ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशमहिला अफसर से रेप की कोशिश मामले में गुत्‍थी उलझी, तहसीलदार के अरेस्‍ट न होने पर बीजेपी MLC ने उठाए सवाल 

महिला अफसर से रेप की कोशिश मामले में गुत्‍थी उलझी, तहसीलदार के अरेस्‍ट न होने पर बीजेपी MLC ने उठाए सवाल 

महिला अफसर के साथ रेप की कोशिश की गुत्थी उलझती जा रही है। इसे सुलझाने के लिए फोरेन्सिक और सर्विलांस सेल ने जांच तेज कर दी है। एक अधिकारी के मोबाइल लोकेशन और तहरीर में अंतर मिल रहा है।

महिला अफसर से रेप की कोशिश मामले में गुत्‍थी उलझी, तहसीलदार के अरेस्‍ट न होने पर बीजेपी MLC ने उठाए सवाल 
Ajay Singhनिज संवाददाता,बस्तीMon, 20 Nov 2023 07:50 AM
ऐप पर पढ़ें

Case of attempt to rape a female officer: यूपी के बस्‍ती में महिला अफसर के साथ दुष्कर्म की कोशिश की गुत्थी उलझती जा रही है। इसे सुलझाने के लिए फोरेन्सिक और सर्विलांस सेल ने जांच तेज कर दी है। प्रारंभिक जांच में एक अधिकारी के मोबाइल लोकेशन और तहरीर में अंतर मिल रहा है। हाई-प्रोफाइल मामले में रोजाना नए-नए चौंकाने वाले मामले सामने आ रहे हैं। इलाके के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं। इस बीच बीजेपी एमएलसी देवेन्‍द्र प्रताप सिंह ने महिला अधिकारी से दुष्‍कर्म की कोशिश के आरोपी नायब तहसीलदार की गिरफ्तारी न होने को लेकर कई गंभीर सवाल उठाए हैं। 

जांच के मामले प्रशासन व पुलिस के अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं। इसके साथ मामला राजनैतिक रंग में भी रंगता जा रहा है। प्रथम दृष्टया तहरीर के आधार पर दुष्कर्म की कोशिश का मामला दर्ज है। प्रशासनिक स्तर पर गठित विशाखा कमीशन के तहत तीन सदस्यीय महिला अधिकारियों की जांच रिपोर्ट अभी तैयार नहीं हो सकी है। उसी रिपोर्ट का इस मामले की तहकीकात कर रही पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को इंतजार है। घटना के दौरान व उसके बाद के समय के पीड़िता व आरोपी अधिकारी के लोकेशन की छानबीन पुलिस कर रही है। इस बाबत एसएचओ विनय पाठक का कहना है कि पुलिस साक्ष्य संकलन में जुटी है। आरोपी की तलाश की जा रही है। हर एक पहलू की छानबीन की जा रही है। पुलिस गंभीरता से इस मामले में कार्रवाई कर रही है।

घटना के वक्त तीसरे शख्स की मौजूदगी की शुरू हुई जांच हाई-प्रोफाइल मामले की जांच को लेकर पुलिस वायरल चैट को ध्यान में रखकर जांच शुरू कर दिया है। हालांकि इस वायरल चैट के सत्यता की पुष्टि ‘हिन्दुस्तान’ नहीं करता है। वायरल चैट के आधार पर पुलिस अधिकारी तीसरे शख्स के शामिल होने की संभावना जता रहे हैं। इस बावत कोतवाल विनय पाठक ने कहा कि पुलिस सभी पहलुओं पर जांच कर रही है। पुलिसिया सूत्र बताते हैं कि तीसरे की व्यक्ति की तलाश में पुलिस बलरामपुर जाने की संभावना है। वायरल चैट मिलने के बाद पुलिस ने नए एंगल को जांच में शामिल किया है। अब आरोपी और पीड़िता के मोबाइल लोकेशन, कॉल डिटेल आदि को जुटा रही है।

एमएलसी ने अधिकारियों पर लगाए गंभीर आरोप
एमएलसी देवेन्द्र प्रताप सिंह ने रविवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि महिला अधिकारी के साथ नायब तहसीलदार ने दुष्कर्म का प्रयास किया। कानूनी और सामाजिक दृष्टि से अक्षम्य अपराध है। मेडिकल रिपोर्ट और धारा 164 के तहत बयान हो चुका है। यह आरोपी के गिरफ्तारी के लिए पर्याप्त है। आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने से महिला अधिकारी स्वयं को असुरक्षित महसूस कर रही हैं। वह अपने सरकारी दायित्व का निर्वहन करने में असुरक्षित महसूस करेंगी। एमएलसी ने अपने विज्ञप्ति में प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी की भूमिका पर सवाल उठाया है। एमएलसी ने अधिकारियों पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें