ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशगोरखपुर में एसएसपी का बड़ा ऐक्‍शन, एक थानेदार 70 सिपाही लाइन हाजिर; LIU रिपोर्ट पर की कार्रवाई 

गोरखपुर में एसएसपी का बड़ा ऐक्‍शन, एक थानेदार 70 सिपाही लाइन हाजिर; LIU रिपोर्ट पर की कार्रवाई 

गोरखपुर के SSP डॉक्टर गौरव ग्रोवर ने बड़ा ऐक्‍शन लिया है। एक थानेदार के साथ ही अलग-अलग थाना-चौकियों पर तैनात 70 सिपाहियों को लाइन हाजिर कर दिया। इस कार्रवाई से महकमे में हड़कंप मच गया।

गोरखपुर में एसएसपी का बड़ा ऐक्‍शन, एक थानेदार 70 सिपाही लाइन हाजिर; LIU रिपोर्ट पर की कार्रवाई 
Ajay Singhवरिष्ठ संवाददाता,गोरखपुरSun, 26 Nov 2023 09:11 AM
ऐप पर पढ़ें

Gorakhpur Police: गोरखपुर के एसएसपी डॉक्टर गौरव ग्रोवर ने बड़ा ऐक्‍शन लिया है। बांसगांव के थानेदार के साथ ही जिले के अलग-अलग थाना-चौकियों पर तैनात 70 सिपाहियों को लाइन हाजिर कर दिया। इस कार्रवाई से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। बताया जा रहा है कि इन सिपाहियों पर एलआईयू की रिपोर्ट पर एसएसपी ने यह एक्शन लिया। लाइन हाजिर किए गए अधिकांश सिपाही थानेदारों के कारखास बताए जा रहे हैं।

जिले में कानून व्यवस्था को सुधारने के लिए एसएपी की ओर से कार्रवाई की गई है। विभिन्न मामलों में शिकायतों और कार्य में लापरवाही पाए जाने बांसगांव के थानेदार चंद्रभान सिंह को एसएसपी ने लाइन हाजिर कर दिया। बांसगांव थानेदार की शिकायत हुई थी। इसके अलावा विभिन्न थानों में तैनात 70 सिपाहियों को भी लाइन में भेज दिया गया। महकमे में चर्चा है कि सभी सिपाहियों के खिलाफ एलआईयू जांच कराई गई। जिसमें सामने आया कि कारखास सिपाहियों की मनमानी चल रही थी। इससे पुलिस की छवि खराब हो रही थी।

बर्खास्त सिपाही चला रहा गिरोह, जांच
उधर, बस्ती में तैनात रहे एक बर्खास्त सिपाही पर फर्जी मुकदमा दर्ज कराने वाले गिरोह का संचालन करने का आरोप है। शनिवार को एडीजी कार्यालय पहुंचे पीड़ित ने आपबीती सुनाने के साथ ही अपने विरुद्ध दर्ज हुए दुष्कर्म के चार फर्जी मुकदमे की जानकारी दी।

एडीजी ने एसपी साउथ को मामले की जांच सौंपने के साथ ही निर्देश दिया है कि मामला अगर सही है तो बर्खास्त सिपाही व उसके सहयोगियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराकर जेल भेेजें। तिवारीपुर तकिया के रहने वाले बृजेश ने बताया कि सुराती देवी नाम की एक अज्ञात महिला ने उसके ऊपर बस्ती और गोरखपुर जिले में चार बार दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज करवाया है।

इसके पीछे उत्तर प्रदेश पुलिस का बर्खास्त सिपाही का हाथ जो उनके घर किराए पर रहता था। वर्ष 2021 में सिपाही ने किशोरी के साथ दुष्कर्म किया। तिवारीपुर पुलिस ने केस दर्ज कर जेल भेजा। वह नौकरी से बर्खास्त है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें