ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशसंभाल दिए योगी तब 30 सीट जीती भाजपा; अफजाल अंसारी बोले- बनारस में खूंटा गाड़े तो जीते मोदी

संभाल दिए योगी तब 30 सीट जीती भाजपा; अफजाल अंसारी बोले- बनारस में खूंटा गाड़े तो जीते मोदी

सपा के सांसद अफजाल अंसारी ने मंगलवार को कहा कि यूपी में भाजपा को मिली 33 सीटों में से 30 सीटें योगी आदित्यनाथ की वजह से मिली हैं। अफजाल ने कहा कि योगी ने बीजेपी को यूपी में संभाल दिया।

संभाल दिए योगी तब 30 सीट जीती भाजपा; अफजाल अंसारी बोले- बनारस में खूंटा गाड़े तो जीते मोदी
Yogesh Yadavलाइव हिन्दुस्तान,गाजीपुरTue, 11 Jun 2024 11:41 PM
ऐप पर पढ़ें

समाजवादी पार्टी के सांसद अफजाल अंसारी ने मंगलवार को कहा कि यूपी में भाजपा को मिली 33 सीटों में से 30 सीटें योगी आदित्यनाथ की वजह से मिली हैं। अफजाल ने कहा कि योगी ने बीजेपी को यूपी में संभाल दिया। मोदी के चेहरे का जादू तो पूरी तरह खत्म हो गया है। यहां तक कि मोदी की सीट बनारस के आसपास की सभी सीटें भाजपा हार गई है। योगी ने अंतिम समय में बनारस में खूंटा गाड़ दिया, इससे मोदी जीत गए। अफजाल दिल से योगी की तारीफ कर रहे हैं या अखिलेश यादव की उस लाइन को आगे बढ़ा रहे हैं जिसमें सपा प्रमुख अक्सर कहते हैं कि भाजपा के दोनों इंजन आपस में लड़ रहे हैं। 

अफजाल अंसारी ने मंगलवार को अपने संसदीय सीट गाजीपुर में मीडिा से बात करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जादू पूरी तरह खत्म हो गया है। जिस बनारस से मोदी लड़े उसके तीनों तरफ सीटें भाजपा हार गई है। बनारस के एक तरफ गाजीपुर, दूसरी तरफ चंदौली और तीसरी तरफ मछलीशहर है। तीनों सीटें भाजपा हार गई है। 

अफजाल ने कहा कि मीडिया कहता रहा है कि मोदी लड़ते हैं तो उनकी हवा पूरे पूर्वांचल में और बिहार से बंगाल तक चली जाती है। लेकिन इस बार मोदी की हवा बनारस के आसपास भी नहीं चल सकी। अफजाल ने कहा कि अंतिम समय में योगी आदित्यनाथ ने बनारस में आकर खूंटा गाड़ दिया। अपने लोगों से कहा कि किसी भी सूरत में मोदी को जीता देना। अगर इतनी मजबूती से योगी नहीं लगे होते तो मोदी भी चुनाव हार जाते। अफजाल ने साफ कहा कि हमारा मानना है कि 33 में से 30 सीट योगी आदित्यनाथ की मेहनत, उनके प्रयास और उनके चेहरे पर आई है। केवल 33 में से 3 सीट ऐसी होगी जो भाजपा और उनके समीकरण या मोदी के चेहरे पर आई होगी।

उन्होंने जम्मू कश्मीर में हुए आतंकी हमले पर उपराज्यपाल मनोज सिन्हा पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जब इसके पहले भी आतंकी हमला हुआ था तब मनोज सिन्हा गाजीपुर में चुनाव लड़ा रहे थे। कहीं इस हमले के वक्त भी वह दिल्ली में तो नहीं थे। उन्होंने कहा कि असली काम तो देश की जनता ने कर दिया। आज बैसाखी पर खड़ी यह सरकार है और दोनों बैसाखियों में जो वासर लगा है वह चिकना है। उन्होंने कहा कि सरकार तो बन गई जोड़ तोड़ से लेकिन वह चलेगी कैसे। देश में बेरोजगारी की एक बड़ी समस्या है उसका समाधान कैसे करेगी सरकार।

2014 के चुनाव में अन्ना हजारे के पीछे छिपकर चुनाव में आए थे। उस वक्त लोकपाल की बात हुई थी लेकिन भ्रष्टाचार को लेकर सरकार में कोई काम नहीं हो रहा है। जिसका ताजा उदाहरण विजय माल्या, नीरव मोदी सहित अन्य लोग हैं जो देश का पैसा लेकर विदेश भाग गए और उन्हें कोई रोकने वाला नहीं था। इस दौरान उन्होंने कहा कि अरबपतियों का 16000 करोड़ रुपये माफ कर दिया गया और गरीबों पर यदि 6 महीने का बिजली बिल बकाया हो जाता है तो वहां पर कनेक्शन काटने के लिए अमीन खड़ा हो जाता है।