DA Image
12 जुलाई, 2020|10:02|IST

अगली स्टोरी

कोरोना वायरस :रेलवे अब अपने लिए बनाएगा एन-95 मास्क

mask

फेसकवर, कवरऑल और सेनिटाइजर बनाने वाला रेलवे अब एन-95 मास्क बनाएगा। रेलवे अस्पताल के चिकित्सक और स्वास्थ्यकर्मी उच्चकोटि के मास्क का उपयोग करेंगे। 

उत्तर मध्य रेलवे और उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक राजीव चौधरी ने दोनों जोन को एन-95 मास्क बनाने के लिए कहा है। दोनों जोन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग में जीएम ने कहा कि एन-95 मास्क के परीक्षण के बाद स्वास्थ्य विभाग को उपयोग के लिए दिया जाएगा। 
कोरोना वायरस से अधिकारी और कर्मचारियों को बचाने के लिए उत्तर मध्य रेलवे और उत्तर रेलवे ने रीयूजेबल मास्क, सेनिटाइजर बनाना शुरू किया। इसके बाद रेलवे के दोनों जोन कोरोना पीड़ितों का इलाज करने वाले डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों के लिए कवरऑल किट बना रहे हैं। कोरोना पीड़ितों के इलाज के लिए रेलवे ने पहले आईसोलेशन और अब क्वारंटीन कोच भी बनाए हैं। 

उत्तर मध्य रेलवे के सीपीआरओ अजीत कुमार सिंह ने बताया कि उत्तर मध्य रेलवे अबतक डेढ़ लाख तक रीयूजेबल मास्क और आठ हजार लीटर सेनिटाइजर बनाया है। सीपीआरओ के अनुसार कोरोना के इलाज में एन-95 मास्क पूरी किट का अहम हिस्सा है। वीडियो कांफ्रेंसिंग में महाप्रबंधक ने कहा कि आंतरिक स्रोतों से एन-95 मास्क बनाने के लिए कहा।  

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Corona virus Railways will now make N-95 masks for themselves