ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशविवादित बयान पर भाजपा विधायक की सफाई, जिन्हें सेना और पुलिस पर भरोसा नहीं, उन्हें देश भर भरोसा नहीं 

विवादित बयान पर भाजपा विधायक की सफाई, जिन्हें सेना और पुलिस पर भरोसा नहीं, उन्हें देश भर भरोसा नहीं 

कोरोना वैक्सीन पर सवाल उठाने वालों पर विवादित बोल के जरिए निशाना साधने को लेकर सरधना भाजपा विधायक संगीत सोम घिरते नजर आए। विवादित बयान को लेकर खुद को घिरता देख विधायक ने बुधवार को सफाई पेश की। विधायक...

विवादित बयान पर भाजपा विधायक की सफाई, जिन्हें सेना और पुलिस पर भरोसा नहीं, उन्हें देश भर भरोसा नहीं 
Dinesh Rathourमेरठ। हिन्दुस्तान ब्यूरोWed, 13 Jan 2021 04:28 PM
ऐप पर पढ़ें

कोरोना वैक्सीन पर सवाल उठाने वालों पर विवादित बोल के जरिए निशाना साधने को लेकर सरधना भाजपा विधायक संगीत सोम घिरते नजर आए। विवादित बयान को लेकर खुद को घिरता देख विधायक ने बुधवार को सफाई पेश की। विधायक ने कहा कि मैंने कहा था कि यदि लोग अपने स्वयं के वैज्ञानिकों, सरकार, प्रधानमंत्री, सेना और पुलिस पर भरोसा नहीं करते हैं, तो इसका मतलब हे कि वे अपने देश पर भरोसा नहीं करते हैं। उन्होंने कहा ऐसे लोग जहां चाहें वहां जा सकते हैं। अगर उनहें पाकिस्तान पर भरोसा है तो उन्हें वहां जाना चाहिए। मैंने जो कहा उसमें गलत क्या है?

चंदौसी में स्वामी विवेकानंद जी की जयंती पर दिया था बयान 
मंगलवार को सरधना विधायक संगीत सोम चंदौसी में भारतीय जनता युवा मोर्चा के तत्वावधान में स्वामी विवेकानंद जी की जयंती पर आयोजित युवा उद्यमी सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने सपा बसपा और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। कोरोना वैक्सीन पर सवाल उठाने वालों को मेरठ के सरधना विधायक संगीत सोम ने आड़े हाथ लिया था। उन्होंने कहा था कि कोरोना वैक्सीन को लेकर उन्होंने कहा कि कुछ लोग वैक्सीन लगवाने का विरोध कर रहे हैं। ऐसे लोग देश के प्रधानमंत्री का भी विरोध करते हैं। इन लोगों को अगर अपने देश से इतनी ही नफरत है तो वह दूसरे देश क्यों नहीं चले जाते। 

कार्यक्रम में सपा सरकार की यातनाओं का भी किया जिक्र
सरधना विधायक संगीत सोम ने चंदौसी में कार्यक्रम के दौरान सपा सरकार में उन्हें दी गई यातनाओं के बारे में जिक्र किया। उन्होंने कहा कि बेटियों के सम्मान के लिए जब मुझे अखिलेश यादव सरकार ने जेल भेजा तो पहले मुजफ्फरनगर जेल ले जाया गया, लेकिन उसके बाद मुझे उरई जेल भेज दिया गया। जहां पर एक भी बंदी नहीं था। मुझे दो माह अकेला रखा गया, जिससे मैं डर जाऊं, लेकिन बेटियों के सम्मान के लिए मैं डरने वाला नहीं हूं। उन्होंने कहा कि अखिलेश सरकार में सैफई और रामपुर में ही बिजली आती थी। अन्य स्थानों पर तीन से चार घंटे बिजली मिलती थी। अब भाजपा सरकार में 24 घंटे बिजली मिल रही है। सड़कें बनाई जा रही हैं। गुंडे जेल में जा रहे हैं या फिर अल्लाह मियां को प्यारे हो जा रहे हैं। भाजपाइयों की तरफ इशारा करते हुए कहा कि इतना काम तो प्रदेश सरकार कर रही है। आपको और क्या चाहिए। 

epaper