ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशगाजीपुर में RO-ARO पेपर लीक? सील पहले से ही टूटी होने की बात कहकर परीक्षार्थियों ने किया हंगामा, वीडियो वायरल

गाजीपुर में RO-ARO पेपर लीक? सील पहले से ही टूटी होने की बात कहकर परीक्षार्थियों ने किया हंगामा, वीडियो वायरल

यूपी में रविवार को आरओ एआरओ की परीक्षा संपन्न हुई। हालांकि गाजीपुर में कुछ परिक्षार्थियों ने पेपर लीक होने की बात कहकर जमकर बवाल काटा। काफी देर समझाने-बुझाने के बाद परीक्षा शुरू कराई गई।

गाजीपुर में RO-ARO पेपर लीक? सील पहले से ही टूटी होने की बात कहकर परीक्षार्थियों ने किया हंगामा, वीडियो वायरल
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,गाजीपुरSun, 11 Feb 2024 10:59 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के सभी जिलों में रविवार को समीक्षा अधिकारी/ सहायक समीक्षा अधिकारी (प्रारंभिक) की परीक्षा आयोजित हुई। इस दौरान गाजीपुर में कुछ परिक्षार्थियों ने सुबह की पहली पाली में परीक्षा से पहले पेपर का सील टूटा होने की बात कहकर जमकर बवाल काटा। कुछ परीक्षार्थी केंद्र के बाहर हंगामा करते परीक्षा की सूचिता को लेकर करने सड़क पर बैठने का प्रयास करने लगे। लेकिन मौके पर मौजूद थानाध्यक्ष राजेश बहादुर सिंह ने उन्हें रोक दिया। मौके पर पहुंचे एसडीएम आशुतोष कुमार ने समझाकर शांत कराया और परीक्षा शुरू कराई। युवकों के हंगामे का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। 

ये मामला जिले के मच्छटी क्षेत्र के एसएम नेशनल इंटर कॉलेज का है। परीक्षार्थियों का आरोप था कि परीक्षा शुरू होने से पहले ही पेपर का बंडल कट गया था। ऐसे में परीक्षा की सूचिता एवं नकल विहीन परीक्षा की संभावना कम है। परीक्षार्थियों का कहना था कि नियमानुसार छात्रों के कक्ष में बैठने के बाद स्टेटिक मजिस्ट्रेट एवं दो छात्रों की मौजूदगी में केंद्र व्यवस्थापक को पेपर  सौंपा जाना चाहिए। जिसे लेकर परीक्षार्थियों ने जमकर हंगामा किया। हंगामा की सूचना के बाद में मौके पर पहुंचे एसडीएम मुहम्मदाबाद आशुतोष कुमार और पुलिस क्षेत्राधिकारी अतर सिंह ने परीक्षार्थियों को समझाने बुझाने के बाद दोबारा परीक्षा शुरू कराई। इसके अलावा परीक्षा के लिए परीक्षार्थियों को अतिरिक्त 20 मिनट का समय भी दिया गया। 

इस संबंध में एसडीएम आशुतोष कुमार ने बताया कि केंद्र व्यवस्थापक की अनुभवहीनता से कुछ छात्रों ने आपत्ति जताई थी। जिसे ठीक कर परीक्षा सूचितापूर्वक शुरू करा दी गई है। इस मौके पर परीक्षा केंद पर थानाध्यक्ष राजेश बहादुर सिंह, चौकी इंचार्ज मच्छटी ओमवीर सिंह सहित काफी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात किया गया था।

लोक सेवा आयोग का दावा- सकुशल संपन्न हुई परीक्षा

यूपी लोक सेवा आयोग ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि आरओ/एआरओ परीक्षा 2023 प्रदेश के 58 जिलों के 2387 परीक्षा केद्रों पर दो सत्रों में आयोजित हुई। परीक्षा में 1076004 अभ्यर्थी पंजीकृत थे जिसमें से 64 प्रतिशत ने उपस्थित थे। उपरोक्त परीक्षा सकुशल, निर्विघ्न और शुचितापूर्वक संपन्न हुई है। 

विपक्ष ने साधा निशाना

अखिलेश यादव ने एक्स (ट्वीटर) पर वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा, 'उत्तरप्रदेश में समीक्षा अधिकारी का पेपर भी लीक हो गया। यह अभ्यर्थियों के भविष्य के साथ भाजपा सरकार की साज़िश ही लगती है क्योंकि ये सरकार बेरोज़गारों नौकरी ही नहीं देना चाहती है।' 

यूपी कांग्रेस ने भी भाजपा सरकार पर निशाना साधा। वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा, 'आज प्रदेश में समीक्षा अधिकारी का पेपर होना था। अभ्यर्थी जब कक्षा हॉल में पहुंचे तो देखा कि प्रश्नपत्रों की सील पहले से ही खुली हुई थी। चुनावी मौसम देखते हुए किसी तरह तो योगी जी को सरकारी रिक्त पदों की याद आई लेकिन हर बार की तरह यह वैकेंसी भी नकल माफियाओं के सरकारी गठजोड़ की बैठ चढ़ गई। बेरोजगार अभ्यर्थियों के भविष्य के साथ मजाक करके निर्लज और बेशर्म सरकार का तनिक भी दिल नहीं पसीजता।'

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें