DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डिफेंस कॉरीडोर की बैठक में बोले सीएम, प्रगतिशील राज्यों में खड़ा होगा बुन्देलखण्ड- VIDEO

झांसी में डिफेंस कॉरीडोर की पहली बैठक में सीएम योगी, रक्षा मंत्री और केन्द्रीय मंत्री उमा भारती

देश के प्रगतिशील प्रदेशों में बुन्देलखण्ड को खड़ा करना है। रोजगार सृजन की द़ृष्टि से बुन्देलखण्ड काफी अहम है। आर्थिक रूप से पिछड़े बुन्देलखण्ड और पूर्वांचल का औद्योगिक विकास करना है, जिससे पलायन रुक सके और लोगों को रोजगार भी मिल सके। यह बात मुख्यमंत्री ने झांसी होटल में रक्षा मंत्री निर्मला सीता रमण, केन्द्रीय मंत्री उमा भारती और झांसी प्रभारी मंत्री राजेन्द्र प्रसाद मोती सिंह की मौजूदगी में कही। 
मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने कहा कि इन्वेस्टर मीट के दौरान प्रधानमंत्री ने डिफेंस कॉरीडोर घोषणा की। इसके लिए तैयारियों का जायजा लिया गया और भारत सरकार को प्रस्ताव भेजा गया। रोजगार सृजन के लिए बुन्देलखण्ड मायने रखता है। बुन्देलखण्ड और पूर्वांचल आर्थिक रूप से पिछड़े हैं। यहां पलायन की समस्या है। इनका औद्योगिक विकास होगा और युवाओं की ऊर्जा को राष्ट्र निर्माण में लगाया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि 6 स्थल चिन्हित किए गए हैं और 6 हजार हैक्टेयर जमीन दे दी गई है, जिसमें डिफेंस कोरिडोर स्थापित होगा। 
प्रदेश के अंदर इस पर फोकस करेंगे, जिससे देश के प्रगतिशील प्रदेशों में बुन्देलखण्ड को खड़ा किया जा सके। बैठक में उपस्थित रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि प्रधानमंत्री ने घोषणा की थी जिसके तहत एसआईडीएम (सिक्योरिटी इंडस्ट्रीज डिफेंस मिनिस्ट्रीज) के तहत छोटे और मध्यम उद्योगों के बीच समन्वय से उन्हें समानता का अधिकार मिलेगा। इस दौरान उपस्थित केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा कि इजरायल की तरह बुन्देलखण्ड की जलवायु है। फूड प्रोसेसिंग यूनिट लग रही है और क्रांति पथ बन रहा है। इससे 20 लाख लोगों को प्रदेश में रोजगार मिल सकेगा। फूड प्रोसेसिंग के दौरान 40 हजार लोगों को ट्रेनिंग दी जाएगी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CM Speaking at the Defense Corridor meeting Bundelkhand will stand in progressive states