ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशसिद्धार्थनगर में बसपा पदाधिकारियों पर केस दर्ज, जिला अध्यक्ष-उपाध्यक्ष पर हमले का आरोप

सिद्धार्थनगर में बसपा पदाधिकारियों पर केस दर्ज, जिला अध्यक्ष-उपाध्यक्ष पर हमले का आरोप

बसपा के कई पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के खिलाफ जिलाध्यक्ष दिनेश चंद्र गौतम ने केस दर्ज कराया है।आरोप है कि बसपा प्रत्याशी के नामांकन के बाद पार्टी के कुछ जिलाध्यक्ष व उपाध्यक्ष पर हमला कर मारपीट की।

सिद्धार्थनगर में बसपा पदाधिकारियों पर केस दर्ज, जिला अध्यक्ष-उपाध्यक्ष पर हमले का आरोप
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,सिद्धार्थनगरSun, 05 May 2024 10:50 PM
ऐप पर पढ़ें

बसपा के कई पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के खिलाफ जिलाध्यक्ष दिनेश चंद्र गौतम की तहरीर पर सिद्धार्थनगर थाना में गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया गया है। आरोप है कि शनिवार को बसपा प्रत्याशी के नामांकन के बाद पार्टी के कुछ पदाधिकारियों-कार्यकर्ताओं ने जिलाध्यक्ष व उपाध्यक्ष पर हमला कर मारपीट की थी। केस दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है। दूसरे पक्ष ने भी तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है।

शनिवार को नामांकन के बाद बसपा प्रत्याशी मोहम्मद नदीम, जिलाध्यक्ष दिनेश चंद्र गौतम व जिला उपाध्यक्ष शमीम अहमद कार से जाने लगे। अभी न्यायालय के गेट के पास पहुंचे थे कि आरोप है कि जिलाध्यक्ष की कार रोककर उनसे और जिला उपाध्यक्ष शमीम अहमद से कुछ लोगों ने मारपीट कर दी। जिलाध्यक्ष ने सिद्धार्थनगर थाने में तहरीर देकर मनीष कुमार करौंदा सेक्टर अध्यक्ष, अखिलेश, हरिनाथ यादव, विनोद विद्यार्थी, बृजमोहन कपिलवस्तु विधानसभा क्षेत्र अध्यक्ष, फिरोज सिद्दीकी कपिलवस्तु विस क्षेत्र प्रभारी, चंद्रिका गौतम कपिलवस्तु विस क्षेत्र प्रभारी, डॉ. राजू राव, राजगोपाल भारती व 15 अज्ञात के खिलाफ अपने व उपाध्यक्ष पर जानलेवा हमला करने, जातिसूचकशब्द का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ एससी/एसटी एक्ट व अन्य गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। जिलाध्यक्ष ने कार्रवाई के लिए हाईकमान को भी पत्र लिखा है। 

बिना अनुमति जुलूस पर सपा प्रत्याशी भीष्म शंकर पर मुकदमा

डुमरियागंज से सपा प्रत्याशी भीष्म शंकर उर्फ कुशल तिवारी, उनके भाई विनय शंकर तिवारी सहित 125 अन्य के खिलाफ नामांकन के दौरान शनिवार को बगैर अनुमति जुलूस निकालने के आरोप में चुनाव आचार संहिता उल्लंघन का केस दर्ज किया गया है। सिद्धार्थनगर थानाध्यक्ष गौरव सिंह की तहरीर पर धारा 188 के तहत कार्रवाई की गई है। पुलिस के मुताबिक नामांकन जुलूस की अनुमति नहीं ली गई थी।