ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशमतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए जुटेगी बीजेपी, फर्स्‍ट फेज की वोटिंग के बाद कोर कमेटी में मंथन

मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए जुटेगी बीजेपी, फर्स्‍ट फेज की वोटिंग के बाद कोर कमेटी में मंथन

भारतीय जनता पार्टी (BJP) अब अगले चरण में मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए और जोरशोर से जुटेगी। पार्टी की कोर कमेटी ने तय किया है कि पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को बूथ पर और अधिक सक्रिय किया जाएगा।

मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए जुटेगी बीजेपी, फर्स्‍ट फेज की वोटिंग के बाद कोर कमेटी में मंथन
Ajay Singhविशेष संवाददाता,लखनऊMon, 22 Apr 2024 06:28 AM
ऐप पर पढ़ें

BJP in Lok Sabha Election 2024: भारतीय जनता पार्टी अब अगले चरण में मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए और जोरशोर से जुटेगी। पार्टी की कोर कमेटी ने तय किया है कि पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को बूथ पर और अधिक सक्रिय किया जाएगा। साथ ही गर्मी अथवा गेहूं की कटाई के चलते व्यस्त किसानों-ग्रामीणों को भी बूथ तक हर हाल में पहुंचाया जाएगा। वहीं पार्टी में हर स्तर पर समन्वय को लेकर भी मंथन किया गया।

भारतीय जनता पार्टी की कोर कमेटी की बैठक रविवार को सुबह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास पर हुई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को छत्तीसगढ़ के दौरे पर निकलना था। उससे पहले करीब 7 बजे के आसपास कोर कमेटी की बैठक की गई। इसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी, महामंत्री संगठन धर्मपाल सिंह, उप मुख्यमंत्री द्वय केशव प्रसाद मौर्य और बृजेश पाठक, जलशक्ति मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह और मंत्री जेपीएस राठौर मौजूद रहे।

इसमें पहले चरण की आठ लोकसभा सीटों पर हुए मतदान के लिए गहराई से मंथन किया गया। वरिष्ठ नेताओं ने गहनता से समीक्षा की और कार्यकर्ताओं को बूथ पर और अधिक सक्रिय करने की रणनीति बनी। तय किया गया कि हर हाल में पार्टी को अगले चरण के मतदान में मत प्रतिशत बढ़ाना है। इसके लिए बूथ स्तर तक सभी को सक्रिय करने का निर्णय लिया गया।

पार्टी ने गर्मी या गेहूं कटाई के चलते व्यस्त किसानों-मजदूरों और ग्रामीणों को भी बूथ तक पहुंचने के लिए विशेष रणनीति बनाई। इसे तुरंत ही अमल में लाने के लिए कदम उठाने का फैसला किया गया। इसी के साथ पार्टी में निचले स्तर पर समन्वय के लिए भी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को संदेश देने पर सहमति बनी। बैठक में लिए गए निर्णयों के अनुसार जल्द ही निचले स्तर तक के अधिकारियों को निर्देश दिए जाएंगे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें