DA Image
21 अक्तूबर, 2020|12:22|IST

अगली स्टोरी

बलिया मर्डर केस : तीन और आरोपी गिरफ्तार, तीन दिन बाद भी धीरेंद्र को नहीं खोज पाईं पुलिस की 12 टीमें 

ballia murder case three more accused arrested 12 teams of police not yet found dhirendra pratap sin

यूपी के बलिया जिले में हुए गाेलीकांड का मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह अभी पुलिस की गिरफ्त में नहीं आ सका है। पुलिस की 12 से भी ज्यादा टीमें उसे खोजने में जुटी हैं।  वहीं पुलिस ने शनिवार को तीन और आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया था।  जिला अस्पताल में आरोपी पक्ष की घायल महिलाओं का मेडिकल कराने पहुंचे बैरिया से भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह घटना का जिक्र करते हुए भावुक हो गए।

दुर्जनपुर हत्याकांड की जांच में सामने आए तीन और आरोपियों को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया है। इससे पहले शुक्रवार को मुख्य आरोपित धीरेंद्र प्रताप सिंह डब्लू के दो भाइयों देवेन्द्र प्रताप सिंह व नरेन्द्र प्रताप सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इस मामले में अब तक पांच आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। हालांकि अभी मुख्य आरोपी पुलिस समेत छह नामजद आरोपी फरार हैं। इस मामले में आठ नामजद और 25 अज्ञात लोगों पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था। पुलिस फरार आरोपियों पर 75-75 हजार का इनाम घोषित किया गया है।  

जांच के बाद तीन गिरफ्तार
एसओ रेवती प्रवीण कुमार सिंह का कहना है कि दुर्जनपुर कांड की जांच में नाम सामने आने के बाद हनुमानगंज निवासी मुन्ना यादव व राजप्रताप यादव तथा दुर्जनपुर निवासी राजन तिवारी को गिरफ्तार किया है। इस घटना के मुख्य आरोपित धीरेंद्र प्रताप सिंह डब्लू के दो भाईयों देवेन्द्र प्रताप सिंह व नरेन्द्र प्रताप सिंह को शुक्रवार को ही गिरफ्तार कर लिया गया था। पूछताछ के बाद पकड़े गये आरोपितों को पुलिस ने जेल भेज दिया। 

जिला अस्पताल में भावुक हो गए बैरिया विधायक
दुर्जनपुर हत्याकांड के आरोपी के पक्ष में बैरिया से भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह खुलकर सामने आ गए हैं। शनिवार की सुबह आरोपित धीरेंद्र सिंह डब्लू के परिवार की महिलाओं व बच्चों को लेकर समर्थकों संग वह रेवती थाने पहुंच गये। उन्होंने आरोपित पक्ष की ओर से मुकदमा दर्ज कराने की मांग की। साथ ही घायल महिलाओं को जिला अस्पताल में मेडिकल भी कराया। इस दौरान जिला अस्पताल में घटना की चर्चा करते हुए विधायक भावुक हो गए। 
आरोपी पक्ष की ओर से मुकदमा कराने के लिए घायल महिलाओं और बच्चों को लेकर बैरिया विधायक सुरेंद्र सिंह रेवती थाने पहुंचे। इसकी जानकारी होने के बाद भारी फोर्स के साथ एसपी देवेन्द्र नाथ रेवती थाने पहुंचे। विधायक का कहना था कि मारपीट में डब्लू के परिवार के लोग भी घायल हुए हैं लिहाजा इनकी तरफ से भी मुकदमा दर्ज होना चाहिये। पुलिस ने केस दर्ज करने से पहले मेडिकल मुआयना की बात कही तो आरोपित परिवार के लोगों व भीड़ के साथ सीएचसी रेवती पहुंच गये। हालांकि सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर किसी डॉक्टर के नहीं होने पर जिला अस्पताल रवाना हो गए। करीब 10 बजे वह घायल महिलाओं के साथ सदर अस्पताल के इमरजेंसी में पहुंचे विधायक ने मौजूद डॉक्टर से महिलाओं का मेडिकल मुआयना करने को कहा। ड्यूटी पर मौजूद डॉ. रितेश सोनी ने विधायक के साथ पहुंची आशा सिंह पत्नी राजेन्द्र सिंह, आभा सिंह पत्नी नागेन्द्र सिंह, अराधाना सिंह पत्नी प्रयाग सिंह, कांती सिंह पत्नी विरेन्द्र सिंह, रेखा सिंह पत्नी धीरेन्द्र प्रताप सिंह, सरोज सिंह पत्नी प्रदीप सिंह, 16 वर्षीय राज सिंह पुत्र अनिल सिंह का मेडिकल मुआयना किया। इस दौरान विधायक संग समर्थक आपात कक्ष में जमे रहे। इस दौरान मौजूद पूर्व सैनिकों व विधायक समर्थकों ने समर्थन में नारेबाजी भी किया। करीब दो घंटे तक अस्पताल में मौजूद रहने के बाद मेडिकल मुआयना कराने के बाद विधायक चले गये।

फरार आरोपियों पर 75-75 हजार का इनाम
दुर्जनपुर कांड के फरार आरोपितों के खिलाफ पुलिस ने इनाम की घोषणा की है। तीन दिनों के अंदर पुलिस पांच आरोपितों को गिरफ्तार कर चुकी है। 
गुरुवार को हुई घटना के बाद रेवती पुलिस ने मृतक जयप्रकाश के भाई चन्द्रमा पाल की तहरीर पर आठ नामजद व 25 अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया है। शुक्रवार देर रात डीआईजी आजमगढ़ सुभाष चंद्र दुबे ने फरार आरोपितों पर 50-50 हजार रुपये तथा एसपी देवेन्द्र नाथ ने 25-25 हजार रुपये इनाम की घोषणा किया है। पुलिस का कहना है कि जांच में नाम सामने आने पर तीन और आरोपितों को पकड़ा गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Ballia murder case Three more accused arrested 12 teams of police not yet found Dhirendra pratap singh bjp mla surendra singh