DA Image
1 जनवरी, 2021|8:20|IST

अगली स्टोरी

माफिया अतीक अहमद की 50 करोड़ की संपत्ति कुर्क, लाल बंगले पर प्रशासन की नजर

नए वर्ष पर प्रयागराज पुलिस ने माफिया अतीक अहमद की 50 करोड़ की संपत्ति कुर्क करने के साथ कार्रवाई शुरू की। धूमनगंज में अतीक अहमद की 37 बीघा की तीन प्लॉट को गैंगस्टर एक्ट में कुर्क किया। पुलिस ने कार्रवाई करने से पहले गांव में डुगडुगी बजवाकर ग्रामीणों को बताया कि माफिया अतीक अहमद की ये प्रॉपर्टी कुर्क की जा रही है। इसे अब कोई खरीदेगा नहीं। कुर्क करने से साथ ही धूमनगंज पुलिस ने कुर्की का बोर्ड भी लगवा दिया।

इस कुर्की के साथ ही करोड़ों के लाल बंगले पर पुलिस की नजर है। आरोप है कि अतीक एंड कंपनी ने इसे अवैध तरीके से अर्जित संपत्ति से बनाया। इसी लाल बंगले के चक्कर में प्रॉपर्टी डीलर जैद की देवरिया जेल में पिटाई हुई थी। अब पुलिस इस संपत्ति को गैंगस्टर एक्ट के तहत कुर्क करने वाली है। सिविल लाइंस पुलिस ने कार्रवाई करने के लिए रिपोर्ट भेज दी है।

शुक्रवार को हुई कुर्की के बारे में एसपी सिटी दिनेश सिंह ने बताया कि अतीक अहमद के खिलाफ दर्ज गैंगस्टर एक्ट के मुकदमे की कैंट इंस्पेक्टर नीरज वालिया जांच कर रहे हैं। कैंट इंस्पेक्टर की रिपोर्ट थी कि माफिया अतीक ने अवैध तरीके से अर्जित धन से धूमनगंज के नसीरपुर सिलना में अधिवक्ता इंद्रदेव से बीघा जमीन खरीदी है। इसे गैंगस्टर एक्ट में कुर्क करने के लिए जिलाधिकारी को रिपोर्ट भेजी गई थी, जिस पर उन्होंने जांच के बाद कार्रवाई करने की अनुमति दे दी। डीएम के आदेश पर धूमनगंज पुलिस ने शुक्रवार को अतीक अहमद की अवैध संपत्तियों पर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की। 

दोपहर में एसपी सिटी दिनेश सिंह, सीओ सिविल लाइंस अजीत सिंह और धूमनगंज पुलिस गांव में पहुंची। पुलिस ने सबसे पहले डुगडुगी बजवाई। ग्रामीणों को बताया गया कि 37 बीघा जमीन माफिया अतीक अहमद की है। इसे गैंगस्टर एक्ट में कुर्क किया जाएगा। इसके बाद तीनों प्लॉट पर पुलिस ने कुर्की का बोर्ड लगा दिया। एसपी सिटी ने बताया कि गाटा संख्या 158, 187 और 190 को कुर्क किया गया है। तीनों प्रॉपर्टी की वर्तमान में कीमत लगभग 50 करोड़ रुपया बताया गया है। 

करोड़ों की प्रापर्टी है लाल बंगला 
वहीं लाल बंगले के बारे में पुलिस ने बताया कि माफिया अतीक अहमद के साथ मिलकर आबिद प्रधान और उसका दामाद प्रॉपर्टी डीलर जैद धूमनगंज में प्लाटिंग करते थे। बदले में कमाई का एक हिस्सा अतीक अहमद को पहुंचाते थे। अतीक अहमद के जेल जाने के बाद भी यह क्रम जारी था। बमरौली में जहां पर मोहम्मद जैद का मकान है, उसी के पीछे करोड़ों की प्रॉपर्टी है जिसे लाल बंगला के नाम से भी पुकारते हैं।

बताया जाता है कि लाल बंगले की इसी प्रॉपर्टी को लेकर जैद और अतीक अहमद के बीच टशन हुआ था। 2019 में अतीक अहमद ने जैद को धूमनगंज से देवरिया जेल बुलवाया और वहीं पर उसकी जमकर पिटाई की थी। इस वारदात के बाद जनवरी 2020 में धूमनगंज थाने में अतीक अहमद और उसके गुर्गों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ। धूमनगंज पुलिस ने अतीक और उनके करीबियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए गैंगस्टर एक्ट का मुकदमा दर्ज कर लिया। इसकी जांच सिविल लाइंस पुलिस को मिली।

पुलिस ने जांच की तो पता चला कि लाल बंगला आबिद प्रधान के छोटे भाई माजिद की पत्नी शमा अफरोज के नाम से रजिस्टर्ड है। पुलिस का कहना है कि 15 बिस्वा में बनाई गई यह प्रॉपर्टी करोड़ों की है। इस मकान को अवैध रूप से धन अर्जित करके बनाई गई है। माफियाओं की इस संपत्ति को भी कुर्क करने के लिए सिविल लाइंस पुलिस ने रिपोर्ट भेज दी है।
 

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Attachment of Atik Ahmed s assets worth 50 crores administration on red bungalow