ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशरामनगरी के लोगों का धर्मांतरण! पैसों का लालच देकर हिंदुओं को ईसाई बनाने की कोशिश, 7 गिरफ्तार

रामनगरी के लोगों का धर्मांतरण! पैसों का लालच देकर हिंदुओं को ईसाई बनाने की कोशिश, 7 गिरफ्तार

बाराबंकी में भारी संख्या में लोगों को रुपये का लालच देकर उनका धर्म परिवर्तन कराया जा रहा था। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने चर्च के फादर समेत सात लोगों को हिरासत में ले लिया।

रामनगरी के लोगों का धर्मांतरण! पैसों का लालच देकर हिंदुओं को ईसाई बनाने की कोशिश, 7 गिरफ्तार
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,बाराबंकीMon, 05 Feb 2024 09:41 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के बाराबंकी में धर्म परिवर्तन का मामला सामने आया है। चर्च में धर्मांतरण होने की सूचना पर एसडीएम-सीओ के साथ भारी संख्या में पुलिसबल ने छापा मारा। इस दौरान वहां पर सौ से अधिक लोगों को बैठाकर सभा की जा रही थी। पुलिस अधिकारियों ने वहां मौजूद लोगों से बातचीत की। अधिकांश लोग अयोध्या व आसपास के थे। उन्हें इलाज के बहाने बुलाकर धार्मिक साहित्य देकर धर्मांतरण का प्रयास किया जा रहा था। इस मामले में पुलिस ने चर्च के फादर समेत सात लोगों को नामजद करते हुए विधि-विरूद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम का मुकदमा दर्ज किया गया। सातों लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार भी कर लिया। 

ये मामला देवी के माती क्षेत्र का है। पुलिस को किसी से सूचना मिली कि चकहार मजरे रेंदुआ पल्हरी गांव में स्थित सेंट मैथ्यू कॉलेज के पास चर्च में धर्मांतरण के लिए काफी लोगों को बुलाया गया है। सूचना पर एसडीएम बिजय कुमार त्रिवेदी, सीओ बीनू सिंह के साथ भारी संख्या में पुलिस बल ने छापा मारा। चर्च के अंदर सभागार में सौ से अधिक लोगों बुलाकर रखा गया था। महिला पुलिस अधिकारियों ने मौजूद महिलाओं से एक-एक करके बात की। इसमें अधिकांश महिलाएं व पुरुष अयोध्या और उसके आसपास के रहने वाले काफी गरीब लोग थे। उन्होंने बताया कि उन लोगों को बस से लाया गया था। सभी से कहा गया था कि चर्च में आयोजित प्रार्थना सभा में उनके रोग ठीक कर दिए जाएंगे। खाना फ्री में मिलेगा। रुपए देने का भी लालच दिया गया। बस में ही उन्हें धार्मिक साहित्य देकर धर्मांतरण करने का प्रयास किया जा रहा था। 

चर्च का फादर गिरफ्तार 

एएसपी उत्तरी चिरंजीवी नाथ सिन्हा ने बताया कि उक्त सभा के लिए कोई अनुमति तक नहीं ली गई थी। सीओ सिटी ने बताया कि ग्राम चकहार मजरे रेंदुआ पल्हरी, स्थित सेंट मैथ्यू कॉलेज के पास स्थित नवीनता प्रेयर सेंटर (चर्च) में फादर डोमिनिक पिंटो की देखरेख में धर्मांतरण के लिए सौ से अधिक महिला व पुरुषों को बुलाया गया था। इसे लेकर फादर डोमिनिक पिंटो, सुनील पुत्र धर्मराज निवासी देवी का पुरवा तहसील मिल्कीपुर अयोध्या, सुरेन्द्र पुत्र माताफेर निवासी खरगूपुर तहसील रुदौली आयोध्या, घनश्याम गौतम पुत्र जमुना प्रसाद निवासी ग्राम टेर तहसील रुदौली अयोध्या, पवन पुत्र बंशी निवासी अमानीगंज तहसील डुमलिया जनपद अयोध्या, सूरज पुत्र बेचू निवासी सेहतल बानी तहसील सोहावल जनपद अयोध्या व सरजू प्रसाद पुत्र बृज लाल निवासी गड़ौली तहसील मिल्कीपुर अयोध्या को मौके से गिरफ्तार भी किया गया है। इनके खिलाफ स्थानीय ग्रामीण अरविंद की तहरीर पर देवा कोतवाली में धारा 3/5 उत्तर प्रदेश विधि-विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम-2021 का अभियोग पंजीकृत किया गया है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें