ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशफ्रेंड से आए ‘रिक्वेस्ट’ तो हो जाओ सावधान, ऐसे बनाते हैं ठगी का शिकार 

फ्रेंड से आए ‘रिक्वेस्ट’ तो हो जाओ सावधान, ऐसे बनाते हैं ठगी का शिकार 

फेसबुक पर किसी ऐसे व्यक्ति की फ्रेंड रिक्वेस्ट आई हो जो पहले से आपकी फ्रेंड लिस्ट में है तो सावधान हो जाएं। यह साइबर फ्रॉड के संकेत हैं।

फ्रेंड से आए ‘रिक्वेस्ट’ तो हो जाओ सावधान, ऐसे बनाते हैं ठगी का शिकार 
Deep Pandeyहिन्दुस्तान,मेरठWed, 25 Oct 2023 06:22 AM
ऐप पर पढ़ें

फेसबुक पर किसी ऐसे व्यक्ति की फ्रेंड रिक्वेस्ट आई हो जो पहले से आपकी फ्रेंड लिस्ट में है तो सावधान हो जाएं। यह साइबर फ्रॉड के संकेत हैं। साइबर अपराधी आप जैसी दिखने वाली डुप्लीकेट आईडी तैयार कर ठगी की वारदात कर रहे हैं।

साइबर हैकर्स हर दिन नया तरीका ठगी का इजाद करते हैं और लोगों को शिकार बनाते हैं। इन दिनों डुप्लीकेट फेसबुक आईडी से जुड़े मामले बढ़े हैं। बिना पुष्टि किए लोग उनकी बातों में उलझ जाते हैं और ठगी का शिकार बन जाते हैं। हर माह करीब पांच से सात मामले ऐसे साइबर सेल में पहुंच रहे हैं।

ऐसे बनाते हैं अपना शिकार

साइबर हैकर्स किसी भी व्यक्ति की प्रोफाइल पिक्चर चुराकर उसकी जैसी दिखने वाली आईडी तैयार करते हैं। फिर उसकी फ्रेंड लिस्ट में शामिल लोगों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते हैं। बिना सोचे समझे लोग रिक्वेस्ट स्वीकार कर लेते हैं। मैसेज से बातचीत होती है और जरूरी काम/मजबूरी दिखाकर एकाउंट में रुपये ट्रांसफर करा लिए जाते हैं।

इन बातों का रखें ध्यान

● अपनी प्रोफाइल को लॉक करके रखें। इसमें लापरवाही बिल्कुल न बरतें।

● किसी दोस्त की इस तरह की रिक्वेस्ट हो तो पहले फोन पर संपर्क करें।

● कोई मैसेज कर मदद मांग रहा है तो अलर्ट हो जाएं, पूरी जानकारी करें।

● समय समय पर अपने सोशल मीडिया एकाउंट का पासवर्ड बदलते रहें।

● अपने एकाउंट की प्राइवेसी को भी समय समय पर बदलते रहें।

हू ब हू आवाज से भी ठगी

आवाज को भी साइबर ठगों ने नया हथियार बनाया है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के जरिए वह दोस्त/रिश्तेदार की कॉपी तैयार करते हैं और फिर उससे आर्थिक मदद मांगते हैं। इसके लिए नंबर पर लगी प्रोफाइल पिक्चर तक कॉपी कर ली जाती है।

साइबर सेल प्रभारी राघवेंद्र सिंह ने बताया कि फर्जी आईडी से फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजकर हैकर्स वारदात कर रहे हैं। ऐसी कोई रिक्वेस्ट आए तो पहले फोन पर बात करें। अब आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस से मिलती जुलती आवाज बनाकर भी ठगी होने लगी है। इसके लिए सजगता जरूरी है।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें