DA Image
20 फरवरी, 2021|8:56|IST

अगली स्टोरी

चिन्मयानंद केसः बिना अनुमति के घर से निकली छात्रा, एसआईटी ने घेरा

स्वामी चिन्मयानंद पर रेप का आरोप लगाने वाली छात्रा से एसआईटी ने आज मंगलवार को काफी देर तक पूछताछ की। हुआ यूं कि पीड़िता अपने भाई और सुरक्षा के लिए मिले गनर के साथ कोर्ट जा रही थी। जैसी ही जानकारी मिली कि छात्रा बिना अनुमति के घर से बाहर निकली है, एसआईटी ने बीच रास्ते ही छात्रा को घेर लिया। एसआईटी ने छात्रा को खिरनीबाग चौराहा पर रोक लिया और उससे पूछताछ की। छात्रा ने बताया कि वह कोर्ट में हस्ताक्षर करने जा रही थी। इस पर एसआईटी ने उसके आसपास फोर्स तैनात कर दी और सुरक्षा घेर में ही कोर्ट तक जाने को कहा। एसआईटी ने जरूरी लिखा-पढ़ी कर छात्रा को फोर्स के साथ घर जाने को कहा।

हल्ला उड़ा हिरासत का

एसआईटी के छात्रा से बीच रास्ते पूछताछ करते ही पूरे क्षेत्र में हल्ला उड़ गया कि छात्रा को एसआईटी ने हिरासत में लिया है। बताते चलें कि स्वामी पर रेप का आरोप लगाने वाली छात्रा पर रंगदारी मांगने का आरोप है। लोगों में तेजी से चर्चा फैलने लगी कि एसआईटी ने छात्रा को घर से हिरासत में लिया है।

छात्रा के आरोपी दोस्त जेल में

चिन्मयानंद के अधिवक्ता ओम सिंह की ओर से कथित पीडि़ता और उसके तीन दोस्‍तों के खिलाफ मोबाइल फोन के जरिये 5 करोड़ की रंगदारी मांगने का मामला दर्ज कराया गया था। उसके बाद सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में कथित तौर पर वह लड़की अपने तीन दोस्तों के साथ रंगदारी को लेकर बातचीत करती देखी गयी थी। इस मामले में लड़की के आरोपी दोस्‍तों संजय, विक्रम तथा सचिन को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। 

छात्रा के गिरफ्तारी की मांग

बलात्‍कार के आरोप में गिरफ्तार किये गये पूर्व केन्‍द्रीय गृह राज्‍यमंत्री स्‍वामी चिन्‍मयानंद से रंगदारी मांगने के मामले में पीड़िता की भी गिरफ्तारी की मांग उठी थी। भारतीय जनता पार्टी के पूर्व विधान पार्षद जयेश प्रसाद ने चिन्‍मयानंद से जेल में मुलाकात के बाद लड़की पर रंगदारी के आरोप लगाए थे। उन्होंने चिन्मयानंद की ओर से दर्ज कराए गए रंगदारी वसूली के प्रयास के मुकदमें के आरोपियों में लड़की के भी शामिल होने की बात कही थी। उन्होंने मांग की थी कि छात्रा को उसके तीन साथियों के साथ गिरफ्तार किया जाना चाहिये।

फ्लैशबैक

गौरतलब हो कि शाहजहांपुर स्थित स्वामी सुखदेवानंद विधि महाविद्यालय में एलएलएम की एक छात्रा ने 24 अगस्त को एक वीडियो वायरल करके स्वामी चिन्मयानंद पर गंभीर आरोप लगाए थे। बाद में मीडिया के सामने उसने चिन्‍मयानंद पर बलात्‍कार का आरोप लगाया था। चिन्‍मयानंद को इस मामले में हाल में गिरफ्तार कर लिया गया था। उच्‍चतम न्‍यायालय के आदेश पर गठित एसआईटी प्रकरण की जांच कर रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Chinmayanand case girl student who accuses Swamy of rape in SIT custody may increase difficulties