ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशपश्चिमी यूपी में किसानों और पुलिस के बीच झड़प, बैरिकेडिंग तोड़ ट्रैक्टर लेकर कलेक्ट्रेट में घुसे

पश्चिमी यूपी में किसानों और पुलिस के बीच झड़प, बैरिकेडिंग तोड़ ट्रैक्टर लेकर कलेक्ट्रेट में घुसे

भारतीय किसान यूनियन के आह्वान पर बुधवार को पश्चिमी यूपी के किसान ट्रैक्टर लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचे गए। वहीं कुछ जिलों में किसानों और पुलिस के बीच झड़प भी देखने को मिली।

पश्चिमी यूपी में किसानों और पुलिस के बीच झड़प, बैरिकेडिंग तोड़ ट्रैक्टर लेकर कलेक्ट्रेट में घुसे
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,मेरठWed, 21 Feb 2024 09:33 PM
ऐप पर पढ़ें

भारतीय किसान यूनियन के आह्वान पर बुधवार को वेस्ट यूपी में किसान ट्रैक्टर लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचे। कई जिलों में किसानों की पुलिस से झड़प भी हुई। मेरठ में किसान बैरिकेडिंग तोड़ते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे। यहां किसानों के साथ खुद ट्रैक्टर चलाकर पहुंचे राकेश टिकैत ने कहा कि किसानों पर हो रहे अत्याचार बर्दाश्त नहीं करेंगे। आंदोलन की अगली रणनीति को लेकर आज चंडीगढ़ में होने वाली संयुक्त किसान मोर्चे की महापंचायत में चर्चा कर फैसला करेंगे।

मेरठ में राकेश टिकैत सैकड़ों ट्रैक्टरों के साथ पुलिस की घेराबंदी तोड़कर कलेक्ट्रेट में घुसकर 15 मांगों को लेकर प्रदर्शन कर धरना दिया। पथिक सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुखिया गुर्जर एवं मेरठ बार एसोसिशन के महामंत्री अमित दीक्षित ने राकेश टिकैत को किसान आंदोलन में अपना समर्थन दिया। इस दौरान राकेश टिकैत ने पंजाब के किसानों पर आंसू गैस के गोले दागने की कड़े शब्दों में निंदा की। 

चंडीगढ़ में संयुक्त किसान मोर्चे की महापंचायत में करेंगे ऐलान

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि यदि सरकार ने किसानों की मांगे नहीं मानीं तो देशभर में आंदोलन होगा। किसानों से एकजुट और आंदोलन के लिए तैयार रहने की अपील की। उन्होंने कहाकि जमीन बचाने के लिए आंदोलन जरूरी है और आंदोलन से ही जमीन बचेगी। किसानों को एमएसपी कानून की गांरटी, फसलों का वाजिब मूल्य, गन्ना भुगतान, हक और अधिकार चाहिए। उन्होंने कहाकि फिलहाल दिल्ली कूच नहीं कर रहे, लेकिन जरूरत पड़ी तो वह किसानों के साथ दिल्ली कूच करेंगे। चंडीगढ़ में संयुक्त किसान मोर्चे की महापंचायत में आगे की रणनीति का ऐलान करेंगे। इस दौरान उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के बयान को भाजपा तोड़ मरोड़कर पेशकर कर रही है। जयंत चौधरी को लेकर कहा कि एनडीए में शामिल होने के फैसले को लेकर वही कुछ बताएंगे। किसान भी सभी दलों से जुड़े हैं और चुनाव में अपनी मर्जी और विचारधारा के मुताबिक वोट करेंगे। किसान नोटा नहीं दबाएगा।  

मुजफ्फरनगर में किसान ने खुद पर छिड़का पेट्रोल

मुजफ्फरनगर में भारतीय किसान यूनियन ने शहर में ट्रैक्टर मार्च निकालकर करीब तीन घंटे तक कलक्ट्रेट का घेराव कर धरना दिया। ट्रैक्टर खड़ी करने को लेकर एसएसपी कार्यालय के बाहर किसानों ने हंगामा भी किया। धरने के दौरान एक किसान ने खुद पर पेट्रोल डाल कर आत्मदाह का प्रयास किया, जिसे पुलिस और अन्य लोगों ने बचा लिया। बागपत में कार्यकर्ताओं ने मार्च निकलते हुए ट्रैक्टरों के साथ कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। बुलंदशहर में भाकियू टिकैत गुट के पदाधिकारियों ने ट्रैक्टर मार्च निकाला। शामली और हापुड़ में भी भाकियू कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। सहारनपुर में किसानों ने कलक्ट्रेट परिसर के मुख्य गेट पर प्रदर्शन किया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें