DA Image
6 जुलाई, 2020|4:30|IST

अगली स्टोरी

सीएम योगी अब विभागवार लेंगे दो सालों के काम का हिसाब

offer  chief minister  angry

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खास विभागों से खास लक्ष्य हासिल करने के सवाल पर उनका हिसाब लेंगे। यह सवाल एसडीजी गोल 2030 से जुड़े हुए हैं। सीएम हर लक्ष्य के लिए संबंधित विभाग की ओर से प्रस्तुतिकरण देखेंगे। इन विभागों को यूपी में वित्तीय वर्ष 2017 -18, 2018-19  में किये गये कार्य व  2019-20 के लिए बनाई गई कार्य योजना को बताना होगा। असल में एसडीजी गोल (ससटेनबल डवलपमेंट गोल)  2030  के तहत नीति आयोग ने यूपी के अहम विभागों को खास जिम्मेदारी दी है।

कांग्रेस में इस्तीफों का दौर जारी, यूपी में कई पदाधिकारी पद से हटे

गरीबी उन्मूलन का जिम्मा ग्राम्य विकास के पास है तो भूख का खात्मा करने का जिम्मा कृषि विभाग का है। स्वास्थ विभाग के पास स्वास्थ्य व बेहतर जीवन, सिंचाई विभाग के पास साफ पेयजल, स्वच्छता की जिम्मेदारी है। इसी तरह 17 विभागों को अलग अलग जिम्मेदारी दी गई है। खास बात यह है कि शैक्षिक सुधार के लिए यूपी के शिक्षा विभाग को बताया गया है कि प्राथमिक व माध्यमिक में नेट इनरोलमेंट को सुधारने की जरूरत है। कक्षा पांच के बच्चों में भाषा, गणित में सुधार करना है। एसडीजी गोल (ससटेनबल डवलपमेंट गोल) 2030 केंद्र सरकार का खास एजेंडा है।

युवक को मुस्लिम समझ दफनाया, सच्चाई सामने आई तो शव कब्र से बाहर निकाला 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:CM Yogi adityanath will ask for account of two years from top department