ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशUP Weather: यूपी के चार जिलों पर 14 दिन भारी, भीषण गर्मी-हीटवेब का रहेगा असर, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

UP Weather: यूपी के चार जिलों पर 14 दिन भारी, भीषण गर्मी-हीटवेब का रहेगा असर, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

मई के आखिरी दस दिन की गर्मी बर्दाश्त से बाहर हो सकती है। मौसम विभाग का जो पूर्वानुमान है, वह बेहद डरा देने वाला है। शुक्रवार से पूरे रुहेलखंड को हीटवेब अपने आगोश में लेने जा रही है।

UP Weather: यूपी के चार जिलों पर 14 दिन भारी, भीषण गर्मी-हीटवेब का रहेगा असर, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट
Dinesh Rathourहिन्दुस्तान,शाहजहांपुरThu, 16 May 2024 09:34 PM
ऐप पर पढ़ें

मई के आखिरी दस दिन की गर्मी बर्दाश्त से बाहर हो सकती है। मौसम विभाग का जो पूर्वानुमान है, वह बेहद डरा देने वाला है। शुक्रवार से पूरे रुहेलखंड को हीटवेब अपने आगोश में लेने जा रही है, ऐसा अनुमान लगाया गया है। 17 मई से 31 मई तक के हालात बेहद खराब हो सकते हैं। दोपहर 12 से शाम 5 बजे तक गर्म हवा के कारण लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो सकता है। अधिकतम तापमान 45 डिग्री और न्यूनतम तापमान 30 डिग्री पार होने की संभावना है। बताया गया है कि गर्म हवा के झोंके इतना परेशान करेंगे कि ऐसा लग सकता है कि कोई गर्म भांप चेहरे पर फेंक रहा हो। ऐसे में विशेषज्ञों ने कहा कि जरूरी होने पर ही घरों से बाहर निकलें। गर्मी से बचने के लिए अगर बाहर जाना जरूरी है कि गमछा, ठंडा पानी, कैप का इंतजाम जरूर करें। 

शाहजहांपुर स्थित गन्ना शोध परिषद के मौसम विभाग के वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक डा. मनमोहन सिंह ने बताया कि गुरुवार को शाहजहांपुर का अधिकतम तापमान 40 और न्यूनतम तापमान 24.2 डिग्री रिकार्ड किया गया है। उन्होंने बताया कि बरेली, बदायूं, पीलीभीत, शाहजहांपुर के साथ ही पड़ोसी जिले खीरी में शुक्रवार से आसमान से आग बरसने वाली है। सुबह से ही तेज गर्मी होने और दोपहर में अधिकतम तापमान 42 से 44 डिग्री के बीच तक चढ़ने की संभावना है। उन्होंने बताया कि बरेली और बदायूं में 17 मई से 31 मई तक गर्मी का रेड अलर्ट है। उन्होंने बताया कि जो पूर्वानुमान है, उसके अनुसार बरेली और बदायूं में शुक्रवार से ही अधिकतम तापमान 44 डिग्री हो सकता है, यह तापमान मई के अंत बना रह सकता है। रात में भी गर्मी से किसी को राहत नहीं मिलने वाली है, क्योंकि न्यूनतम तापमान भी 30 डिग्री पार जाने की पूरी संभावना है। डा. मनमोहन सिंह ने बताया कि आमतौर पर इन दिनों सामान्य तापमान अधिकतम 40 और न्यूनतम तापमान 25 डिग्री होता है। बताया कि यह तापमान भी गुरुवार तक तो सामान्य रहा है, लेकिन शुक्रवार से तापमान सामान्य से ऊपर जाने की संभावना है। 
 
जिलावार मौसम का पूर्वानुमान

  • बरेली में 17 मई से 28 मई तक हीटवेब का बड़ा असर देखने को मिल सकता है, अधिकतम तापमान 45 से 48 डिग्री और न्यूनतम तापमान 30 डिग्री तक पहुंच सकता है।
  • बदायूं में 17 मई से 27 मई तक मौसम का रेड अलर्ट है, यहां अधिकतम तापमान 45 से 48 डिग्री के बीच और न्यूनतम तापमान 30 तक चढ़ने की संभावना बनी हुई है।
  • पीलीभीत जिले में भी 17 से 27 मई तक हीटवेब अपना असर दिखा सकती है। गर्मी से लोग बेहाल हो सकते हैं। अधिकतम तापमान 44 और न्यूनतम 29 डिग्री तक चढ़ सकता है।
  • शाहजहांपुर जिले में गर्मी का रेड अलर्ट 23 से 26 मई के बीच का है, यहां अधिकतम तापमान 47 और न्यूनतम तापमान 30 डिग्री तक पहुंचने की संभावना व्यक्त की गई है। 
  • खीरी जिले में हीटवेब का असर शुक्रवार से ही देखने को मिल सकता है, खीरी में 17 से 23 मई के बीच रेड अलर्ट है, पूर्वानुमान है कि यहां अधिकतम तापमान 44 और न्यूनतम तापमान 30 डिग्री हो सकता है।

गर्मी का हाहाकार हुआ तो बिजली भी परेशान करेगी

जैसे जैसे गर्मी बढ़ेगी तो उससे राहत के लिए लोग पंखे, कूलर और एसी का भी इस्तेमाल करेंगे। ऐसे में ओवरलोड के कारण ट्रांसफार्मर भी फुंक सकते हैं, इसलिए गर्मी के साथ ही बिजली किल्लत के लिए भी लोगों को तैयार रहने की जरूरत है। 

मच्छरों का प्रकोप भी बढ़ेगा, रहें सावधान

गर्मी जब भी बढ़ती है तो मच्छरों का प्रकोप भी होता है। ऐसे में मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया के फैलने की संभावना रहती है, पिछले सालों में यह सब देखा भी गया है। ऐसे में डा. सलीम खान ने आम लोगों को मच्छरदानी का इस्तेमाल करने को कहा है। उन्होंने बासी खाने से दूर रहने की सलाह दी है, क्योंकि यह फूड प्वाइजनिंग की कारण हो सकता है। 

मरीज व तीमारदार दोनों लाइन में लगते

शाहजहांपुर मेडिकल कालेज की ओपीडी में भीड़ के चलते मरीजों को परेशानी उठानी पड़ रही है। अस्पताल पहुंचते ही मरीज पहले दिखाने के लिए डाक्टर के चैंबर के बाहर लाइन में लग जाते। उनके साथ आए तीमारदार पर्चा बनवाने के लिए लाइन में लग जाते। पर्चा बनते ही तीमारदार मरीज को पर्चा दे देते और अपना समय बजाते। इसलिए एक मरीज के साथ दो-दो लोग आ रहे हैं। इस कारण भीड़ हो रही है। मरीजों की बढ़ती तादात को देखते हुए मेडिकल कालेज में खून की जांच चौगुनी हो गई है। भीड़ को देख कर्मचारियों के पसीने छूट रहे हैं। कुछ मरीजों को बिना इलाज के ही वापस लौटना पड़ रहा है।

27 मई तक झुलसेगा जिला खीरी

अब झुलसाने वाली गर्मी के लिए तैयार रहिए। 11 दिनों तक धूप और गर्मी आपको तपाकर रख देगी। इसका असर गुरुवार से ही नजर आने लगा। शुक्रवार से °तापमान 43 डिग्री सेल्सियस जा सकता है। इसी के साथ दिन और रात दोनों का तापमान बढ़ता चला जाएगा। गुरुवार को जिले का अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वही न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस तक गया। बढ़ रही गर्मी से लोगों का बुरा हाल है। इतनी तेज और उमस भरी गर्मी में लोगों को चैन नहीं मिल रहा। घरों के अंदर भी लोग पसीने से तर-बतर नजर आ रहे हैं। जानकारों ने बताया कि मौसम की मार अब और तेज होने वाली है। शुक्रवार से दिन का पारा सबसे हाई होने जा रहा है। तापमान 43 डिग्री तक पहुंचने के आसार हैं। पूरे हफ्ते इसी तरह का मौसम बना रहने की संभावनाएं हैं।

मौसम की मार को देखते हुए बाजारों में इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकानों पर कूलर और एसी की बिक्री बढ़ गई है। लोग गर्मी से निजात पाने के लिए कूलर और एसी का सहारा ले रहे है। शहर में स्थित कचहरी परिसर में आने वाले लोग अपनी प्यास बुझाने के लिए पेय पदार्थ  शिकंजी, आम के पने, जलजीरे का सहारा ले रहे है। दोपहर के वक्त लोग बाजारों को कम निकल रहे। तेज धूप और उमस के चलते दिन के समय सड़कों और बाजारों में सन्नाटा छाया रहा। जो लोग किसी जरूरी कार्य से घरों से निकले वो तेज़ धूप से बचने के लिए छाता, रुमाल, अंगौछे का सहारा लेते नजर आए।