ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशबर्ड फ्लू : यूपी के इन जिलों में अंडा-मुर्गों के आयात पर लगा प्रतिबंध, जिले की सीमाओं पर पुलिस की नजर

बर्ड फ्लू : यूपी के इन जिलों में अंडा-मुर्गों के आयात पर लगा प्रतिबंध, जिले की सीमाओं पर पुलिस की नजर

बर्ड फ्लू को लेकर दूसरे प्रदेश का अंडे और मुर्गे अब नहीं लाए जा सकेंगे। आदेश हुए हैं कि अब किसी भी दशा में दूसरे प्रदेश से आयात नहीं किया जाएगा। अगर कोई अंडा-मुर्गा लाता है तो उसके खिलाफ सख्त...

बर्ड फ्लू : यूपी के इन जिलों में अंडा-मुर्गों के आयात पर लगा प्रतिबंध, जिले की सीमाओं पर पुलिस की नजर
पीलीभीत बदायूं। हिन्दुस्तान टीमMon, 11 Jan 2021 11:40 PM
ऐप पर पढ़ें

बर्ड फ्लू को लेकर दूसरे प्रदेश का अंडे और मुर्गे अब नहीं लाए जा सकेंगे। आदेश हुए हैं कि अब किसी भी दशा में दूसरे प्रदेश से आयात नहीं किया जाएगा। अगर कोई अंडा-मुर्गा लाता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। इसके लिए पीलीभीत और बदायूं में जिले की सीमा पर पुलिस को विशेष निगरानी के आदेश दिए गए हैं। पीलीभीत में अधिकांश अंडा उत्तराखंड के बाजपुर से आता है। वहीं बदायूं में जालंधर तक से अंडे लाए जाते हैं। ऐसे में अन्य प्रदेशों से अंडा व मुर्गा न लाया जा सके इसको लेकर प्रशासन की ओर से सभी कारोबारियों को विशेष चेतावनी दी गई है। साथ ही इसको लेकर निगरानी समितियां भी बनाई जा रही है।  

प्रवासी पक्षियों पर भी नजर 
बात अंडा और मुर्गियों तक सीमित नहीं है। प्रवासी पक्षियों पर भी विशेष नजर है। सीजन में कई बाहरी पक्षियों की दस्तक जिले में होती है। ऐसे  पक्षियों की निगरानी की जा रही है, कि कहीं पक्षी मर तो नहीं रहे हैं।
 
पीलीभीत के कलीनगर में चार उल्लू मरने से खलबली 
पूरनपुर/कलीनगर। शेरपुर में 60 मुर्गे-मुर्गियों के मरने के बाद कलीनगर में चार उल्लुओं की संदिग्ध हालात में मौत होने से बर्ड फ्लू का शोर तेज हो गया। सोमवार को उल्लुओं की मौत की सूचना पर सामाजिक वानिकी के प्रभारी रेंजर मोहम्मद अयूब, वन दरोगा अजमेर सिंह टीम के साथ पहुंच गए। माधोटांडा के पशु चिकित्सक नूर उल हुदा ने एक उल्लू के शव को आईवीआरआई भेजा है। तीन उल्लुओं के शव खारजा नहर के किनारे दफन दिए गए।  

गांव वाले बताएंगे कहां हुई पक्षियों की मौत
प्रदेश में बर्ड फ्लू के केस सामने आने के बाद बरेली में खास एहतियात बरती जा रही है। पशुपालन विभाग के डाक्टर गांव-गांव लोगों को जागरूक कर रहे हैं। पक्षियों की अस्वाभाविक मौत की सूचना अपने ब्लॉक के डॉक्टर और कंट्रोल रूम को देने की अपील की है। बरेली में करीब 3.25 लाख कुक्कुट पक्षी हैं। इसके अलावा कई गांवों में बत्तख पालन होता है। बरेली में परदेसी पक्षी भी आते हैं। सभी ब्लॉक के पशु चिकित्सा अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र के पोल्ट्री फार्मों का जायजा ले रहे हैं। जहां पोल्ट्री फार्म ज्यादा हैं वहां ग्रामीणों की टीम बनाई गई है। पशु चिकित्सकों ने उनको अपने मोबाइल नंबर मुहैया करा दिए गए हैं। ताकि पक्षियों की मौत की सूचना तुरंत मिल सके।  

बर्ड फ्लू की सूचना 9412440740 पर दें 
बर्ड फ्लू के खतरे को देखते हुए पशुपालन विभाग ने कंट्रोल रूम संचालित कर दिया है। डिप्टी सीवीओ के मोबाइल नंबर 9412440740 को हेल्पलाइन बनाया गया है। सीवीओ ने बर्ड फ्लू से संबंधित सूचनाएं कंट्रोल रूम में देने की अपील की है। 

खीरी और उत्तराखंड से आईवीआरआई आए सैंपल 
बर्ड फ्लू की जांच के लिए बरेली मंडल के साथ दूसरे जिले और प्रदेशों से भी सैंपल आ रहे हैं। आईवीआरआई की हाईटेक लैब में सैंपल की जांच की जा रही है। हालांकि जांच में अभी बर्ड फ्लू का मामला सामने नहीं आया है।