ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशगोरखपुर में पूजा पंडाल के पास सो रहे आठवीं के छात्र की गोली मारकर हत्‍या, एकतरफा प्रेम में बाधक भाइयों को मारने आए थे बदमाश

गोरखपुर में पूजा पंडाल के पास सो रहे आठवीं के छात्र की गोली मारकर हत्‍या, एकतरफा प्रेम में बाधक भाइयों को मारने आए थे बदमाश

गोरखपुर में आधी रात को बाइक सवार बदमाशों ने लक्ष्मी पूजा पंडाल के पास सो रहे 2 चचेरे भाइयों को गोली मार दी। आठवीं के छात्र की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसका चचेरा भाई बुरी तरह से घायल हो गया।

गोरखपुर में पूजा पंडाल के पास सो रहे आठवीं के छात्र की गोली मारकर हत्‍या, एकतरफा प्रेम में बाधक भाइयों को मारने आए थे बदमाश
Ajay Singhहिंदुस्‍तान,गोरखपुरSun, 12 Nov 2023 10:50 AM
ऐप पर पढ़ें

Murder of eighth class student in Gorakhpur: गोरखपुर के हरपुरबुहट क्षेत्र के सुरैना गांव में शुक्रवार की आधी रात को बाइक सवार बदमाशों ने लक्ष्मी पूजा पंडाल के पास सो रहे दो चचेरे भाइयों को गोली मार दी। आठवीं के छात्र की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसका चचेरा भाई गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना की वजह एक तरफा प्रेम और शादी का विरोध बताई जा रही है। पुलिस ने मुख्य आरोपित को दबोच लिया है।

सुरैना गांव निवासी नंदलाल के घर पर लक्ष्मी प्रतिमा का पंडाल बना हुआ है। पंडाल के बगल में नंदलाल का छोटा बेटा अजीत (16) अपने चचेरे भाई मोनू(15) के साथ सोया था। रात में करीब साढ़े 12 बजे बाइक से दो युवक आए और दोनों चचेरे भाइयों पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर फरार हो गए। सीने में गोली लगने से मोनू की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि अजीत घायल था। परिवारीजन ने पुलिस को सूचना देने के साथ ही उसे अस्पताल पहुंचाया।

सगे भाइयों को सोता समझ बरसाईं गोलियां

एक तरफा प्रेम और शादी में बाधक बन रहे भाइयों को मारने पहुंचे पिपराइच के भोला उर्फ भोलू का शिकार मोनू हो गया और उसकी मौत हो गई। मोनू अपने घर की बजाय चचेरे भाई अजीत के साथ पंडाल के पास सो गया। जबकि अजीत का बड़ा भाई मोहित छत पर सोने चला गया था। हमलावारों को पता था कि अजित और मोहित दोनों भाई पंडाल के पास सो रहे हैं और उन्होंने उन पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाई थीं।

हरपुर बुदहट क्षेत्र के सुरैना गांव निवासी नंदलाल की भतीजी की शादी पिपराइच थाना क्षेत्र के जंगल तिनकोनिया नम्बर दो में रमेश के साथ हुई है। रमेश का छोटा भाई भोला उर्फ भोलू अक्सर सुरैना गांव में आता-जाता था। इसी दौरान वह नंदलाल के परिवार की लड़की से एकतरफा प्रेम करने लगा और शादी का दबाव बनाने लगा। जबकि घरवालों को यह रिश्ता मंजूर नहीं था।

उधर, भोलू न सिर्फ शादी का दबाव बना रहा था बल्कि कहीं रिश्ता तय होने पर जाकर तोड़वा देता था। यह सब करने के बाद भी किसी को भोलू पंसद नहीं था। शादी में सबसे बड़ी बाधा नंदलाल के दोनों बेटे अजीत और मोहित थे। यही वजह है कि भोलू ने अजीत और उसके बड़े भाई मोहित की हत्या की योजना बनाई।

शुक्रवार की रात में वह अपने साथी के साथ बाइक से पहुंचा। उसे पता था कि अजीत और मोहित घर के बगल में लक्ष्मी पंडाल के पास सोए हैं। उसने दोनों पर ताबड़तोड़ गोली चला दी और फरार हो गए। गोली लगने से अजीत घायल हो गया जबकि मोहित की जगह साथ में सो रहे उसके चचेरे भाई मोनू की मौत हो गई। मोनू आठवीं का छात्र था।

अक्तूबर में बड़ौदा से घर लौटा था मोनू निषाद
गोली लगने से जिस मोनू निषाद की मौत हुई वह अपनी बड़ी बहन के साथ 8 वर्ष से बड़ौदा में रह रहा था। वह आठवीं कक्षा का छात्र था। अक्टूबर में वह घर लौटा था। मोनू की चार बहनें तो एक का बड़ा भाई अरविंद है। अरविंद गांव पर ही रहकर अपने पिता रामजतन के साथ मेनहत मजदूरी करता है। मोनू की मौत से परिजनो का रो-रो कर बुरा हाल है।

पिस्टल के साथ मुख्य आरोपित को दबोचा
हरपुर बुदहट इलाके में मोनू नामक युवक की हत्या और अजीत नामक युवक को घायल करने के मुख्य आरोपित भोला निषाद को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसके पास से हत्या में इस्तेमाल .32 बोर की पिस्टल व एक कारतूस बरामद किया। पुलिस ने हत्या के मुकदमा के साथ आर्म्स एक्ट की धारा बढ़ा दी।

सीसी टीवी से धरा गया हमलावर
हरपुरबुहट क्षेत्र के सुरैना गांव में बाइक सवार बदमाशों ने दो चचेरे भाइयों को गोली मार दी। हत्या की सूचना पर सीओ खजनी और हरपुर बुदहट पुलिस मौके पर पहुंच गई। छानबीन के बाद पता चला कि गोली उनके रिश्तेदारी के युवक ने मारी है। घटनास्थल से कुछ दूरी पर एक व्यक्ति के घर लगे सीसीटीवी कैमरे में दोनों युवक बाइक से आते हुए दिखे भी।

दोनों हमलावरों पर मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने मुख्य आरोपित पिपराइच क्षेत्र के जंगल तिनकोनिया नंबर दो निवासी भोला निषाद उर्फ भोलू को दबोच लिया है। बताया जा रहा है कि वह घायल किशोर के परिवार की लड़की से शादी करना चाहता था जबकि परिवार के लोग इसके लिए तैयार नहीं थे। इसी बात को लेकर विवाद इतना गहरा हो गया कि मोनू को अपनी जान गंवानी पड़ी।

भोला ने पहले ही दी थी धमकी, केस हुआ था दर्ज
भोला निषाद ने अजीत और उसके परिवारवालों को पहले ही धमकी दी थी। बीते फरवरी में उसने अजीत और उसके भाई को हत्या की धमकी दी थी। उसकी लड़की की अश्लील फोटो व वीडियो वायरल करने की भी धमकी दी थी। पुलिस ने केस तो दर्ज किया लेकिन भोला पर कार्रवाई नहीं हुई।