ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशएक लाख मांगना पड़ा भारी, सीओ ने थाने के अंदर ही किया थानेदार का इलाज, केस लिखवाया, गिरफ्तार कर भेजा जेल

एक लाख मांगना पड़ा भारी, सीओ ने थाने के अंदर ही किया थानेदार का इलाज, केस लिखवाया, गिरफ्तार कर भेजा जेल

चंदौली में पशु तस्कर को छोड़ने के लिए एक लाख रुपए घूस मांग रहे थानेदार का थाने के अंदर ही सीओ ने इलाज कर दिया। उसके खिलाफ पहले रिपोर्ट लिखवाई। केस दर्ज होते ही गिरफ्तार कर लिया । इसके बाद जेल भी भेजा।

एक लाख मांगना पड़ा भारी, सीओ ने थाने के अंदर ही किया थानेदार का इलाज, केस लिखवाया, गिरफ्तार कर भेजा जेल
Yogesh Yadavलाइव हिन्दुस्तान,पीडीडीयू नगर नौगढ़ (चंदौली)Fri, 03 May 2024 09:52 PM
ऐप पर पढ़ें

चंदौली में पशु तस्कर को छोड़ने के लिए एक लाख रुपए घूस मांग रहे थानेदार का थाने के अंदर ही सीओ ने इलाज कर दिया। उसके खिलाफ पहले रिपोर्ट लिखवाई। केस दर्ज होते ही गिरफ्तार कर लिया और सीधे जेल रवाना कर दिया गया। बात हो रही है पशु तस्कर को छोड़ने के बदले में एक लाख रुपये घूस मांगने वाले चकरघट्टा थाना प्रभारी निरीक्षक सुधीर आर्य की।  पुलिस अधीक्षक डॉ. अनिल कुमार के निर्देश पर हुई कार्रवाई से पुलिस महकमे में हड़कंप मचा हुआ है। 

चकरघट्टा थाना क्षेत्र के रहने वाली एक महिला से पशु तस्कर को छोड़ने के एवज में एक लाख रुपये की मांग की गई थी। इसी साल छह अप्रैल को फोन से रुपये मांगने का आडियो क्लिप वायरल हो गया था। इसमें थाने के दीवान संजय कुमार यादव की संलिप्तता पाई गई थी। तब संजय के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था। मुकदमा दर्ज होते ही दीवान फरार हो गया। एसपी डॉ. अनिल कुमार ने इसकी जांच चकिया सीओ आशुतोष कुमार को दी गई थी।

जांच के दौरान पता चला कि इसमें थाना प्रभारी निरीक्षक और दीवान की संलिप्तता है। इसी क्रम में शुक्रवार को चकरघट्टा थाने पर पहुंचे सीओ चकिया ने थाना प्रभारी निरीक्षक से पूछताछ करने के बाद उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराते हुए गिरफ्तार कर लिया। उसके बाद उन्हें जेल भेज दिया गया। 

अपर पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार के अनुसार चकरघट्टा प्रभारी निरीक्षक सुधीर कुमार आर्या और दीवान संजय यादव के खिलाफ पशु तस्कर को छोड़ने के एवज में एक लाख रुपये मांगने का आडियो क्लिप वायरल हुआ था। एसपी के निर्देश पर इसकी जांच सीओ चकिया को सौंपी गई थी। सीओ की जांच में चकरघट्टा प्रभारी निरीक्षक सुधीर कुमार आर्या के खिलाफ आरोप सही पाए जाने पर धारा 120 के तहत मुकदमा दर्जकर जेल भेज दिया गया। थानेदार को जेल भेजने से हड़कंप मचा हुआ है।