ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशअलीगढ़ में दलित युवक की हत्या पर बरसे चंद्रशेखर, बोले- यूपी में गुंडों को मिली खुली छूट

अलीगढ़ में दलित युवक की हत्या पर बरसे चंद्रशेखर, बोले- यूपी में गुंडों को मिली खुली छूट

अलीगढ़ में दलित युवक की मौत पर आजाद पार्टी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद ने यूपी की योगी सरकार को घेरा है। चंद्रशेखऱ ने मंगलवार को यहां पहुंचने पर कहा कि यूपी में गुंडों को खुली छूट दे दी गई है।

अलीगढ़ में दलित युवक की हत्या पर बरसे चंद्रशेखर, बोले- यूपी में गुंडों को मिली खुली छूट
Yogesh Yadavहिन्दुस्तान,अलीगढ़Tue, 18 Jun 2024 08:32 PM
ऐप पर पढ़ें

आजाद समाज पार्टी के अध्यक्ष और भीम आर्मी प्रमुख नगीना से सांसद बने चंद्रशेखर आजाद ने मंगलवार को कहा कि यूपी में गुंडों को खुली छूट दे दी गई है। अलीगढ़ में 22 साल के दलित युवक की चुनौती के साथ हत्या किया जाना, इसका ताजा उदाहरण है। देश-प्रदेश में दलितों पर जुल्म बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सांसद चंद्रशेखर मंगलवार को अलीगढ़ में डा.आंबेडकर पार्क में चल रहे दलित परिवार के धरने में शामिल होने पहुंचे थे। यहां दोपहर करीब तीन बजे पहुंचने के बाद वह परिजनों के साथ धरने पर ही बैठ गए। इस दौरान मीडिया से रूबरू होते हुए उन्होंने कहा कि अलीगढ़ के अकराबाद थानाक्षेत्र में हुए गौरव हत्याकांड की घटना डरावनी है। यहां चुनौती देकर 22 साल के युवक की हत्या कर दी गई। जिसके बाद से परिजनों को इंसाफ दिए जाने की जगह थाना स्तर पर लापरवाही बरती गई। उन्होंने परिजनों को 50 लाख रुपये की आर्थिक मदद और एक सदस्य को सरकारी नौकरी दिए जाने की मांग उठाई।

उन्होंने कहा कि लोकसभा और उसके बाहर भी दलित, पिछड़े मुस्लिमों, आदिवासियों और गरीबों के मुद्दों को मजबूती से उठाया जाएगा। उन्होंने कहा कि वह बेशक संसद के सदस्य बन गए हैं लेकिन सड़क पर प्रदर्शन करना नहीं छोड़ेंगे। महापुरुषों के मिशन को आगे बढ़ाना हैं। आगामी दिनों में होने वाले उपचुनाव के सवाल पर सांसद ने कहा कि जहां उपचुनाव होने हैं, वहां विधानसभा, बूथ, सेक्टर कमेटियों के गठन का कार्य शुरू कर दिया गया है। जो आवाज जनता ने दिल्ली में पहुंचाई है, उसी आवाज को यूपी की विधानसभा में भी पहुंचाने का कार्य जनता करेगी।

भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं का हंगामा, डीएम आवास के पास लगाया जाम
सांसद चंद्रशेखर के आने से पहले भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने डीएम आवास के पास ही सड़क पर जमा लगा दिया। हाथों में पार्टी और नीले रंग के झंडे लेकर उतरे युवाओं ने केन्द्र सरकार और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। इतना ही नहीं वाहनों में तोड़फोड़ करने का भी प्रयास किया गया। हंगामे के दौरान पुलिस ने जब रोकने की कोशिश की तो कई बार नोकझोंक भी हो गई। 

यह थी घटना
अकराबाद क्षेत्र के गांव बहादुरगढ़ी निवासी मुकेश कुमार के बेटे गौरव का शव तीन जून को नानऊ नहर में मिला था। इस मामले में हरदुआगंज क्षेत्र के एक गांव निवासी बाल अपचारी और एक अन्य के विरूद्ध हत्या का मुकदमा भी दर्ज हुआ है। गौरव की हत्या गला दबाकर की गई। परिजनों का आरोप है कि बाल अपचारी अकेला घटना को अंजाम नहीं दे सकता है। बाल अपचारी के सरेंडर करने के बाद उसे आगरा बाल सुधार गृह भेजा जा चुका है। एसपी देहात पलाश बंसल के अनुसार हत्याकांड में दो और आरोपियों के नाम सामने आए हैं। जिनकी गिरफ्तारी जल्द की जाएगी।