ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशनिखिल से पहले अजय पर टूटा था शिक्षक अश्‍वनी का कहर, बेरहमी से हुई पिटाई के बाद डरकर छोड़ दिया स्‍कूल

निखिल से पहले अजय पर टूटा था शिक्षक अश्‍वनी का कहर, बेरहमी से हुई पिटाई के बाद डरकर छोड़ दिया स्‍कूल

औरैया में शिक्षक की पिटाई से 10 वीं के छात्र निखिल की मौत के बाद बवाल मचा हुआ है। निखिल को शिक्षक ने बेरहमी से पीटा था। उसके पहले अजय नाम के एक छात्र पर भी इस शिक्षक कहर बुरी तरह टूटा था।

निखिल से पहले अजय पर टूटा था शिक्षक अश्‍वनी का कहर, बेरहमी से हुई पिटाई के बाद डरकर छोड़ दिया स्‍कूल
Ajay Singhसंवाददाता,औरैयाTue, 27 Sep 2022 11:10 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

यूपी के औरैया में शिक्षक की पिटाई से 10 वीं के छात्र निखिल की मौत हो गई। निखिल की मौत के बाद औरैया में बवाल मचा हुआ है। इस बीच पता चला है कि निखिल से पहले शिक्षक अश्‍वनी सिंह ने अजय नाम के एक और छात्र के साथ हैवानियत की थी। अश्‍वनी ने अजय को इतना पीटा कि स्‍कूल का खौफ उसके मन में बैठ गया और उसने स्‍कूल जाना छोड़ दिया। 19 दिन से अजय स्‍कूल गया ही नहीं है। 

अछल्दा के आदर्श इंटर कालेज में सामाजिक विज्ञान का शिक्षक अश्‍वनी अब फरार है। उसे नौकरी से सस्‍पेंड कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि उसने एक टेस्‍ट लिया था जिसमें निखिल ने उत्‍तरों में कई गलतियां की थीं। शिक्षक अश्‍वनी को इन गलतियों पर इतना गुस्‍सा आया कि उसने उसे लात घूंसों से बुरी तरह पीट दिया।

औरैया में बच्चे के साथ क्या, क्यों, किसने की हैवानियत, जानें पूरा मामला 

निखिल की हालत बिगड़ने पर उसे सैफई मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था जहां सोमवार को भोर में उनकी मौत हो गई। सात सितंबर को ही उसने तेहराजपुर के अजय की भी पिटाई थी। जिसके बाद से उसने स्कूल आना बंद कर दिया। स्कूल के नाम पर उसके मन में डर बस गया है।

आदर्श इंटर कालेज में सामाजिक विज्ञान के शिक्षक अश्वनी सिंह की पिटाई से बैसोली गांव के छात्र निखिल की मौत हो चुकी है। मगर उनकी हैवानियत का अकेला मामला नहीं है। अछल्दा थाना क्षेत्र के तेहराजपुर गांव निवासी अजय की भी उसने उसी दिन पिटाई की थी। इसके बाद से अजय के मन में डर बैठ गया और वह 19 दिनों से स्कूल नहीं जा रहा है। कक्षा दस के ही छात्र अजय ने बताया कि टेस्ट के दौरान उसके भी उत्तर गलत थे। जिसकी वजह से शिक्षक ने उसको भी जमकर पीटा।

तेहराजपुर गांव निवासी अजय पुत्र मनोज कुमार का कहना है कि डंडा से पिटाई के बाद वह लात घूसों से भी मारा था। इसके बाद वह घर आया। घर वालों को भी घटना के बारे में नहीं बताया। उसका कहना है कि यदि वह घर वालों को इसके बारे में बताता। तब घर वाले उलटे उसकी ही पिटाई करते। मगर वह उसी दिन से स्कूल नहीं गया। कभी परिवार वालों के दबाव में गया भी तो रास्ते से लौट आया। इस बाबत एसपी का कहना है कि मामले में जांच की जा रही है। और भी शिकायतें मिलती हैं तो उनकी जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी।

अखिलेश यादव बीजेपी से लड़ने को बनाएंगे नई और मजबूत टीम, लखनऊ में दो दिन होगी व्‍यूह रचना

आरोपित शिक्षक की गिरफ्तारी को तीन टीम गठित
इलाज के दौरान सैफई मेडिकल कालेज में छात्र निखिल की मौत के बाद पुलिस को आरोपित शिक्षक की तलाश है। पुलिस कप्तान चारू निगम ने आरोपित शिक्षक अश्वनी सिंह की गिरफ्तारी के लिए तीन टीम गठित कर दी गई है। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

मृतक छात्र के घर पहुंची एसपी

सोमवार को पुलिस अधीक्षक चारू निगम, सीओ बिधूना महेंद्र प्रताप सिंह, थाना प्रभारी अछल्दा ललित कुमार, वरिष्ठ उप निरीक्षक महेंद्र सिंह भदौरिया के साथ आदर्श इंटर कॉलेज अछल्दा व मृतक छात्र के घर पर पहुंचे। जहां घटना के संबंध में जानकारी ली। स्कूल में छात्र के छोटे भाई से भी घटना के बारे में जानकारी ली। और मृतक के परिजनों को दोषी शिक्षक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के साथ हर संभव मदद दिलाने का भी आश्वासन दिया।

epaper