DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › हाथरस कांड के पीड़ित परिवार से मिलकर लौटे चंद्रशेखर बोले, आंख में आंख डालकर झूठ बोलते हैं सीएम योगी 
उत्तर प्रदेश

हाथरस कांड के पीड़ित परिवार से मिलकर लौटे चंद्रशेखर बोले, आंख में आंख डालकर झूठ बोलते हैं सीएम योगी 

अलीगढ़। कार्यालय संवाददाताPublished By: Dinesh Rathour
Fri, 24 Sep 2021 08:35 PM
हाथरस कांड के पीड़ित परिवार से मिलकर लौटे चंद्रशेखर बोले, आंख में आंख डालकर झूठ बोलते हैं सीएम योगी 

आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि सीएम योगी आंख में आंख डालकर झूठ बोलते हैं। हाथरस कांड के पीड़ित परिवार को वादे के मुताबिक अभी तक सरकारी आवास और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी नहीं दी गई है। हाथरस से लौटते वक्त शुक्रवार को कमिश्नर गौरव दयाल और डीआईजी दीपक कुमार से कमिश्नरी में मुलाकात की। यहां हाथरस कांड के पीड़ित परिवार से किए वादे पूरा करने की मांग की। अधिकारियों ने सात दिन का समय मांगा। इस पर उन्होंने कहा कि सात नहीं बल्कि दस दिन लगा लो। अगर, इस अवधि में वादे पूरे नहीं हुए तो 11वें दिन से आंदोलन और कमिश्नरी में अनिश्चितकालीन धरना पार्टी कार्यकर्ताओं की ओर से किया जाएगा। एमएलसी सुनील कुमार चित्तौड़ सहित अन्य कार्यकर्ताओं के साथ वार्ता चलीं। इस दौरान दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष हिमांशु वाल्मीकि, राष्ट्रीय कोर कमेटी सदस्य रविंद्र भाटी, पूर्व मंत्री चौधरी महेंद्र सिंह, जिलाध्यक्ष चंद्रप्रकाश मौर्या, जिला महासचिव देवी सिंह, हरनाम सिंह प्रधान, रिजवान अहमद, अमित कसाना, नोनू त्यागी आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे।

अकराबाद कांड में कोई निर्दोष जेल न जाए 

चंद्रशेखर ने अकराबाद कांड को लेकर कहा कि पीड़ित परिवार को मुआवजा, सरकारी नौकरी, आवास मिलना चाहिए। इसके अलावा अकराबाद कांड को लेकर अधिकारियों से आग्रह है कि इस कांड में किसी भी निर्दोष को जेल न भेजा जाए और कोई भी दोषी बख्शा न जाए।

विधानसभा चुनाव छोटे दलों से गठबंधन कर लड़ेगी पार्टी

चंद्रशेखर ने कहा है कि वह विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गए हैं। प्रदेश अध्यक्ष सुनील कुमार चित्तौड़ उप्र की रणनीति पर काम कर रहे हैं। औवेसी से भी मुलाकात हुई है। किसी से भी मुलाकात की जा सकती है, हर मुलाकात के राजनीतिक मायने नहीं निकाले जाने चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि पार्टी कई छोटे दलों के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ेगी। भाजपा को सत्ता से बाहर करना पहला उद्देश्य है। उन्होंने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि प्रदेश में भय का माहौल है। 
 

संबंधित खबरें