ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशसाइकिल चुनाव चिह्न और हम यहां मौजूद हैं; कन्नौज से सपा कैंडिडेट पर अखिलेश ने नहीं तोड़ा सस्पेंस

साइकिल चुनाव चिह्न और हम यहां मौजूद हैं; कन्नौज से सपा कैंडिडेट पर अखिलेश ने नहीं तोड़ा सस्पेंस

लोकसभा चुनाव को लेकर सपा ने अभी कुछ सीटों पर अपने प्रत्याशियों की घोषणा नहीं की है। इसी में एक सीट है कन्नौज। सपा प्रमुख अखिलेश यादव शुक्रवार को इसी जिले में मौजूद थे।

साइकिल चुनाव चिह्न और हम यहां मौजूद हैं; कन्नौज से सपा कैंडिडेट पर अखिलेश ने नहीं तोड़ा सस्पेंस
Dinesh Rathourहिंदुस्तान टीम,कन्नौजThu, 18 Apr 2024 06:43 PM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव को लेकर सपा ने अभी कुछ सीटों पर अपने प्रत्याशियों की घोषणा नहीं की है। इसी में एक सीट है कन्नौज। सपा प्रमुख अखिलेश यादव शुक्रवार को इसी जिले में मौजूद थे। सपा प्रमुख ने कन्नौज में कार्यकर्ताओं से बातचीत के बाद एक प्रेस कान्फ्रेंस का आयोजन किया, लेकिन कन्नौज से सपा का उम्मीदवार कौन होगा? इस पर सस्पेंस बरकरार ही रखा। अखिलेश यादव कन्नौज से सपा उम्मीदवार के सवाल पर एक बार फिर इशारों में ही बात कर गए। उन्होंने कहा कि यहां आकर वह तमाम कार्यकर्ताओं से मिले हैं। जल्द ही प्रत्याशी की घोषणा की जाएगी। बोले साइकिल चुनाव चिह्न और हम यहां मौजूद हैं, इस बार भाजपा को लाखों वोटों से हराकर भेजेंगे। कन्नौज इस बार इतिहस बनाएगा। 

अखिलेश ने कहा कि समाजवादी पार्टी और इंडिया गठबंधन नई उम्मीदों व मिली जुली संस्कृति को बढ़ावा देने का गठबंधन हैं। कहा कि अगर भाजपा सत्ता में आई तो संविधान बदल देगी। ब्रजेशपाल के परिवार से मुलाकात के बाद पूर्व सीएम ने मीडिया से बात करते हुए भाजपा पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा ने दो करोड़ नौकरी देने का वायदा किया था जो हवा हवाई साबित हुआ। इस सरकार में पेपर युवा परेशान हैं पेपर लीक होने के कारण युवाओं को निराशा हांथ लगती है। हताश और परेशान युवा गलत कदम उठा लेते हैं जैसे ब्रजेश ने किया था। डिग्रियां जलाने के बाद उसने सोसाईट नोट में लिखा था कि वह बेरोजगारी  से निराश होने के चलते आत्म हत्या कर रहा है।

एसी डिग्रियां किस काम की जो नौकरी न दिला सकें। यह इकलौता मामला नहीं हैं ऐसे न जाने और कितने युवा हैं जो इस सरकार में हताश और निराश हो चुके हैं। सीएम से लेकर तमाम मंत्री कन्नौज आते हैं यहां का विकास देखकर चले जाते हैं पर किसी ने कन्नौज का विकास नहीं किया। इस बार चुनाव में जनता पूछ रही है कि विकास कहां हैं। सांसद जी हाजिर हों बताएं कि कन्नौज में कितने विकास के काम किए हैं।

जो मलाई खाने वाले थे वो गए जो ईमानदार वह मेरे साथ- अखिलेश यादव 

सपा मुखिया अखिलेश यादव ने कन्नौज पहुंचकर पार्टी कार्यालय में कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। इस दौरान उन्होने चुनाव को लेकर पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को पूरी ताकत के साथ जुट जाने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही उन्होने भूड़ पुरवा गांव पहुंचकर दिवंगत ब्रजेश यादव के परिजनों से मुलाकात की। सपा  मुखिया पूर्व सीएम अखिलेश यादव गुरुवार दोपहर कन्नौज के नसरापुर स्थित पार्टी कार्यालय पहुंचे। इस दौरान उन्होने कार्यालय के मीटिंग हाल में पार्टी पदाधिकारियों के साथ ही जोन प्रभारी व सेक्टर प्रभारियों की बैठक ली। बैठक में उन्होंने लोकसभा चुनाव को लेकर पार्टी की तैयारी को लेकर समीक्षा की। पूर्व सीएम ने कार्यकर्ताओं को जनता के बीच पहुंचकर चुनाव के लिए मेहनत करने को कहा है।

बताया जा रहा है कि मीटिंग में बीते दिनों पार्टी छोड़कर जाने वाले कुछ नेताओं को लेकर चर्चा करते हुए कहा कि जो मलाई खाने वाले थे वो चले गए। जो ईमानदार हैं वह मेरे साथ हैं। मै किसी को मनाऊंगा नहीं। इसके बाद पूर्व सीएम का काफिला भूड़ पुरवा गांव के लिए रवाना हो गया। यहां उन्होने दिवंगत ब्रजेश पाल के पिता लक्ष्मण पाल व परिजनों से मुलाकात की। उन्होने ब्रजेश पाल को श्रद्धांजिल देते हुए  परिवार को ढ़ांढस बंधाया। बता दें कि पुलिस भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद ब्रजेश पाल ने हताशा मं अपनी डिग्रियां जलाने के बाद फांसी लगाकर आत्म हत्या कर ली थी। पूर्व सीएम ने कहा कि वह परिवार से पहले ही मिलना चाहते पर नहीं मिल सके अब मौका मिला और वही परिवार से मिलने आ गए। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें