ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशकांग्रेस ने पाप किया...जनता इमरजेंसी नहीं भूली, आरक्षण को लेकर CM योगी का पलटवार 

कांग्रेस ने पाप किया...जनता इमरजेंसी नहीं भूली, आरक्षण को लेकर CM योगी का पलटवार 

लोकसभा चुनाव के बीच कांग्रेस ने बीजेपी पर दलितों, पिछड़ों और आदिवासियों का आरक्षण छीनने की कोशिश का आरोप लगाया है। इस पर जवाब देते हुए CM योगी आदित्‍यनाथ ने मंगलवार को कांग्रेस पर जमकर हमला बोला।

कांग्रेस ने पाप किया...जनता इमरजेंसी नहीं भूली, आरक्षण को लेकर CM योगी का पलटवार 
Ajay Singhलाइव हिन्‍दुस्‍तान,लखनऊTue, 30 Apr 2024 12:40 PM
ऐप पर पढ़ें

Yogi Adityanath: लोकसभा चुनाव के बीच कांग्रेस ने बीजेपी पर दलितों, पिछड़ों और आदिवासियों का आरक्षण छीनने की कोशिश का आरोप लगाया है। इस पर जवाब देते हुए सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने मंगलवार को कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। गोरखपुर में एएनआई से बात करते हुए सीएम योगी ने कहा कि इससे बड़ा सफेद झूठ और कोई नहीं हो सकता है। 

उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और इंडी गठबंधन से जुड़े हुए जो दल हैं, उनके इतिहास के बारे में भी हर व्यक्ति जानता है। कांग्रेस का इतिहास बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के द्वारा बनाए गए संविधान का गला घोंटने का रहा है। 1950 में देश का संविधान लागू हुआ और कांग्रेस ने लगातार अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को रौंदा। संविधान को अपने तरीके से इस्तेमाल करने का लगातार प्रयास किया। देश की जनता इमरजेंसी को आज भी नहीं भूली है। यह भी देश के संविधान का गला घोंटने जैसा था। 

सीएम योगी ने कहा कि भाजपा धर्म के आधार पर आरक्षण का विरोध करती है। कांग्रेस ने ओबीसी को मिलने वाले आरक्षण पर डाका डाला। इसी में से  मुस्लिमों को आरक्षण दिया। उन्‍होंने कहा कि हम धर्म के आधार पर आरक्षण के खिलाफ हैं। कांग्रेस, सपा और इंडी अलायंस से जुडे हुए इन लोगों की सच्चाई को सभी जानते हैं। 

सीएम ने कहा कि कांग्रेस सच्चर कमेटी की रिपोर्ट को लागू करना चाहती थी। इसकी शुरुआत उसने कर्नाटक से की। वहां पिछडों को मिलने वाले आरक्षण को कांग्रेस ने मुस्लिम दिया। मुस्लिमों को आरक्षण का लाभ देने के लिए पिछड़ों के हक में कटौती की गई। उन्‍होंने पिछले कुछ समय में कांग्रेस छोड़ने वाले नेताओं को लेकर भी तंज कसा और कहा कि कांग्रेस के घोषित प्रत्याशी भी नामांकन वापस लेकर भाजपा में शामिल हो रहे हैं। कांग्रेस नेतृत्व पूरी तरह फेल हो गया है।  

भाजपा जहां मजबूती के साथ लोकसभा चुनाव लड़ रही है वहीं कांग्रेस में एक के बाद एक नेता पार्टी छोड़ रहे हैं। कोई नामांकन वापस ले ले रहा है तो कोई जानबूझकर नामांकन पत्र अधूरा भर रहा है। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस में बेचैनी है। नेता चुनाव नहीं लड़ना चाहते।