DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  कोरोना की तीसरी वेब से बचने के लिए सीएम योगी का एक्शन प्लान, महिलाओं और बच्चों के लिए 2200 एंबुलेंस रिजर्व
उत्तर प्रदेश

कोरोना की तीसरी वेब से बचने के लिए सीएम योगी का एक्शन प्लान, महिलाओं और बच्चों के लिए 2200 एंबुलेंस रिजर्व

हिन्दुस्तान टीम ,मेरठ नोएडा Published By: Amit Gupta
Sun, 16 May 2021 08:29 PM
 कोरोना की तीसरी वेब से बचने के लिए सीएम योगी का एक्शन प्लान, महिलाओं और बच्चों के लिए 2200 एंबुलेंस रिजर्व

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कोरोना की तीसरी लहर से निबटने के लिए प्रदेश में 2200 एंबुलेंस महिलाओं और बच्चों के लिए रिजर्व कर दी गई हैं। गांव सरकार की पहली प्राथमिकता पर है। गांवों में टेस्टिंग की सुविधा बढ़ाई जा रही है और लक्षण वाले सभी लोगों को मेडिकल किट दी जाएगी। गांवों में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। तीसरी लहर से निपटने के लिए प्रदेश में अभी से विशेषज्ञों की उच्च स्तरीय समिति का गठन कर दिया गया है। मुख्यमंत्री ने मेरठ मंडल में 35 ऑक्सीजन प्लांट लगाने की भी घोषणा की।

रविवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहले नोएडा ( गौतमबुद्धनगर) और उसके बाद मेरठ पहुंचे। दोनों स्थानों पर अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक की। मेरठ के बिजौली गांव में उन्होंने लोगों से वार्ता कर जनपद का हाल जाना। साथ ही उन्होंने कोविड कमांड कंट्रोलरूम और पुलिस कोविड अस्पताल का निरीक्षण भी किया। मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि गांवों में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाए जा रहे हैं। सरकार कोरोना से लगातार लड़ाई लड़ रही है। तीसरी लहर को लेकर लगातार आशंकाएं व्यक्त की जा रही हैं। सरकार लगातार कार्रवाई कर तीसरी लहर से मुकाबले के लिए प्रदेश को तैयार कर रही है। बच्चों के लिए हर मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पतालों में उपचार की बेहतर व्यवस्था कराई जा रही है।


सोमवार से 23 जिलों में 18 प्लस वालों को टीका
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सोमवार से यूपी के 23 और जिलों में टीकाकरण प्रारंभ होगा। तीसरी लहर को देखते हुए टीकाकरण पर विशेष जोर दिया जा रहा है। पहले 18 से 44 वर्ष के लिए टीकाकरण सबसे अधिक प्रभावित आठ जिलों में खोला गया। उसके बाद इसे 11 मंडल मुख्यालयों में किया गया। अब सोमवार से 23 जिला मुख्यालयों में टीकाकरण होगा।

प्रदेश में एक्टिव केस कम हुए
मुख्यमंत्री ने कहा कि महाराष्‍ट्र और दिल्‍ली में जब केस बढ़े तो विशषज्ञों ने चिंता व्‍य‍क्‍त की लेकिन कोरोना योद्धाओं के साहस और लोगों के सहयोग से प्रदेश ने तमाम आशंकाओं को निर्मूल साबित किया। सीएम ने कहा कि पिछले 15 दिनों के अंदर 1.45 लाख एक्टिव केस कम हुए हैं। पहले प्रदेश में टेस्‍ट की सुविधा नहीं थी, लेकिन अब ढाई से तीन लाख तक टेस्‍ट कर सकते हैं।

गौतमबुद्ध्रनगर में किसी के इलाज को मना नहीं किया जा सकता है
गौतमबुद्धनगर में मुख्यमंत्री ने कहाकि यह जिला दिल्ली से सटा हुआ है और यहां पर हर क्षेत्र के लोग रहते हैं, यहां पर सभी को इलाज मिलेगा और किसी को भी इलाज के लिए मना नहीं किया जा सकता। यहां पर तीन नए ऑक्सीजन प्लांट सरकार स्वीकृत कर चुकी है और ऑक्सीजन या अन्य किसी भी तरह की यहां पर कोई समस्या नहीं होने दी जाएगी।   
 

संबंधित खबरें