ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशBaghpat Results 2024: बागपत में रालोद के राज कुमार सांगवान जीते, सपा के अमरपाल शर्मा हारे

Baghpat Results 2024: बागपत में रालोद के राज कुमार सांगवान जीते, सपा के अमरपाल शर्मा हारे

Baghpat Results 2024: पश्चिम यूपी में बागपत लोकसभा सीट पर रालोद के डॉ राज कुमार सांगवान 159459 वोटों से जीत गए हैं। सपा के अमरपाल शर्मा दूसरे स्थान पर रहे और बसपा के प्रवीण बैंसला तीसरे पर रहे।

Baghpat Results 2024: बागपत में रालोद के राज कुमार सांगवान जीते, सपा के अमरपाल शर्मा हारे
Srishti Kunjलाइव हिन्दुस्तान,बागपतTue, 04 Jun 2024 09:44 PM
ऐप पर पढ़ें

Baghpat Results 2024: यूपी में पश्चिम की सीट बागपत लोकसभा सीट पर राष्ट्रिय लोक दल (रालोद) के डॉ राज कुमार सांगवान जीत गए हैं। 159459 वोटों के अंतर के साथ राज कुमार सांगवान को 488967 वोटों के साथ जीत मिली। गिनती के बाद समाजवादी पार्टी (सपा) के अमरपाल शर्मा 329508 वोटों के साथ दूसरे नंबर पर हैं। वहीं बसपा के प्रवीण बैंसला (बंसल) तीसरे स्थान पर रह गए हैं। लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में 26 अप्रैल को बागपत में मतदान हुआ था।

2.00 PM- रालोद के राजकुमार सांगवान 279639 वोटों के साथ पहले स्थान पर हैं। 102058 वोटों की बढ़त के साथ उन्होंने सपा के अमरपाल को पछाड़ दिया है। अमरपाल को 177581 वोट मिले हैं।

9.30 AM- रालोद के राजकुमार सांगवान ने बड़ी बढ़त हासिल करते हुए सपा के अमरपाल शर्मा और बसपा के प्रवीण बंसल को पछाड़ दिया है। राजकुमार सांगवान को 72165 वोट मिले। 24311 वोटों की कमी के साथ अमरपाल शर्मा को 47854 वोट मिले।

9.00 AM- रालोद के राजकुमार सांगवान आगे हैं। सपा के अमरपाल शर्मा पीछे चल रहे हैं। 

8.30 AM- बागपत लोकसभा के सिवालखास विधानसभा के पोस्टल बैलेट में रालोद के डा.राजकुमार सांगवान आगे। दूसरे स्थान पर सपा के अमरपाल शर्मा।

8.00 AM- बागपत लोकसभा सीट पर मतगणना शुरू

बागपत लोकसभा सीट 1967 से अस्तित्व में है। इस सीट पर किसान नेता और जाटों का कब्जा ज्यादा रहा है। इस सीट से दिग्गज नेता चौधरी चरण सिंह और चौधरी अजीत सिंह ने कई बार अपना परचम लहराया है। इस सीट पर जनता ने पार्टी नहीं प्रत्याशियों को वोट देकर जीत दिलाई। 1967 में जनसंघ के रघुवीर सिंह शास्त्री ने जीत हासिल की थी। 1977 में जनता पार्टी से लड़कर चौधरी चरण सिंह ये सीट जीते। इसके बाद 1980 और 1984 में लोकदल पार्टी से चौधरी चरण सिंह ने चुनाव लड़ा और जीत हासिल की।

चौधरी अजीत सिंह ने भी 1989 और 1991 में जनता दल से इस सीट पर चुनाव लड़कर जीत हासिल की। चौधरी अजीत सिंह 1996 में भी जीते लेकिन इस बार उन्होंने कांग्रेस के टिकट से चुनाव लड़ा। 1997 में चौधरी अजीत सिंह ने निर्दलीय चुनाव लड़कर इस सीट पर कब्जा किया। इसके बाद चौधरी अजीत सिंह ने इस सीट पर हैट्रिक लगाई। 1999, 2004 और 2009 में राष्ट्रीय लोक दल से चौधरी अजीत सिंह ने तीन बार चुनाव लड़ा और जीते।

भाजपा की बात करें तो सोमपाल शास्त्री ने 1998 में पहली बार इस सीट पर पार्टी को जीत दिलाई। वहीं 2014 और 2019 में सत्य पाल सिंह ने भारतीय जनता पार्टी को ये सीट जीतकर दी। अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी (सपा) और मायावती की बहुजन समाज पार्टी (बसपा) इस सीट पर कभी भी अपना खाता खोलने में कामयाब नहीं रही हैं।