DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  Coronavirus : सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा- हर जिले में बनाएं आइसोलेशन वॉर्ड

उत्तर प्रदेशCoronavirus : सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा- हर जिले में बनाएं आइसोलेशन वॉर्ड

विशेष संवाददाता, लखनऊ।Published By: Shivendra
Tue, 28 Jan 2020 07:40 AM
Coronavirus : सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा- हर जिले में बनाएं आइसोलेशन वॉर्ड

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चीन में फैले कोरोना वायरस के मद्देनजर अधिकारियों को सतर्कता बरतने के खास निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने ये निर्देश सोमवार को स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए दिए।

मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से कहा कि हर जिला अस्पताल एवं मेडिकल कॉलेज में 10 बेड के आइसोलेशन वॉर्ड बनाए जाएं। इंडो-नेपाल स्पेशल बार्डर पर कड़ी सतर्कता बरती जाए। एयरपोर्ट पर विशेष सतर्कता बरती जाए, खासतौर पर इंटरनेशनल हवाई अड्डों पर, जहां विदेशों से लोग आ रहे हैं। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने ये भी निर्देश दिए कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय से लगातार संपर्क स्थापित करके समन्वय बनाकर सारी कार्रवाई की जाए।

मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य देवेश चतुर्वेदी ने सभी जिलों के सीएमओ को निर्देश दिए हैं कि नोवल कोरोना वायरस-2019' के संक्रमण से बचाव, उपचार एवं रोकथाम के लिए प्रदेश में संवेदनशील देशों की सीमा से सटे जनपदों, प्रमुख पर्यटन स्थलों तथा एयरपोर्ट पर सभी तैयारियां रखी जाएं। ऐसे जनपदों में मरीजों के लिए अलग से आइसोलेशन वॉर्ड, उपचार हेतु दवाओं, चिकित्सकों के प्रयोग में आने वाली सामग्री की पूर्ण व्यवस्था कर ली जाए। वाराणसी और लखनऊ के एयरपोर्ट पर स्थापित चिकित्सा शिविर की सूचना को प्रदर्शित रखा जाए। नेपाल, चीन, थाईलैण्ड और वियतनाम से आने वाले पर्यटकों की जानकारी जिला प्रशासन को उपलब्ध कराने के साथ-साथ उनके अस्वस्थ होने पर सरकारी चिकित्सालयों में ही भर्ती कराया जाए।

Coronavirus : बिहार के बाद उत्तर प्रदेश में भी कोरोना वायरस की आहट

उन्होंने कहा, इस बात का खास ध्यान रखा जाए कि चीन की यात्रा से लौटे अथवा वहां से आए पर्यटक को नजला, सांस लेने में दिक्कत, फ्लू जैसे लक्षण दिखते हैं तो उसका प्राइवेट चिकित्सा न कराकर सरकारी अस्पताल में ही भर्ती कराया जाए। उन्होंने सभी सात एयरपोर्ट पर थर्मल स्कैनिंग की व्यवस्था रखने, बुखार नापने के लिए ओरल थर्मामीटर का प्रयोग न करने, चिकित्सालयों की ओपीडी में संवेदनशील देशों से आए नागरिकों का ब्योरा रखने के भी निर्देश दिए।

संबंधित खबरें