ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशसोशल मीडिया पर बारीक नजर रखें, भ्रामक खबरों पर सख्ती बरतें, सीएम योगी का अफसरों को निर्देश  

सोशल मीडिया पर बारीक नजर रखें, भ्रामक खबरों पर सख्ती बरतें, सीएम योगी का अफसरों को निर्देश  

पीएम नरेंद्र मोदी के दौरे की तैयारियों का जायजा लेने सीएम योगी शुक्रवार को वाराणसी पहुंचे। इस दौरान अधिकारियों को सोशल मीडिया पर कड़ी नजर रखने और भ्रामक खबरों पर सख्ती का आदेश दिया।

सोशल मीडिया पर बारीक नजर रखें, भ्रामक खबरों पर सख्ती बरतें, सीएम योगी का अफसरों को निर्देश  
Yogesh Yadavलाइव हिन्दुस्तान,वाराणसीFri, 14 Jun 2024 11:13 PM
ऐप पर पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे की तैयारियों का जायजा लेने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को वाराणसी पहुंचे। इस दौरान अधिकारियों के साथ बैठक में कानून व शांति व्यवस्था को लेकर कहा कि सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर बारीक नजर रखें। भ्रामक खबरों पर सख्ती बरतें। उन्होंने कहा कि पीआरवी और पिकेट की तैनाती प्रभावी तरीके से करें। जिससे महिलाएं और आमजन पूरी तरह भयमुक्त होकर आवागमन कर सकें। मुख्यमंत्री बैठक से पहले मेहंदीगंज मड़ई में प्रधानमंत्री कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण भी किया। मुख्यमंत्री ने सूबे में लड़खड़ाई बिजली आपूर्ति व्यवस्था को लेकर सख्त संकेत दिए। उन्होंने कहा कि शेड्यूल के मुताबिक निर्बाध पॉवर सप्लाई की जाए। शहर-गांव कहीं भी किसी हालत में बिजली नहीं कटनी चाहिए। अन्यथा छोटे से बड़े सभी अफसरों की जवाबदेही तय की जाएगी। 

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री के 18 जून के प्रस्तावित वाराणसी दौरे की तैयारियों की सर्किट हाउस सभागार में समीक्षा की। योगी ने कहा कि वरुणा की साफ-सफाई के लिए नगर निगम और सिंचाई विभाग मिलकर काम करे। शहर में पेयजल को लेकर कोई दिक्कत नहीं आनी चाहिए। नवशहरी क्षेत्रों में अमृत योजना-2 के तहत पेयजल और सीवर संबंधी कार्यों में अपेक्षित प्रगति नहीं मिलने पर असंतोष जताया। जल जीवन मिशन योजना के कार्यों को जल्द पूरा कराने के लिए निगरानी के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कार्यों में गुणवत्ता और समयावधि का पूरा ध्यान रखा जाए। 

बाबा का दर्शन कर रोपवे परियोजना का निरीक्षण
सीएम ने काशी विश्वनाथ और कालभैरव मंदिर में दर्शन-पूजन किया। तत्पश्चात निर्माणाधीन रोपवे परियोजना का स्थलीय निरीक्षण भी किया। निरीक्षण के दौरान रोप-वे परियोजना कार्य के प्रगति के संबंध में विस्तृत जानकारी लेते हुए उन्होंने युद्ध स्तर पर समय से कार्य पूर्ण कराए जाने पर विशेष जोर दिया। 

बताते चले कि काशी रोप-वे भारत के वाराणसी, उत्तर प्रदेश में एक निर्माणाधीन हवाई केबल कार शहरी पारगमन प्रणाली है। यह भारत का पहला सार्वजनिक परिवहन रोपवे होगा। यह वाराणसी छावनी रेलवे स्टेशन को गोदौलिया चौक से जोड़ने वाले पांच स्टेशनों के साथ 3.75 किमी लंबा होगा। इसके मई 2025 में खुलने की उम्मीद है। रोप-वे के निर्माण के लिए स्विटजरलैंड से लाए गए उपकरण इंस्टाल किए जा रहे हैं। यह काम स्विट्जरलैंड की कंपनी बर्थोलेट कर रही है।

निरीक्षण के दौरान उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही, स्टाम्प एवं न्यायालय पंजीयन शुल्क राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविन्द्र जायसवाल, आयुष एवं खाद्य सुरक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ दयाशंकर मिश्र 'दयालु', महापौर अशोक तिवारी, पूर्व मंत्री एवं विधायक डॉ नीलकंठ तिवारी, विधायक सौरभ श्रीवास्तव, विधायक डॉ अवधेश सिंह, विधायक सुशील सिंह के अलावा विभागीय अधिकारी एवं कार्यदायी संस्था के अभियंता प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।