ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशआगरा में लू के थपेड़ों से बुरा हाल, धधक रहे मकान, अगले 5 दिन है ये खतरा; अलर्ट जारी

आगरा में लू के थपेड़ों से बुरा हाल, धधक रहे मकान, अगले 5 दिन है ये खतरा; अलर्ट जारी

गर्मी चरम पर है। लू के थपेड़ों से बुरा हाल हो रहा है। मकान धधक रहे हैं। शुक्रवार को दिनभर बाजारों, कॉलोनियों में सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। जैसे- जैसे तापमान बढ़ा एसी और कूलर भी जवाब दे गए।

आगरा में लू के थपेड़ों से बुरा हाल, धधक रहे मकान, अगले 5 दिन है ये खतरा; अलर्ट जारी
Ajay Singhवरिष्ठ संवाददाता,आगराSat, 18 May 2024 10:14 AM
ऐप पर पढ़ें

Agra Weather news: गर्मी चरम पर है। लू के थपेड़ों से बुरा हाल हो रहा है। मकान धधक रहे हैं। शुक्रवार को दिनभर बाजारों और कॉलोनियों में सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। जैसे- जैसे तापमान बढ़ा एसी और कूलर भी जवाब दे गए। गर्मी में बच्‍चों और बुजुर्गों को काफी परेशानी हो रही है। जनजीवन प्रभावित हो गया है। दिहाड़ी कामगारों की तो आफत है। प्रशासन ने अलर्ट जारी कर लोगों को सावधान रहने के लिए कहा है। गर्मी में जरा सी असावधानी आपको बीमार कर सकती है।

ताजनगरी में भीषण गर्मी शुरू हो गई है। अगले पांच दिन हीट स्ट्रोक का खतरा है। रात भी तपने लगी है। मौसम विभाग ने हीट वेव की चेतावनी भी जारी की है। दोपहर में बाहर निकलना बेहद खतरनाक हो सकता है। घर, दफ्तर या कार्यस्थलों के अंदर ही रहना बेहतर रहेगा।

शुक्रवार को अधिकतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री बढ़कर 46.9 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। इस हिसाब से यह सीजन का सबसे गर्म दिन रहा। मौसम विभाग ने अगले पांच दिनों के लिए हीट वेव का अलर्ट जारी किया है। यानि 22 मई तक तापमान अधिक रहेगा और ज्यादा गर्म हवाएं चलेंगी। ऐसे में लू लगने, हीट स्ट्रोक का सबसे ज्यादा खतरा रहता है। सीएमओ डा. अरुण श्रीवास्तव ने बताया कि हीट वेव को देखते हुए जिला, ब्लॉक स्तर पर इलाज की व्यवस्थाएं की गई हैं। अस्पतालों में ओआरएस और आईवी फ्लूड का इंतजाम कराया गया है। मानव संसाधन को भी अलर्ट कर दिया है। सीएचसी और पीएचसी पर जरूरी दवाएं भेजी गई हैं। सभी अस्पतालों में कोल्ड रूम बनाए गए हैं। मई और जून तक सभी केंद्र अलर्ट मोड पर रहेंगे।

रात में भी लोग बाहर निकलने से कतराए

लू की लपटों ने दिन में जो कहर बरपाया उसका असर रात को भी देखा गया। कुछ दिनों से रात को गर्मी से मिलने वाली राहत शुक्रवार को खत्म हो गई। गर्म हवाओं के चलते लोग रात को बाहर निकलने से कतराते दिखे। रात 8 बजे के बाद से सड़कों पर सन्नाटे की स्थिति बनने लगी। शाम को मोहल्लों-अपार्टमेंटों के पार्कों में लगने वाला मजमा शुक्रवार को हल्का पड़ गया।

क्‍या बोले डीएम 
आगरा के डीएम भानु चंद्र गोस्‍वामी ने कहा कि जिले में गर्मी को लेकर 15 दिन पहले ही अलर्ट जारी कर दिया था। शुक्रवार को देशभर में यहां का पारा सबसे ज्यादा रहा। लोगों को चाहिए कि जरूरी होने पर ही घरों से बाहर निकलें। सभी लोग गर्मी से बचाव के लिए अतिरिक्त एहतियात बरतें। लू से बचाव के लिए जरूरी चीजों का ध्यान रखें। स्वास्थ्य विभाग ने अस्तपालों और सीएचसी, पीएचसी पर सारी व्यवस्थाएं दुरुस्त कर ली हैं। 

इस तरह करें बचाव
- प्यास न लगने पर भी बार-बार पानी पिएं, हल्के रंग के सूती कपड़े पहनें
- धूप से बचाव को गमछा, टोपी, छाता, धूप का चश्मा, जूते-चप्पल पहनें
-शराब, चाय, काफी का इस्तेमाल न करें।
- सफर में जाते वक्त अपने साथ ठंडे पानी का पर्याप्त स्टाक करके चलें
- धूप में खड़े वाहनों में अपने बच्चे और पालतू जानवरों को छोड़कर न जाएं
- चेहरे, सिर, गर्दन पर गीला कपड़ा रखें, चक्कर आए तो डाक्टर को दिखाएं
- घर में बनाए गए लस्सी, शिकंजी, छाछ, नींबू पानी और आम का पना पिएं
- खाना बनाते समय घर के साथ रसोई के दरवाजे और खिड़कियां खुले रखें
- प्रोटीन युक्त खाना न खाएं, बासी भोजन न करें, हल्का खाना ही खाएं
- खिड़कियों को रिफलेक्टर, एल्युमिनियम की पन्नी, गत्ते से ढंककर रखें
- जिन खिड़कियों से गर्म हवाएं आती हैं वहां पर्दे लगाएं