ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशहाथ में तख्‍तियां लिए सड़क पर उतरीं की DDU छात्राएं, यूनिवर्सिटी का माहौल गर्म; ये है वजह 

हाथ में तख्‍तियां लिए सड़क पर उतरीं की DDU छात्राएं, यूनिवर्सिटी का माहौल गर्म; ये है वजह 

DDU के छात्रावास खाली कराए जाने और अगले सत्र से नए सिरे से सभी को अलाटमेंट के कथित आदेश का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इस मामले को लेकर लगातार तीसरे दिन छात्राओं का प्रदर्शन जारी रहा।

हाथ में तख्‍तियां लिए सड़क पर उतरीं की DDU छात्राएं, यूनिवर्सिटी का माहौल गर्म; ये है वजह 
Ajay Singhहिन्‍दुस्‍तान,गोरखपुरFri, 24 May 2024 11:04 AM
ऐप पर पढ़ें

Gorakhpur university students protest: दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के छात्रावास खाली कराए जाने और अगले सत्र से नए सिरे से सभी को अलाटमेंट के कथित आदेश का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इस मामले को लेकर लगातार तीसरे दिन छात्राओं का प्रदर्शन जारी रहा। इससे पहले छात्राओं ने महारानी लक्ष्मीबाई छात्रावास से लेकर डीडीयू के मेन गेट तक जुलूस निकाला। लंबे समय बाद किसी मामले को लेकर छात्राएं सड़क पर उतरीं तो शाम होते-होते माहौल गरमाने लगा।

छात्र संगठन दिशा की अंजली के नेतृत्व में करीब 50 छात्राएं अपराह्न साढ़े तीन बजे रानी लक्ष्मीबाई छात्रावास के गेट पर जुटीं। वहां से जुलूस की शक्ल में नारेबाजी करते हुए डीडीयू के मेन गेट पर पहुंचीं। वहां काफी देर तक प्रदर्शन के बाद मुख्य नियंता प्रो. सतीश चन्द्र पाण्डेय को ज्ञापन सौंपा।

छात्राओं ने ज्ञापन में छात्रावास खाली कराने का ़फैसला वापस लिए जाने, छात्रावासों की मरम्मत योजनाबद्ध तरीके से कराए जाने और तब तक छात्राओं को वैकल्पिक व्यवस्था दिए जाने, जो छात्राएं घर जा रही हैं उनके सामान को सुरक्षित रखने के लिए स्टोर रूम की व्यवस्था किए जाने, सीजीपीए के आधार पर हॉस्टल के रिअलाटमेंट का नियम रद किए जाने और लिखित आश्वासन दिए जाने की मांग कर रही थीं। अंजली की दिशा ने कहा कि मांगें नहीं माने जाने पर आंदोलन को तेज किया जाएगा।

दिशा की अंजली ने आरोप लगाया कि नवम्बर महीने में हॉस्टल अलाट हुआ था और मई में खाली करने का फरमान सुना दिया गया। जबकि हॉस्टल फीस पूरे वर्ष के लिए ली जाती है। डीडीयू प्रशासन सभी छात्रावासियों को बाहर का रास्ता दिखाकर नए सिरे से आवंटन करना चाहता है, जबकि एक बार आवंटन होने के बाद नियमित छात्र-छात्राओं को कोर्स पूरा होने तक रीनुअल किया जाता है। लेकिन विवि प्रशासन का कहना है कि इस सत्र से सीजीपीए और छात्राओं के व्यवहार के आधार पर रिअलाटमेंट होगा। धमकी मिली है कि छात्राएं सामान नहीं ले गईं तो बाहर फेंकवा देंगे।

आज कबीर छात्रावास के विद्यार्थियों का प्रदर्शन
संत कबीर छात्रावास में परास्नातक के विद्यार्थी रहते हैं। बताते हैं कि वे शुक्रवार को हॉस्टल खाली कराए जाने के आदेश के विरोध में प्रदर्शन करेंगे।