DA Image
9 सितम्बर, 2020|7:59|IST

अगली स्टोरी

आगरा में 34 सवारियों के साथ बस हाईजैक करके ले गए बदमाश, झांसी में मिली लोकेशन

आगरा में दक्षिणी बाईपास पर महुअर के पास मंगलवार देर रात गुड़गांव से पन्ना (छतरपुर) जा रही स्लीपर कोच बस को बोलेरो सवार बदमाशों ने हाईजैक कर लिया। बस में 34 सवारियां थीं। बदमाशों ने चालक-परिचालक को अपनी गाड़ी में बैठाया और बस पर खुद कब्जा कर लिया। कई घंटे चालक-परिचालक को घुमाने के बाद कुबेरपुर (एत्मादपुर) के पास छोड़ दिया। बस को सवारियों सहित लेकर चले गए। सुबह चालक-परिचालक मलपुरा थाने पहुंचे। सूचना दी। तो पुलिस के होश उड़ गए। बस की तलाश में पुलिस की कई टीमें जुट गईं। प्रारंभिक छानबीन में पता चला कि रात दो बजे बस ने इटावा पार किया था। इसके बाद बस की लोकेशन झांंसी मेंं मिली है। 

मंगलवार की देर रात बस संख्या यूपी75 एम-3516 गुरुग्राम से चली थी। डबरा ग्वालियर (मध्य प्रदेश) निवासी रमेश स्लीपर बस में 34 सवारी लेकर मंगलवार शाम को गुरुग्राम से मप्र के पन्ना में अमानगंज को निकले थे। रात 10.30 बजे वे दक्षिणी बाइपास के रायभा टोल प्लाजा के पास पहुंचे। वहां उन्हें बोलेरो व जाइलो में सवार आठ- नौ युवक मिले। गाड़ी सवारों ने खुद को फाइनेंसकर्मी बताकर बस रोक ली। चालक से बस से नीचे उतरने को कहा। चालक नहीं उतारा। वहां से बस लेकर आगे चल दिया। गाड़ी सवारों ने बस का पीछा किया। मलपुरा क्षेत्र में न्यू दक्षिणी बाईपास पर ही उन्होंने बस को ओवरटेक करके अपनी गाड़ी उसके आगे लगा दी। चालक और परिचालक को जबरन बस से नीचे खींच लिया। बस में बैठी सवारियां दहशत में आ गईं। चीख पुकार मच गई। बदमाशों ने सवारियों से कहा कि शांत रहे। किसी को कोई खतरा नहीं है। चार बदमाश बस में बैठ गए। एक ने स्टेयरिंग संभाल ली।

बस को लेकर आगे चल दिए। इधर चालक-परिचालक को अपनी एक गाड़ी में बैठा लिया। चालक ने बताया कि बदमाश बस को ग्वालियर रोड पर उतारकर सैंया की तरफ ले गए। सैंया से फतेहाबाद होते हुए लखनऊ एक्सप्रेस वे पर आ गए। परिचालक से सवारियों के रुपये वापस कराए और सवारियों समेत बस लेकर चले गए। बदमाशों ने चालक और परिचालक को दिल्ली-कानपुर हाईवे पर कुबेरपुर के पास छोड़ दिया। उस समय सुबह के चार बजे थे। चालक और परिचालक ने मलपुरा थाने पहुंचकर घटना की जानकारी पुलिस को दी। 

जानकारी मिलते ही एसएसपी बबलू कुमार मौके पहुंच गए। एसएसपी ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला फाइनेंस का ही लग रहा है मगर अंदाज दुस्साहसिक है। मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। बस और सवारियों का पता लगाया जा रहा है। रात दो बजे बस ने इटावा क्रास किया था। इसके बाद बस की लोकेशन झांंसी मेंं मिली। यह जानकारी छानबीन में मिली।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:bus hijack armed criminals took forcibly away private bus along with 34-passengers in agra