ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशराममंदिर को फिर मिली बम से उड़ाने की धमकी, डॉयल-112 पर आई कॉल, इस बार कुशीनगर से फैलाई गई सनसनी

राममंदिर को फिर मिली बम से उड़ाने की धमकी, डॉयल-112 पर आई कॉल, इस बार कुशीनगर से फैलाई गई सनसनी

अयोध्या के राम मंदिर को उड़ाने की एक बार फिर धमकी मिलने से सनसनी फैल गई। पुलिस को डॉयल-112 पर कॉल कर किसी ने धमकी दी। कुछ घंटों में ही पुलिस आरोपी के कुशीनगर स्थित घर तक पहुंच भी गई।

राममंदिर को फिर मिली बम से उड़ाने की धमकी, डॉयल-112 पर आई कॉल, इस बार कुशीनगर से फैलाई गई सनसनी
Yogesh Yadavहिन्दुस्तान,समउर बाजार(कुशीनगर) Tue, 28 May 2024 07:04 PM
ऐप पर पढ़ें

अयोध्या के राम मंदिर को एक बार फिर उड़ाने की धमकी मिली है। सोमवार की शाम को डायल 112 पर राम मंदिर को उड़ाने की धमकी भरी कॉल ने हड़कंप मचा दिया। पुलिस ने आरोपी की तलाश शुरू की तो जिस मोबाइल से कॉल की गई थी वह बंद मिला। पुलिस ने देर रात में करीब दो बजे उसे घर से पकड़ा तब पता चला कि वह 15 साल का किशोर है। पुलिस के मुताबिक वह मंदबुद्धि है। आरोपी किशोर के बारे में ग्रामीणों का कहना है कि मनबढ़ नहीं है। इसका एक भाई था जो बाहर रहकर मजदूरी करता था। कुछ वर्ष पूर्व उसकी मौत हो गयी। तभी से किशोर गुमशुम रहने लगा। 

सोमवार की शाम को डायल 112 पर फोन कर राम मंदिर उड़ाने की धमकी दी गई। पुलिसकर्मियों ने इसकी जानकारी थानाध्यक्ष पटहेरवा को दी। पुलिस ने आरोपी की तलाश में छापेमारी शुरू कर दी। पटहेरवा क्षेत्र के बलुआ तकिया में देर रात छापेमारी करने पहुंची पुलिस को उसकी तलाश में करीब दो घंटे लग गए। धमकी देने वाला 15 वर्षीय किशोर निकला। पुलिस ने थाने ले जाकर उससे कई राउंड पूछताछ की। इसके बाद निष्कर्ष निकाला कि किशोर मंदबुद्धि है। थानाध्यक्ष पटहेरवा राकेश रोशन सिंह ने बताया कि पूछताछ से ऐसा प्रतीत होता है कि आरोपी किशोर मंदबुद्धि है। ग्रामीण भी उसे मंदबुद्धि बता रहे हैं।

बेहद सामान्य परिवार का है किशोर
आरोपी किशोर बेहद सामान्य परिवार का है। उसके पिता बाहर रहकर मजदूरी करते हैं। उसकी दादी गांव में ही लोगों के यहां चौका-बर्तन कर परिवार की आजीविका चलाने में मदद करती है। एसपी कुशीनगर धवल जायसवाल ने बताया कि पकड़ा गया किशोर मंदबुद्धि है। उससे पूछताछ की जा रही है। पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि इसके पीछे कोई साजिश तो नहीं। इससे पहले भी राम मंदिर को उड़ाने के साथ ही सीएम योगी की हत्या की भी धमकी दी गई थी। पुलिस ने आरोपियों को दबोच लिया था।