ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशगणतंत्र दिवस पर आगरा में बड़ा धमाका, चार मकान क्षतिग्रस्त, कई दीवारों में आईं दरारें

गणतंत्र दिवस पर आगरा में बड़ा धमाका, चार मकान क्षतिग्रस्त, कई दीवारों में आईं दरारें

यूपी के आगरा में गणतंत्र दिवस के दिन बड़ा धमाका हो गया। धमाके की आवाज इतनी तेज थी कि चार मकान क्षतिग्रस्त हो गए, जबकि कई मकानों की दीवारों में भी दरारें आ गईं।

गणतंत्र दिवस पर आगरा में बड़ा धमाका, चार मकान क्षतिग्रस्त, कई दीवारों में आईं दरारें
Dinesh Rathourहिन्दुस्तान टीम,आगराFri, 26 Jan 2024 06:40 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के आगरा में गणतंत्र दिवस के दिन बड़ा धमाका हो गया। धमाके की आवाज इतनी तेज थी कि चार मकान क्षतिग्रस्त हो गए, जबकि कई मकानों की दीवारों में भी दरारें आ गईं। धमाका इतना शक्तिशाली था कि तीन फ्लैट की दीवारें और एक का छज्जा क्षतिग्रस्त हो गया। एक फ्लैट की खिड़की का जंगला धमाके के चलते 100 मीटर दूर जाकर गिरा। इसके अलावा कई अन्य दीवारों में भी दरारें आई हैं। फ्लैट में रहने वाली महिला उसकी बेटियां और जेठ घायल हो गए। सिलेंडर में धमाका होने की सूचना पर अग्निशमन अधिकारी और पुलिस मौके पर पहुंच गई। घायल चारों लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया। उनकी हालत खतरे से बाहर है।

घटना शुक्रवार सुबह 10 बजे की है। शास्त्रीपुरम में पुराने पावर हाउस के पास एडीए के चार मंजिला फ्लैट हैं। इनमें एफ ब्लाक दूसरी मंजिल पर बने फ्लैट संख्या 31 में जूता कारखाना में काम करने वाले दिलीप कुमार अपनी पत्नी बिमला देवी, बच्चों प्रियंका, स्नेहा, विवेक और बड़े भाई मुकेश के साथ रहते हैं। शुक्रवार सुबह दिलीप उनका पुत्र काम से बाहर गए थे। पत्नी दोनों बेटी और भाई फ्लैट पर थे। दिलीप कुमार के फ्लैट में भीषण धमाका होने से वहां रहने वाले लोग दहशत में आ गए। दिलीप के बाहरी कमरे की दीवार ढह गई। बराबर वाले फ्लैट संख्या 31 और नीचे के एक फ्लैट की मुख्य गेट की दीवार और छज्जा गिर गया। लोगों को लगा कि सिलेंडर में विस्फोट हुआ है, वह अपने फ़्लैटों से भागकर बाहर आ गए। पुलिस ने लोगों की मदद से बिमला देवी उनकी दोनों बेटियों और जेठ को पास के अस्पताल में भर्ती कराया।

अग्निशमन विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंच गए। उन्हें फ्लैट की रसोई में रखे तीन सिलेंडर सुरक्षित मिले। इनमें एक सिलेंडर भरा हुआ था। बाकी दोनों खाली थे। किचन का हिस्सा सुरक्षित था। इसने सिलेंडर में विस्फोट की आशंका को खारिज कर दिया। अग्निशमन अधिकारी अमर पाल सिंह ने बताया विस्फोट के कारणों की जांच की जा रही है। घटनास्थल से सिलेंडर या अन्य किसी वस्तु में विस्फोट के साक्ष्य नहीं मिले हैं। घायल चारों लोगों की हालत खतरे से बाहर है।

गीजर में विस्फोट की आशंका

फ्लैट में सिलेंडर में विस्फोट होने के साक्ष्य नहीं मिलने पर लोगों को आशंका है कि गैस गीजर में विस्फोट हुआ होगा। पुलिस इस दृष्टिकोण से भी छानबीन कर रही है। घायल बिमला देवी की हालत में सुधार होने के बाद उनसे इस बारे में जानकारी करेगी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें