DA Image
5 अप्रैल, 2021|3:15|IST

अगली स्टोरी

भू-माफियाओं से यूपी में मुक्त कराई गई 67000 हेक्टेयर जमीन, सीएम योगी बोले-बना रहे खेल मैदान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि भू-माफियाओं के चंगुल से जमीनें मुक्त कराकर वहां खेल के मैदान विकसित कराया जा रहा है ताकि गांवों में बच्चों एवं युवाओं का शारीरिक एवं मानसिक विकास और बेहतर हो सके। प्रदेश में अब तक 67000 हेक्टेयर से ज्यादा भूमि खाली कराई जा चुकी है। हमारी कोशिश है कि ग्राम पंचायत स्तर पर प्राथमिक विद्यालयों के नजदीक खेल मैदान बनाए जाएं। 

मुख्यमंत्री ने ये बातें विधान परिषद में प्रश्नकाल के दौरान सदस्य सुरेश कुमार त्रिपाठी द्वारा खेल एवं युवा कल्याण मंत्री से पूछे गए सवाल के दौरान कही। दरअसल अनुपूरक सवालों का युवा कल्याण राज्यमंत्री उपेंद्र तिवारी सही प्रकार से जवाब नहीं दे पा रहे थे। तभी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीच में हस्तक्षेप करते हुए कहा कि प्रश्न सीधा सरल और समसामयिक था तो उत्तर भी उसी प्रकार से दिया जाना चाहिए था। उन्होंने कहा कि राज्य वित्त और ग्राम पंचायत निधि से गांव में खुले जिम स्थापित कराए जा रहे हैं। सभी जिलों के डीएम से कहा गया है कि विद्यालयों के पास सरकारी या ग्राम पंचायत की भूमि नहीं होने पर एक्सचेंज के आधार पर जमीन लेकर स्कूलों के एकदम करीब खेल के मैदान बनाए जाएं।

उन्होंने कहा ग्रामीण क्षेत्रों में खेलों को प्रोत्साहित करने के लिए राज्य सरकार की स्पष्ट नीति रही है। इसीलिए सरकार की ओर से सार्वजनिक क्षेत्र की जमीनों को अवैध कब्जों से मुक्त कराने के लिए एंटी भू-माफिया अभियान चलाए गए, जिसके माध्यम से 67000 हेक्टेयर भूमि को मुक्त किया जा चुका है। कहा कि अब तक हजारों ग्राम पंचायतों में खेल मैदान बनवाए जा चुके हैं। युवक व महिला मंगल दलों की स्थापना हो चुकी है। उन्हें स्पोर्ट्स किट्स दिए जा रहे हैं। खेल के प्रति जागरूकता लाने के लिए हर जिले में आयोजन हो रहे हैं। सरकार खेलों के प्रति पूरी तरह से संवेदनशील है। 

इससे पूर्व सुरेश कुमार त्रिपाठी ने सवाल किया था कि ग्रामीण क्षेत्र के बच्चों एवं युवाओं को खेल के क्षेत्र में प्रोत्साहित करने एवं उनके सर्वांगिण विकास के लिए गांवों में खेल के मैदान या निमी स्टेडियम खोले जाने की क्या कार्य योजना है? श्री योगी ने श्री त्रिपाठी के प्रश्न की तारीफ करते हुए कहा कि पिछली सरकारों में सार्वजनिक और निजी क्षेत्र की जमीन पर सत्ता के संरक्षण या अन्य किन्हीं कारणों से कब्जा किया गया। सत्ता में आने पर हमने जमीनें खाली करवाईं। 

खेल मैदान योजना पर उठे सवाल
इस मुद्दे पर चर्चा के दौरान कांग्रेस सदस्य के दीपक सिंह ने कहा कि सरकार ने खेल मैदान के नाम पर लूडो-शतरंज केंद्र स्थापित कर दिए हैं। सपा सदस्य सुनील साजन ने कहा कि उन्नाव में उनके गांव हिलौली में भी ढाई करोड़ रुपये खर्च करने के बाद स्टेडियम अधूरा है। 98 लाख रुपये का भ्रष्टाचार हुआ है। उन्होंने इसे पूरा कराने और दोषियों को सजा दिलाने की भी मांग की। सपा सदस्यों ने कहा कि अखिलेश यादव और मुलायम सिंह की सरकार में काफी छोटे-बड़े स्टेडियम बनाए गए। युवा कल्याण राज्यमंत्री उपेंद्र तिवारी ने कहा कि आजादी के बाद 73 सालों में 80 स्टेडियम बने जबकि हमारी सरकार के चार साल के कार्यक्रम में 38 स्टेडियम बन चुके हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:CM Yogi instructed to play ground for children on land freed from land mafia