DA Image
15 जुलाई, 2020|2:02|IST

अगली स्टोरी

यूपी : सीएम योगी आदित्यनाथ ने हर जिले में कोरोना जांच के निर्देश दिए

yogi adityanath

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं कि नोएडा, सहारनपुर और ग्रेटर नोएडा में जांच केंद्र जरूर बना लिए जाएं। हर जिले में टेस्टिंग शुरू कर दी जाए। आयुष विभाग द्वारा नया एप बनाया जाए जिससे राहत, बचाव और जागरूकता के बारे में बताया जा सके। अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी और प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित प्रसाद ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री के निर्देशों की जानकारी एक संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में दी।

अवनीश अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने यह भी कहा है कि पहले जो लोग 14 दिन के क्वारंटीन को पूरा कर चुके हैं उन्हें होम कोरनटाइन में भेज दिया जाए। जिन इलाकों के बैंकों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा है। उन पर सख्ती से इसका पालन कराने के निर्देश दिए गए हैं। मास्क के लिए एडवाइजरी जारी कर दी गई है।

बिना मास्क के निकलें तो करें सख्त कार्रवाई
बिना मास्क के लोग मिलेंगे तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने मीडिया से अपील करते हैं कि वह सभी लोगों को मास्क पहनने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को जो बैठक की है, उसमें कोविड-19 के सील इलाकों पर चर्चा की।

13208 पर दर्ज की एफआईआर
लाकडाउन के उल्लंघन में 13208 एफआईआर दर्ज की गई हैं। धारा -188 के तहत 42 हजार 359 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है। अब तक 5.87 करोड़ रुपये चालान के रूप में जमा कराया जा चुका है। मुख्यमंत्री ने जो आज हॉटस्पॉट इलाकों का रिव्यू किया है इन इलाकों में काफी तेजी से प्रगति हुई है।

50 लाख लीटर दूध का उत्पादन हुआ
उन्होंने बताया कि 50 लाख लीटर दूध उत्पादन हुआ है। इस बार 33 लाख लीटर दूध वितरित किया गया। तीन करोड़ पचास लाख 99 लाख 975 में से दो करोड़ 75 लाख 69 हजार 119 राशन कार्डों राशन का वितरण किया गया है।

सात लाख फूड पैकेट बांटे
कम्युनिटी किचन के माध्यम से सात लाख से ज्यादा फूड पैकेट बांटे गए हैं कुल 11 लाख फूड पैकेट्स बांटे गए हैं। अब तक कुल हॉटस्पॉट के इलाकों में अलग से व्यवस्था कर दी गई है। अब तक 265 अलग-अलग जगहों पर दूध व फूड डिलीवरी कराई गई है।

दान के इच्छुक एनआरआई के लिए व्यवस्था कराएं: योगी
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि यूपी कोविड केयर फण्ड में योगदान के इच्छुक विदेशों में रहने वाले व्यक्तियों के लिए भी प्रावधान किए जाएं। राशन वितरण के दौरान एवं बैंकों में सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन सुनिश्चित कराया जाए। मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को सरकारी आवास पर कोरोना वायरस कोविड-19 पर नियंत्रण के लिए लागू लॉकडाउन व्यवस्था और लॉकडाउन के दौरान जनसामान्य को राहत सहित सभी आवश्यक सामग्री व सुविधाएं सुलभ कराने के लिए चल रहे कार्यक्रमों की समीक्षा की।

121 हॉट स्पॉट में 111 एफआईआर दर्ज
अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि प्रथम चरण में प्रदेश के 15 जिलों में कोरोना की दृष्टि से चिह्नित सभी 121 हॉट स्पॉट पर सख्ती बरती जा रही है। इन क्षेत्रों के 704 स्थानों पर बैरिकेडिंग की व्यवस्था की गई है। लॉक डाउन का उल्लंघन कर रहे 1658 वाहनों का चालान करके 289 वाहनों को जब्त किया गया है। इसी तरह धारा 188 के तहत आपदा प्रबंधन अधिनियम/एपिडेमिक अधिनियम में 111 एफआईआर दर्ज की गई है। उन्होंने बताया कि हॉट स्पॉट क्षेत्रों में अब तक 124581 मकानों में रहने वाले 758669 व्यक्तियों को चिह्नित किया गया है। इन क्षेत्रों में 308 कोरोना पॉजीटिव व्यक्ति हैं और 1516 कोरोना संदिग्ध व्यक्तियों में से 1433 व्यक्ति संस्थागत क्वारंटीन में रखे गए हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:CM Yogi Adityanath gave instructions for coronavirus test in every district of Uttar Pradesh