Tuesday, January 25, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशविदेश में रोजगार के नाम पर ठगी, 80-80 हजार लेकर थमा दिया फर्जी वीजा, 65 अभ्‍यर्थियों ने ऑपरेशन ईगल में लगाई गुहार

विदेश में रोजगार के नाम पर ठगी, 80-80 हजार लेकर थमा दिया फर्जी वीजा, 65 अभ्‍यर्थियों ने ऑपरेशन ईगल में लगाई गुहार

वरिष्‍ठ संवाददाता ,गोरखपुर Ajay Singh
Mon, 29 Nov 2021 04:06 PM
विदेश में रोजगार के नाम पर ठगी, 80-80 हजार लेकर थमा दिया फर्जी वीजा, 65 अभ्‍यर्थियों ने ऑपरेशन ईगल में लगाई गुहार

इस खबर को सुनें

नौकरी दिलाने और विदेश भेजने के नाम पर ठगी करने वालों की पहचान कर कार्रवाई करने के उद्देश्य से ऑपरेशन ईगल के तहत गोरखपुर पुलिस लाइंस में चौपाल का आयोजन किया गया, जिसमें ठगी के शिकार 65 पीड़ितों ने पुलिस से पैसा लौटाने की गुहार लगाई। इसमें 17 नौकरी दिलाने और 23 विदेश भेजने के नाम पर ठगी के शिकार हुए हैं।

एसपी सिटी सोनम कुमार ने पांच प्रार्थना पत्रों पर संबंधित थानेदार को मुकदमा दर्ज कर त्वरित कार्रवाई का निर्देश दिया है। जिले में आए दिन नौकरी दिलाने और विदेश भेजने के नाम पर ठगी का मामला प्रकाश में आता रहता है। इसको गंभीरता से लेते हुए एसएसपी डॉ. विपिन ताडा ने ऑपरेशन ईगल के तहत जालसाजों को चिन्हित कर कार्रवाई का निर्देश दिया है। एसपी सिटी ने पांच प्रार्थना पत्रों पर संबंधित थानेदार को मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई का निर्देश दिया है। इधर, सिकरीगंज, डेहरी टिकरी के धर्मेंद्र कुमार बताया कि विदेश भेजने के नाम पर एजेंट ने 80 हजार रुपये लेकर फर्जी वीजा देकर भेज दिया।

दिल्ली एयरपोर्ट पर उनको पकड़ लिया गया। इसके बाद रुपया मांगने पर एजेंट धमकी देने लगा। काफी प्रयास के बाद थाने पर मुकदमा तो दर्ज हुआ लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। इधर, बड़हलगंज, बेर्डलिया के मो.अखतर ने बताया कि महराजगंज जिले के एक एजेंट ने उसके साथ चार लोगों से 85 हजार रुपये लेकर वर्ष 2017 में टूरिस्ट वीजा पर दुबई भेज दिया। दुबई जाने के बाद उनको ठगी की जानकारी हुई। घर से रुपये मंगाकर लौटे।

एसपी सिटी बोले-आरोपियों पर होगी गैंगस्टर की कार्रवाई

सपी सिटी ने बताया कि फर्जी पासपोर्ट व वीजा बनवाकर विदेश भेजने के नाम पर ठगी करने वाले गैंग व व्यक्तियों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी, चिन्हित गैंग के विरुद्ध गैंगस्टर एक्ट के तहत भी कार्रवाई की जाएगी। ठगी के शिकार लोगों को सुझाव दिया गया कि नौकरी दिलाने, फर्जी पासपोर्ट व वीजा बनवाकर विदेश भेजने वालों के झांसे में न आए। वहीं गुलरिया के रसुलपुर झुंगिया के योगेंद्र सिंह ने बताया कि बेरोजगार होने पर रोजगार के लिए खजनी क्षेत्र के रहने वाले एक एजेंट से सम्पर्क किया। वह 90 हजार रुपये लेकर उसको विदेश भेजने की बजाय स्वयं विदेश भाग गया। थाना और पुलिस के उच्चाधिकारियों से मिलकर न्याय की गुहार लगाई।

epaper

संबंधित खबरें