DA Image
17 सितम्बर, 2020|4:33|IST

अगली स्टोरी

पुलिस के पास पहुंची शिकायत : कानपुर के एक हिस्ट्रीशीटर के पास है विकास दुबे का खजाना

complaint reached by police vikas dubey treasure historysheeter in kanpur

25 साल से दहशत का पर्याय रहे विकास दुबे की मौत के बाद कानपुर के चौबेपुर थाने में उसके खिलाफ कई शिकायती पत्र पहुंच रहे हैं। चौबेपुर थाने में अभी तक सौ से ज्यादा शिकायती पत्र पहुंच चुके हैं। इसमे कई गुमनाम विकास के गुर्गों के खिलाफ शिकायती पत्र पहुंचे है। इनकी जांच पुलिस ने शुरू कर दी है। 

ब्रह्मनगर के सक्षम अवस्थी ने एक शिकायती पत्र भेजा है। सक्षम ने आरोप लगाया कि उसने लखनऊ एसआईटी टीम के सामने बयान दिए हैं। इसके बाद विकास व जय बाजपेई के गुर्गे धमकी दे रहे हैं।  चौबेपुर कार्यवाहक इंचार्ज देवेंद्र सिंह ने बताया कि सभी शिकायती पत्रों की जांच की जा रही है। कुछ शिकायती पत्रों की गोपनीय जांच की जा रही है। 

शहर के एक हिस्ट्रीशीटर के पास है विकास का खजाना
पुलिस के हाथ एक ऐसा शिकायती पत्र लगा है। जो काफी चौकाने वाला है। इस शिकायती पत्र में कानपुर  के एक हिस्ट्रीशीटर का जिक्र किया गया है। करीब सात पन्नों के इस शिकायती पत्र में बताया गया कि विकास दुबे का सबसे खास गुर्गा है। जिसके पास विकास दुबे खजाना रहता था। कई बेमानी संपत्तियों का ब्योरा रहता है। विकास की करोड़ों की ज्वैलरी भी वहीं रखी जाती थी। साथ ही विकास के कई गुर्गे शहर में रहकर काम करते थे। कई जिलों में जमीने हैं। इस शातिर को पकड़ने से काफी बड़ा मामला सामने आ सकता है। पुलिस इसकी गोपनीय जांच कर रही है। 

जय के फरार भाइयों के दरवाजे पर बजी मुनादी
विकास दुबे के गुर्गे जय के फरार तीनों भाइयों के घर के बाहर मंगलवार को पुलिस ने मुनादी बजवाई। मानों पर कार्रवाई करते हुए कुर्की की उद्घोषणा का नोटिस चस्पा किया गया। तीनों को हाजिर होने के लिए दो हफ्ते का समय दिया गया है। सरेंडर न करने पर मकान की कुर्की की जाएगी। नजीराबाद और अर्मापुर फोर्स शोभित, अजयकांत और रजयकांत के घर पर पहुंची। इस दौरान लोग छज्जे से झांकते रहे। इंस्पेक्टर नजीराबाद ने इसकी पुष्टि की। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Complaint reached by police Vikas Dubey treasure historysheeter in Kanpur