ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशकर्ज में डूबे रंगकर्मी ने अपनी मां की गला दबाकर की हत्या, 3 पन्ने का काबूलनामा, थाने में किया सरेंडर

कर्ज में डूबे रंगकर्मी ने अपनी मां की गला दबाकर की हत्या, 3 पन्ने का काबूलनामा, थाने में किया सरेंडर

अयोध्या रामनगरी में कर्ज में डूबे रंगकर्मी ने अपनी मां की गला दबाकर की हत्या कर दी। रंग कर्मी ने बाकायदा तीन पेज का कुबूल नाम लिखकर अपने करीबियों को व्हाट्सएप पर भेज दिया ।

कर्ज में डूबे रंगकर्मी ने अपनी मां की गला दबाकर की हत्या, 3 पन्ने का काबूलनामा, थाने में किया सरेंडर
Deep Pandeyहिन्दुस्तान,अयोध्याFri, 01 Mar 2024 11:02 AM
ऐप पर पढ़ें

एक सनसनीखेज घटनाक्रम में रामनगरी अयोध्या के एक पुराने रंगकर्मी ने अपनी ही मां की गला दबाकर हत्या कर दी। खास यह है कि आधी रात के बाद घटना को अंजाम देकर रंग कर्मी ने बाकायदा तीन पेज का कुबूल नाम लिखकर अपने करीबियों को व्हाट्सएप पर भेज दिया। इसके बाद खुद ही कोतवाली पहुंचकर पुलिस कर्मियों को घटना की जानकारी देते हुए आत्मसमर्पण कर दिया।
 सुबह 6:00 बजे दलबल के साथ पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचकर जांच शुरू कर दी । फॉरेंसिक टीम व आला अफसर ने भी मौके  का मुआयना किया।

शहर कोतवाली क्षेत्र के चौक के पास टेढ़ी गली स्थित मकान में रहने वाले 65 वर्षीय रंगकर्मी गोपाल कृष्ण वर्मा ने अपने कबूल नामें में लिखा कि मैं कर्ज में डूबा हुआ हूं मेरी मां बहुत बीमार है मुझे इसका कष्ट देखा नहीं जा रहा है ,मैं पूरे होशो हवास में अपनी मां की हत्या कर रहा हूं। मुझे इसकी कितनी  भी कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी मैं स्वीकार करूंगा। हालांकि इस बारे में पुलिस अभी कुछ भी कहने से इनकार कर रही है । उधर फॉरेंसिक टीम का कहना है कि प्रथम दृष्टया देखने पर गले में किसी तरह के निशान नजर नहीं आ रहे हैं। मौत की असली वजह पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पता चल पाएगी ।

बताया जाता है कि 4 दशकों पहले शहर में गुलदस्ता सोसाइटी नाम से एक संस्था बनाकर गोपाल कृष्ण वर्मा अपने कुछ साथियों के साथ रंगकर्म में काफी सक्रिय हुआ करते थे। वामपंथी विचारधारा के गोपाल कृष्ण ने एक विवाह भी किया था लेकिन ज्यादा दिनों तक उनकी शादी टिक नहीं पाई।पिछले पंद्रह वर्षों से वो निष्क्रिय थे। फिलहाल वह अपने घर में अपनी पचासी वर्षीय मां, एक अपाहिज भाई समेत दो भाइयों के साथ रहते हैं।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें