ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशसलमान खान मामले में लॉरेंस और अनमोल बिश्नोई वांछित घोषित

सलमान खान मामले में लॉरेंस और अनमोल बिश्नोई वांछित घोषित

मुंबई पुलिस ने जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और उसके छोटे भाई अनमोल बिश्नोई को बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान के आवास के बाहर फायरिंग मामले में ‘वांछित आरोपी घोषित किया है। अनमोल ने जिम्मेवारी ली थी।

सलमान खान मामले में लॉरेंस और अनमोल बिश्नोई वांछित घोषित
Yogesh Yadavएजेंसी,मुंबईMon, 22 Apr 2024 12:19 PM
ऐप पर पढ़ें

मुंबई पुलिस ने जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और उसके छोटे भाई अनमोल बिश्नोई को बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान के आवास के बाहर फायरिंग मामले में ‘वांछित आरोपी घोषित किया है। इस मामले में गिरफ्तार विक्की गुप्ता और सागर पाल को दोनों बिश्नोई भाइयों से निर्देश मिल रहे थे। एक पुलिस अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी।

अधिकारी ने कहा कि लॉरेंस बिश्नोई एक अन्य मामले में गुजरात की साबरमती केंद्रीय जेल में बंद है। लेकिन माना जाता है कि उसका भाई अनमोल कनाडा या अमेरिका में है। मुंबई पुलिस जल्द ही लॉरेंस की हिरासत मांग सकती है। मामले की जांच कर रही पुलिस की अपराध शाखा ने केस में भारतीय दंड संहिता की धारा 506 (2) (मौत या गंभीर चोट पहुंचाने की धमकी) और 201 (सबूत गायब करना) जोड़ी है।

14 अप्रैल की सुबह सलमान खान के बांद्रा स्थित आवास गैलेक्सी अपार्टमेंट पर दो मोटरसाइकिल सवार लोगों द्वारा गोलीबारी की गई थी। इसके बाद पुलिस ने आईपीसी की धारा 307 (हत्या का प्रयास) के तहत एफआईआर दर्ज की थी। 16 अप्रैल को पुलिस ने विक्की गुप्ता और सागर पाल को गुजरात के भुज से गिरफ्तार किया। अधिकारियों ने दावा किया कि जब विक्की गुप्ता मोटरसाइकिल चला रहा था तो सागर पाल ने कथित तौर पर गोलियां चलाईं।

घटना के बाद हमले की जिम्मेदारी लेते हुए अनमोल बिश्नोई के नाम से बनाया गया एक फेसबुक पोस्ट सामने आया था। अधिकारी ने कहा, जिस आईपी पते से पोस्ट अपलोड किया गया था, वह पुर्तगाल का पाया गया। गौरतलब है कि इसे गोलीबारी की घटना से तीन घंटे पहले अपलोड किया गया था। पुलिस अधिकारी ने बताया कि अनमोल के नाम का फेसबुक अकाउंट एक विदेशी मोबाइल नंबर का उपयोग कर बनाया गया था।

फर्जी कॉल से पुलिस में मचा हड़कंप

मुंबई पुलिस नियंत्रण कक्ष को शुक्रवार फोन पर सूचना दी गई कि लॉरेंस बिश्नोई गिरोह का सदस्य यहां बड़ी योजना को अंजाम देगा। फोनकर्ता ने दावा किया कि लॉरेंस गिरोह का एक सदस्य दादर रेलवे स्टेशन पर पहुंचेगा। इस सूचना से पुलिस में हड़कंप मच गया। पुलिस ने जांच शुरू की तो मामला फर्जी पाया। एक पुलिस अधिकारी ने शनिवार को बताया कि लॉरेंस से जुड़ी सूचना को गंभीरता से लिया गया। उस व्यक्ति ने कहा कि जेल में बंद गैंगस्टर का गुर्गा एक बड़ी योजना को अंजाम देगा।

पुलिस और आरपीएफ को रात में दादर स्टेशन की गहन तलाशी लेनी होगी। उन्होंने कहा कि वहां पुलिस ने गहन तलाशी ली, लेकिन वहां कोई संदिग्ध व्यक्ति नहीं मिला। कॉल फर्जी निकली। पुलिस फोन नंबर के जरिए कॉल करने वाले का पता लगाने की कोशिश कर रही है। इससे पहले, बिश्नोई के नाम पर कैब बुक करने और उसे यहां सलमान खान के आवास पर भेजने के आरोप में गाजियाबाद निवासी रोहित त्यागी को गिरफ्तार किया गया था।