ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशकन्नौज में ईद की नमाज के बाद बवाल, संघर्ष में युवक की मौत, भारी फोर्स तैनात

कन्नौज में ईद की नमाज के बाद बवाल, संघर्ष में युवक की मौत, भारी फोर्स तैनात

कन्नौज में गुरुवार को ईद की नमाज के बाद बवाल हो गया। दो पक्षों में संघर्ष में एक युवक की मौत हो गई। तनाव को देखते हुए भारी फोर्स तैनात कर दी गई है। घटना छिबरामऊ के मोहल्ला ऊंचा बिरतिया में हुई है।

कन्नौज में ईद की नमाज के बाद बवाल, संघर्ष में युवक की मौत, भारी फोर्स तैनात
Yogesh Yadavहिन्दुस्तान,कन्नौजThu, 11 Apr 2024 11:16 PM
ऐप पर पढ़ें

ईद की नमाज के बाद पुरानी रंजिश में दो पक्ष आमने-सामने आ गए। दोनों के बीच ईंट-पत्थर चलने से मोहल्ला ऊंचा बिरतिया में भगदड़ मच गई। इसमें एक युवक की मौत हो गई। तनाव देख इलाके में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। ईदगाह में ईद की नमाज पढ़ने के बाद दो पक्ष आमने-सामने आ गए और दोनों तरफ से गालीगलौज के साथ हाथापाई शुरू हो गई। मौजूद लोगों ने किसी तरह समझा बुझाकर उनको शांत करा दिया, लेकिन घर पहुंचने पर दोनों पक्ष फिर भिड़ गए। मारपीट के साथ दोनों तरफ से पथराव शुरू हो गया।

त्योहार के मौके पर पथराव से भगदड़ और अफरा-तफरी का माहौल बन गया। खबर मिलते ही भारी संख्या में पुलिस फोर्स पहुंच गया, जिसके बाद दोनों पक्ष इधर-उधर भाग गए। इस संघर्ष में एक पक्ष के युवक शहवाज की फर्रुखाबाद में इलाज के दौरान मौत हो गई। मौत की खबर आते ही एक बार फिर से तनाव बढ़ गया। अयाज अहमद व उसके भाई फैयाज अहमद ने हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी है।

तनाव देख सीओ ओमकारनाथ शर्मा भी मौके पर पहुंच गए। कोतवाल जितेंद्रप्रताप सिंह ने बताया कि उनको मारपीट और पथराव की सूचना मिली थी लेकिन मौके पर पहुंचने पर ऐसा कुछ नहीं मिला। एसपी अमित कुमार आनंद ने बताया कि युवक पहले से बीमार था। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। रिपोर्ट के बाद पता चलेगा उसकी मौत कैसे हुई। उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

मोहल्ला बिरतिया बना छावनी
मोहल्ला बिरतिया में तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए छिबरामऊ कोतवाली के अलावा गुरसहायगंज, सौरिख, सकरावा, विशुनगढ़ थाने का फोर्स तैनात कर दिया गया है। इसके अलावा पुलिस के उच्चाधिकारी मौके पर डटे हुए हैं और हर गतिविधि पर नजर बनाए हुए हैं। कोतवाली पुलिस घटनास्थल के आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाल रही है ताकि संघर्ष की सच्चाई सामने आ सके।

चार साल से चल रही है खूनी रंजिश
मोहल्ला सैय्यदवाड़ा निवासी अयाज अहमद और जुल्फिकार व इरशाद के परिवारों के बीच चार साल से खूनी रंजिश चल रही है। अयाज के भाई फैयाज अहमद ने बताया कि चार साल पहले 27 अप्रैल 2021 को जुल्फिकार व उसके परिजनों ने लाठी-डंडों से पीट-पीटकर उसके भांजे की हत्या कर दी थी। इस मुकदमे में कोर्ट में ट्रायल चल रहा है। 18 अप्रैल को इसमे अंतिम बहस होनी है। आरोपी पक्ष सुलह समझौता करने का दबाव बना रहा है, इसी को लेकर ईद के दिन आरोपियों ने एक बार फिर से उन लोगों पर जानलेवा हमला बोला।