्‍लीनिक में बुलाकर उसके साथ छेड़छाड़ की। मामला, तिवारीपुर के माधोपुर स्थित नटराज मैरेज हॉल के पास का है। लड़की के विरोध करने पर वह उसे प्रलोभन देने लगा।

डॉक्‍टर ने इलाज के बहाने की शर्मनाक हरकत, क्‍लीनिक से चीखते हुए भागी लड़की; मचा बवाल
Ajay Singhहिन्दुस्तान संवाद,गोरखपुरSat, 27 Jan 2024 06:48 AM
ऐप पर पढ़ें

Girl molested in the name of treatment in Gorakhpur: गोरखपुर में एक डॉक्‍टर ने इलाज के बहाने लडकी को क्‍लीनिक में बुलाकर उसके साथ छेड़छाड़ की। मामला, तिवारीपुर के माधोपुर स्थित नटराज मैरेज हॉल के पास का है। आरोप है कि लड़की के विरोध करने पर वह उसे प्रलोभन देने लगा। लड़की ने चीखते हुए भागकर किसी तरह खुद को बचाया। लड़की की तहरीर पर पुलिस आरोपित डॉक्‍टर के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

तिवारीपुर क्षेत्र के एक मोहल्ले की रहने वाली युवती बुधवार को अपने घर से किसी काम से निकली थी। शाम को वह नटराज मैरेज हॉल होते हुए पैदल घर जा रही थी। मैरेज हॉल के बगल में ही डॉ. एस कुमार की क्लीनिक है। युवती का आरोप है कि डॉ. एस कुमार ने देखते ही उसे अपने क्लीनिक में बुला लिया और तबीयत का हाल पूछने लगा। गर्दन में नस चढ़ने की समस्या बताने पर डॉ. एस कुमार ने पहले तो उससे कोट निकलवाई फिर बाद में उसे मेज पर लेट जाने की सलाह दी।

आरोप है कि उसके लेटते ही चिकित्सक डॉ. एस कुमार ने बाहर से पर्दा गिरा दिया और छेड़खानी शुरू कर दी। उसके विरोध करने पर डॉ. एस कुमार ने प्रलोभन देना शुरू कर दिया। इसके बाद वह अपनी इज्जत बचाकर वहां से भाग निकली। युवती ने थाने पहुंचकर मामले की शिकायती पत्र पुलिस को दी। पुलिस आरोपित डॉ. एस कुमार के खिलाफ केस दर्ज करके मामले की जांच कर रही है।

बकाया पैसा मांगने पर दर्ज करा दिया केस
तिवारीपुर के माधोपुर स्थित नटराज मैरेज हॉल के पास क्लीनिक चलानेवाले डॉ. एस कुमार ने बताया कि उन्हें युवती ने फर्जी केस में फंसाया है। दो महीने पहले युवती उनसे 360 रुपए की दवा उधारी में ले गई थी। पैसा मांगने पर आनाकानी करती थी। उस दिन भी हमने अपना बकाया ही मांगा, जिस पर वह अपना आपा खो बैठी और भला-बुरा कहते हुए जाकर छेड़खानी का फर्जी केस थाने में लिखवा दी।

तीन महीने पहले इलाज कराई थी युवती
युवती तीन महीने पहले ही बीमार होने पर डॉ. एस कुमार के यहां इलाज कराई थी। लिहाजा पहले से परिचय होने के का फायदा उठाते हुए डॉ. एस कुमार ने युवती को अपने क्लीनिक में बुलाया और छेड़खानी की। पुलिस पीड़िता को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजकर मामले की जांच कर रही है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें