ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी पुलिस भर्ती में सेंधमारी: एसटीएफ को मिली बड़ी सफलता, बागपत और गाजियाबाद से 12 लोग गिरफ्तार

यूपी पुलिस भर्ती में सेंधमारी: एसटीएफ को मिली बड़ी सफलता, बागपत और गाजियाबाद से 12 लोग गिरफ्तार

यूपी पुलिस कम्प्यूटर ऑपरेटर भर्ती परीक्षा में सेंधमारी करने के मामले में एसटीएफ मेरठ यूनिट को बड़ी सफलता मिली है। एसटीएफ ने सेंधमारी करने वाले गिरोह के 12 लोगों को बागपत और गाजियाबाद से बुधवार...

यूपी पुलिस भर्ती में सेंधमारी: एसटीएफ को मिली बड़ी सफलता, बागपत और गाजियाबाद से 12 लोग गिरफ्तार
Dinesh Rathourमुख्य संवाददाता,मेरठThu, 08 Feb 2024 07:48 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी पुलिस कम्प्यूटर ऑपरेटर भर्ती परीक्षा में सेंधमारी करने के मामले में एसटीएफ मेरठ यूनिट को बड़ी सफलता मिली है। एसटीएफ ने सेंधमारी करने वाले गिरोह के 12 लोगों को बागपत और गाजियाबाद से बुधवार को गिरफ्तार किया है। बुधवार रात बुलंदशहर कोतवाली देहात पुलिस ने यूपी पुलिस समेत कई प्रतियोगी परीक्षाओं में पास कराने और फर्जी दस्तावेज बनाने वाले गिरोह के 11 लोगों को गिरफ्तार किया है। कुल मिलाकर दो गैंग का भंडाफोड़ हुआ और 23 आरोपियों की गिरफ्तारी की गई है। यूपी पुलिस में कंप्यूटर ऑपरेटर की ऑनलाइन भर्ती परीक्षा कराई जा रही है, जिसके लिए प्रदेशभर में अलग अलग सेंटर बनाए गए हैं।

यूपी एसटीएफ की मेरठ यूनिट ने इस परीक्षा में सेंधमारी करने वाले गिरोह के 12 सदस्यों को बुधवार को बड़ौत में आवास विकास कॉलोनी और गाजियाबाद में विधान पब्लिक स्कूल दुहाई से गिरफ्तार किया। खुलासा हुआ कि यह गैंग कंप्यूटर लैब के कंप्यूटर को एनी-डेस्क की मदद से हैक करने के बाद नकल कराता था। गिरोह में सीआरपीएफ का एक जवान भी शामिल है, जो फरार बताया गया है। गिरोह एक परीक्षा पास कराने के लिए 5 से 6 लाख रुपये लेता था। इसके लिए एक इंटरनेशनल हैकर को काम दिया गया था, जो फरार है। बड़ौत कोतवाली में आरोपियों पर मुकदमा दर्ज कराया गया है।

दूसरी ओर, बुलंदशहर में एसपी सिटी शंकर प्रसाद ने गुरुवार को पुलिस लाइन में प्रेसवार्ता में खुलासा किया कि यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा और कई अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं में नकल कराने वाले गैंग का इनपुट मिला था। बुधवार रात जहांगीराबाद बस स्टैंड के पास से गिरोह के 8 सदस्यों और तीन अभ्यर्थियों को गिरफ्तार किया गया। पकड़े गए आरोपियों के पास से उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती प्रोन्नति बोर्ड से संबंधित 37 एडमिट कार्ड और सात एप्लीकेशन फार्म की छायाप्रति, 11 मोबाइल फोन, लैपटॉप, थम्ब स्कैनर, 4500 रुपये, दो मुहर, फर्जी आधार कार्ड आदि बरामद हुआ है। सभी पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें