DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › बस हाईजैक मामले में बड़ा खुलासा : फाइनेंस कंपनी ने गुंडों की ली थी मदद, कंडक्टर और चालक को दिए थे 300-300 रुपये
उत्तर प्रदेश

बस हाईजैक मामले में बड़ा खुलासा : फाइनेंस कंपनी ने गुंडों की ली थी मदद, कंडक्टर और चालक को दिए थे 300-300 रुपये

आगरा। लाइव हिन्दुस्तान टीम Published By: Dinesh Rathour
Wed, 19 Aug 2020 12:19 PM
बस हाईजैक मामले में बड़ा खुलासा : फाइनेंस कंपनी ने गुंडों की ली थी मदद, कंडक्टर और चालक को दिए थे 300-300 रुपये

उत्तर प्रदेश के आगरा में मंगलवार की देर रात हाईजैक हुई बस मामले में बड़ा खुलासा हुआ है।  बस को हाईजैक करने के लिए फाइनेंस कंपनी ने ही गुंडो की मदद ली थी। इतना ही नहीं बस के कंडक्टर और ड्राइवर को फाइनेंस कंपनी ने खाना खिलाया था। बस को सूनसान इलाके में लाने के लिए उन्हें तीन-तीन सौ रुपये भी दिये गए थे। पुलिस सूत्रों के अनुसार ड्राइवर और कंडक्टर का कहना है कि बस मालिक किश्त नहीं चुका पा रहे हैं। इस पर एडीजी ने मामले को गंभीर बताया।  उनका कहना हैकि अगर कोई किश्त नहीं चुका पा रहा है तो उसकी वसूली की कानूनी प्रक्रिया होती है। किसी को भी कानून को हाथ में लेने का अधिकार नहीं है। आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।  

आपको बता दें कि दक्षिणी बाईपास पर महुअर के पास मंगलवार देर रात गुड़गांव से पन्ना (छतरपुर) जा रही स्लीपर कोच बस को बोलेरो सवारों ने हाईजेक कर लिया। बस में 34 सवारियां थीं। बदमाशों ने चालक-परिचालक को अपनी गाड़ी में बैठाया और बस पर खुद कब्जा कर लिया। कई घंटे चालक-परिचालक को घुमाने के बाद कुबेरपुर (एत्मादपुर) के पास छोड़ दिया। बस को सवारियों सहित लेकर चले गए। सुबह चालक-परिचालक मलपुरा थाने पहुंचे। सूचना दी। तो पुलिस के होश उड़ गए। रात दो बजे बस ने इटावा पार किया था। प्रारंभिक छानबीन में यह जानकारी मिली। 

संबंधित खबरें