DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › राजा भैया के गढ़ में भाजपा पर बरसे सतीश चंद्र मिश्र, बोले-राम के नाम पर दिया धोखा
उत्तर प्रदेश

राजा भैया के गढ़ में भाजपा पर बरसे सतीश चंद्र मिश्र, बोले-राम के नाम पर दिया धोखा

रानीगंज(प्रतापगढ़)। हिन्दुस्तान संवादPublished By: Amit Gupta
Wed, 28 Jul 2021 06:57 PM
राजा भैया के गढ़ में भाजपा पर बरसे सतीश चंद्र मिश्र, बोले-राम के नाम पर दिया धोखा

बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने भगवान राम के नाम पर सिर्फ धोखा दिया है। लोग सीताराम न कहकर जय श्रीराम का नारा देते हैं। ऐसा लगता है जैसे किसी युद्ध का शंखनाद कर रहे हैं। बसपा महासचिव बुधवार को रानीगंज तहसील क्षेत्र के रामनगर में प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि बसपा सरकार ने 2007 में मथुरा, वृंदावन, प्रयागराज, अयोध्या, वाराणसी और बिठूर में घाटों का निर्माण व सड़क चौड़ीकरण कराने का काम किया। उन्होंने कहा कि अभी तक अयोध्या में नींव पूजन नहीं हुआ है। केवल ईंट पूजन हुआ है जबकि भाजपा ने चंदे के नाम पर करोड़ों रुपये इकट्ठा कर लिए हैं। उन्होंने कहा कि सपा, भाजपा सरकार में ब्राह्मणों और दलितों का शोषण किया गया। हाथरस में दलित किशोरी के साथ अत्याचार हुआ। आननफानन में उसकी लाश जला दी गई। सरकार दो करोड़ नौकरी देने की बात करती है लेकिन वास्तव में नौकरी छीनी गई है। भाजपा सरकार में नौकरी ठेकेदारी प्रथा में बदल गई। 

राष्ट्रीय महासचिव ने कानपुर के बिकरू कांड का जिक्र करते हुए कहा कि सजा देने का काम न्यायालय का होता है लेकिन यहां भाजपा सरकार सजा दे रही है। बसपा राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि विकास अपराधी था तो वह उसका समर्थन नहीं करते, लेकिन उसे इस तरह से मौत की सजा देना सही नहीं था। उसके गैंग का बताकर एक नवविवाहिता सहित 50 लोगों पर बदले की भावना से कार्रवाई सही नहीं है। उन्होंने कहा कि देश का किसान एक साल से सड़क पर है। रेल, टेल, बिजली, हवाई जहाज, कारखाने सभी प्राइवेट होते जा रहे हैं। करीब एक घंटे के संबोधन में बसपा महासचिव ने कहा कि 13 प्रतिशत ब्राह्मणों की अपनी ताकत है। अगर वह 23 प्रतिशत दलित के साथ हो जाएं तो दोनों का गठजोड़ कोई नहीं तोड़ सकता। 

ढोल, नगाड़े और शंख से हुआ स्वागत

रानीगंज। बसपा राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद मिश्र दोपहर 1.26 बजे रामनगर पहुंचे। यहां लोगों ने उनका ढोल, नगाड़े की थाप के बीच 11 ब्राह्मणों ने शंखध्वनि से स्वागत किया। संगोष्ठी के आयोजक पूर्व विधायक रामशिरोमणि शुक्ल ने गणेश भगवान की मूर्ति देकर उन्हें सम्मानित किया। उनके साथ मौजूद पूर्व मंत्री नकुल दुबे को गदा भेंट की। संगोष्ठी में जय परशुराम और जय भीम के नारे गूंजते रहे। इस मौके पर बसपा जिलाध्यक्ष लालचंद गौतम, राम समाज गौतम, विजय मिश्र बॉबी, ऋषि मिश्र, राकेश मिश्र आदि मौजूद रहे। 
 

संबंधित खबरें