ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशDev Deepawali 2023: देव दीपावली पर काशी के 60 घाटों पर एक साथ होगी गंगा आरती, सीएम योगी भी आ रहे

Dev Deepawali 2023: देव दीपावली पर काशी के 60 घाटों पर एक साथ होगी गंगा आरती, सीएम योगी भी आ रहे

काशी के सबसे बड़े त्योंहारों में शामिल हो चुके देव दीपावली के लिए तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। कल यानी सोमवार को देव दीपावली पर 60 घाटों पर गंगा आरती होगी। सीएम योगी समेत कई VIP इस दौरान शहर में होंगे।

Dev Deepawali 2023: देव दीपावली पर काशी के 60 घाटों पर एक साथ होगी गंगा आरती, सीएम योगी भी आ रहे
Yogesh Yadavहिन्दुस्तान,वाराणसीSun, 26 Nov 2023 11:28 PM
ऐप पर पढ़ें

वाराणसी में सोमवार को होने वाली देव दीपावली पर इस बार कहीं राष्ट्रभक्ति तो कहीं रामभक्ति झलकेगी।सीएम योगी, केन्द्रीय मंत्री हरदीप पुरी, प्रभारी मंत्री जयबीर सिंह समेत कई वीआईपी इस दौरान शहर में रहेंगे। पहली बार 70 देशों के राजदूत-प्रतिनिधियों की भी मौजूदगी होगी। शहर में कुल 21 लाख दीये जलाने की तैयारी है। इनमें से 12 लाख दीपों से गंगा के सभी 85 घाट जगमगाएंगे। 1 लाख दीपक गाय के गोबर के भी जलेंगे। इस दौरान 60 घाटों पर गंगा की विशेष आरती होगी। एक अनुमान के अनुसार 8 से 9 लाख पर्यटक देव दीपावली पर रहेंगे। 5.30 बजे पर्यटन मंत्री राजघाट पर महोत्सव का शुभारंभ करेंगे।

 जहां नित्य श्रीविश्वनाथ की ‘त्रिपुरारि’ के रूप में ‘गाङ्गं वारि मनोहारि मुरारि-चरणच्युतम्, त्रिपुरारि-शिरश्चारि पापहारि पुनातु माम्’ से प्रात:वंदना होती है, उस काशी नगरी में सभी देवगण कार्तिक पूर्णिमा को दीपावली मनाने आएंगे। देवों की यह दीपावली सृष्टि में आतंक मचाने वाले त्रिपुरासुर के अंत की खुशी में मनेगी। साथ ही, त्रिपुरासुर का वध करने वाले देवाधिदेव महादेव के प्रति कृतज्ञता भी प्रकट की जाएगी। पुराणकाल से चली आ रही यह परंपरा सोमवार को गंगा के विशाल तट पर फिर जीवंत होगी जबकि उसके विराट स्वरूप का वैभव पूरी नगरी में छाया दिखेगा। 

विश्वनाथ धाम की फूलों से सजावट, पीएम विजिट जैसी सुरक्षा

शिवनगरी ने देवदीपावली उत्सव की तैयारियां पूरी कर ली हैं। इस महोत्सव में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केन्द्रीय पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी और प्रदेश के पर्यटन व जिले के प्रभारी मंत्री जयवीर सिंह समेत कई मंत्री, विधायक व सांसद तो शामिल होंगे ही, पहली बार दुनिया के 70 देशों के राजदूत व प्रतिनिधि भी वैश्विक रूप ले चुके देवदीपावली महोत्सव का आनंद लेंगे। वहीं, देश-विदेश के 8 से 9 लाख पर्यटक भी दुनिया के अनूठे उत्सव का आनंद लेने के लिए शहर में मौजूद रहेंगे। वीवीआईपी के साथ पर्यटकों और स्थानीय लोगों की भीड़ को देखते हुए सुरक्षा के भी वैसे ही चौकस इंतजाम किए गए हैं। 

समय के साथ विस्तार पाते जा रहे इस महोत्सव में इस बार कुल 21 लाख दीप जलाने की तैयारी है। इनमें 12 लाख दीप गंगा के घाटों पर जलाए जाएंगे। इनके अतिरिक्त गोबर से बने एक लाख दीये भी विभिन्न घाटों पर जलाए जाएंगे। महोत्सव के लिए काशी का कोना-कोना उत्साहित है। हर ओर सफाई, सजावट की जा रही है। महोत्सव की पूर्व संध्या पर तिरंगा स्पायरल लाइटिंग से शहर के कई इलाके जगमग हो उठे। 

दोपहर बाद पहुंचेंगे मेहमान
विभिन्न देशों के राजदूत-प्रतिनिधि सोमवार दोपहर बाद एयरपोर्ट आएंगे। वहां से नमो घाट आएंगे। यहां से क्रूज़ पर सवार होकर अस्सी घाट तक देव दीपावली के भव्य नजारों को अपनी स्मृतियों और कैमरों में कैद करेंगे।  एयरपोर्ट पर मेहमानों का भारतीय परंपरानुसार स्वागत होगा। एयरपोर्ट से शहर के बीच विभिन्न स्थानों पर लोक कलाकार सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत करेंगे। स्वागत में तिराहे-चौराहे सजाए जा रहे हैं। विदेशी मेहमान लेजर और क्रैकर शो का भी लुफ्त उठाएंगे। क्रूज पर वे बनारसी खानपान के साथ कुल्हड़ वाली चाय की चुस्की भी लेंगे। 

गंगापार रेत पर भी दीपक रोशन होंगे
राजघाट पर शाम करीब साढ़े पांच बजे पर्यटन, संस्कृति व प्रभारी मंत्री जयवीर सिंह गंगा महोत्सव के मंच पर दीपक जलाकर देव दीपावली का शुभारम्भ करेंगे। फिर गंगा के 85 घाटों और गंगापार रेती के अलावा शहर के कुंडों-तालाबों पर 21 लाख दीप जल उठेंगे। रेत पर शिव पर आधारित भजनों के साथ क्रैकर्स शो और काशी विश्वनाथ धाम के गंगाद्वार और चेतसिंह घाट पर लेजर शो महोत्सव का मुख्य आकर्षण होगा। 

महाआरती बाद अमर योद्धाओं का सम्मान 
देव दीपावली पर दशाश्वमेध घाट की आरती रामलला को समर्पित होगी। यहां रामलला व राम मंदिर की झलक दिखेगी। दशाश्वमेध घाट पर गंगा सेवा निधि की ओर से भारत के अमर वीर योद्धाओं को ‘भगीरथ शौर्य सम्मान’ से सम्मानित भी किया जाएगा। दूसरे घाटों पर गुरुनानक देव और छत्रपति शिवजी महाराज के जीवन संदेश से जुड़े चित्रों का प्रदर्शन दिखेगा। 

डीएम ने तैयारियों का लिया जायजा 
डीएम एस. राजलिंगम ने रविवार को नमो घाट पर देव दीपावली की तैयारियों का स्थलीय निरीक्षण किया। भ्रमण के दौरान अनेक स्थानों पर गंदगी मिलने पर नाराजगी जताई। घाटों की सजावट और लाइटिंग आदि जल्द कराने का निर्देश दिया। उन्होंने विदेशी मेहमानों से संबंधित व्यवस्थाओं की भी जानकारी ली और रातभर में उन्हें मुकम्मल कराने का निर्देश दिया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें