DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  डिप्‍टी सीएम दिनेश शर्मा का दावा- प्राइवेट लैब में कोरोना जांच पर कोई रोक नहीं, प्रदेश में रोज हो रहे 2 लाख से ज्‍यादा टेस्‍ट 

उत्तर प्रदेशडिप्‍टी सीएम दिनेश शर्मा का दावा- प्राइवेट लैब में कोरोना जांच पर कोई रोक नहीं, प्रदेश में रोज हो रहे 2 लाख से ज्‍यादा टेस्‍ट 

लाइव हिन्‍दुस्‍तान टीम ,लखनऊ Published By: Ajay Singh
Tue, 13 Apr 2021 04:28 PM
डिप्‍टी सीएम दिनेश शर्मा का दावा- प्राइवेट लैब में कोरोना जांच पर कोई रोक नहीं, प्रदेश में रोज हो रहे 2 लाख से ज्‍यादा टेस्‍ट 

पूरे देश के साथ उत्‍तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच डिप्‍टी सीएम दिनेश शर्मा ने दावा किया है प्राइवेट लैब में कोरोना जांच पर कोई रोक नहीं है। उन्‍होंने दावा किया कि उत्‍तर प्रदेश में रोज दो लाख से ज्‍यादा कोरोना टेस्‍ट हो रहे हैं। 

डिप्‍टी सीएम ने कहा कि कोरोना का संक्रमण इतनी तेजी से बढ़ा है कि उस पर काबू करने में समय लग रहा है। उन्‍होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर पहली से ज्‍यादा खतरनाक है। फिर भी इस पर तेजी से नियंत्रण कर लिया जाएगा। उन्‍होंने दावा किया कि यूपी सरकार ने बेहतर ढंग से कोरोना से लड़ाई लड़ी है। प्रदेश में कोविड मरीजों के लिए बेड की संख्‍या बढ़ाई जा रही है। उन्‍होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना टेस्‍ट का दायरा दो लाख 12 हजार से ज्‍यादा बढ़ा दिया गया है। डेढ़ लाख से कोविड बेडों का इंतजाम किया गया है। उन्‍होंने कहा कि जल्‍द ही लखनऊ में गाजियाबाद और नोएडा से नए वेंटिलेंटरों की खेप पहुंच रही है। यहां लगातार बेड और सुविधाएं बढ़ाई जा रही हैं। डिप्‍टी सीएम ने कहा कि प्रदेश में बड़ी संख्‍या में डॉक्‍टर भी संक्रमित हुए हैं। 
इसके बावजूद चिकित्‍सा सुविधाएं प्रभावित नहीं होने दी गई हैं। 

दूसरी लहर खतरनाक
डिप्‍टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि कोरोना की ये दूसरी लहर ज्‍यादा खतरनाक है। संक्रमण इतना तेजी से बढ़ा है कि इसे काबू करने में वक्‍त लग रहा है। ऐसा नहीं है कि हम प्रयास नहीं कर रहे हैं लेकिन कोरोना की दूसरी लहर पहली से कहीं ज्‍यादा खतरनाक है। फिर भी यह तय है कि इसे नियंत्रित कर लिया जाएगा। उन्‍होंने कहा प्राइवेट लैब में टेस्टिंग पर कोई रोक नहीं है। हर जगह टेस्टिंग हो रही है। सैकड़ों की संख्‍या में डॉक्‍टरों के संक्रमित पाए जाने के बाद भी प्रदेश में चिकित्‍सा व्‍यवस्‍था प्रभावित नहीं होने पाई है। डिप्‍टी सीएम ने कहा कि 'दुनिया में सबसे पहले कोरोना वैक्‍सीन भारत ने बनाई। अब तक सैकड़ों देशों में यह वैक्सीन भेजी जा चुकी है। देश में वैक्‍सीन की कमी न हो इसकी भी चिंता की जा रही है। केंद्र सरकार जनता और नौजवानों की चिंता कर रही है।'

संबंधित खबरें