ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशकार्यकारिणी मीटिंग में नशे में पहुंचा बीजेपी पार्षद, महिला पार्षद कक्ष के टॉयलेट में घुसा, पेशाब की और...

कार्यकारिणी मीटिंग में नशे में पहुंचा बीजेपी पार्षद, महिला पार्षद कक्ष के टॉयलेट में घुसा, पेशाब की और...

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में नगर निगम की कार्यकारिणी मीटिंग में बीजेपी पार्षद नशे में पहुंचा। बीजेपी पार्षद महिला पार्षद कक्ष के कक्ष में गया और टॉयलेट में घुस गया।

कार्यकारिणी मीटिंग में नशे में पहुंचा बीजेपी पार्षद, महिला पार्षद कक्ष के टॉयलेट में घुसा, पेशाब की और...
Deep Pandeyहिन्दुस्तान,कानपुरSun, 25 Feb 2024 02:58 PM
ऐप पर पढ़ें

कानपुर नगर निगम कार्यकारिणी की बैठक में भाजपा के पार्षद आशुमेंद्र प्रताप सिंह नशे की हालत में ही पहुंच गए। उनकी स्थिति देख अफसर समेत कार्यकारिणी के अन्य सदस्य पार्षद भी असहज हो गए। नगर आयुक्त शिव शरणप्पा जीएन ने आपत्ति जताई तो उन्हें अलग बैठाया गया। मामले पर बिफरी महापौर ने चेतावनी दी है। अगली बार ऐसी हरकत पर निष्कासन तक के लिए कह दिया है। पार्षद की इस हरकत का वीडियो भी वायरल हो गया है।  

खास बात यह है कि यह पार्षद कार्यकारिणी के सदस्य हैं जिसे शहर की सरकार का कैबिनेट भी कहा जाता है। महापौर सभापति हैं जबकि उपसभापति के अलावा 11 और सदस्य हैं जिसमें ये पार्षद भी हैं। इन्होंने तो तब और भी हद कर दी जब समिति कक्ष में हो रही कार्यकारिणी की बैठक से बाहर निकले और महिला पार्षद कक्ष में घुस गए। कक्ष में ही बने महिला टॉयलेट में घुस गए और दरवाजा भी भीतर से बंद नहीं किया। वहीं टॉयलेट की और बाहर निकले। इस दौरान पार्षद कक्ष में बैठी महिला स्टाफ को मारे शर्म के बाहर निकल जाना पड़ा। ये पार्षद ऐसी हालत में थे कि ठीक से चल भी नहीं पा रहे थे।
 
महापौर प्रमिला पाण्डेय ने बताया कि वार्ड-81 दर्शनपुरवा से पार्षद आशुमेंद्र प्रताप सिंह तीसरी बार के वरिष्ठ पार्षद हैं। पत्नी भी पार्षद रह चुकीं हैं। वह नशे की हालत में कार्यकारिणी की बैठक में आए थे। परिवार को भी बुला बातचीत करेंगे। ये हरकत पूरी तरह अशोभनीय है। उनको चेतावनी दी गई है। दोबारा इस तरह की हरकत पर उन्हें सदन भी निष्कासित किया जाएगा। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें