ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशधोखाधड़ी में सहायक चकबंदी अधिकारी और लेखपाल गिरफ्तार, दोनों भेज गए जेल

धोखाधड़ी में सहायक चकबंदी अधिकारी और लेखपाल गिरफ्तार, दोनों भेज गए जेल

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में धोखाधड़ी के आरोपी सहायक चकबंदी अधिकारी एवं लेखपाल को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने पूछताछ के बाद दोनों को जेल भेज दिया।

धोखाधड़ी में सहायक चकबंदी अधिकारी और लेखपाल गिरफ्तार, दोनों भेज गए जेल
Deep Pandeyहिन्दुस्तान,बरेलीThu, 29 Feb 2024 09:46 AM
ऐप पर पढ़ें

बरेली में पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोपी सहायक चकबंदी अधिकारी एवं लेखपाल को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने पूछताछ के बाद दोनों को जेल भेज दिया। सहायक चकबंदी अधिकारी पर अपने अधिकार क्षेत्र से बाहर जाकर नियमों की अनदेखी कर ग्राम समाज जमीन कुछ लोगों के नाम दर्ज करने का आरोप है। पुलिस अधीक्षक के निर्देशन एवं सीओ के पर्यवेक्षण में एसओ कुंवर बहादुर सिंह व उप निरीक्षक राजकुमार की टीम ने बुधवार को बरेली जंक्शन रेलवे स्टेशन पर छापा मार कर धोखाधड़ी आदि के आरोपी सहायक चकबंदी अधिकारी सुनील कुमार निवासी सर्वोदय नगर थाना सुभाषनगर बरेली, चकबंदी लेखपाल रामवीर सिंह निवासी गंगानगर कॉलोनी सुभाषनगर बरेली को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपियों को जेल भेज दिया।

मोहम्मदगंज गांव के रविन्द्र सिंह की शिकायतों पर डीएम ने एडीएम सिटी की अध्यक्षता में जांच समिति गठित की थी। समिति ने रविन्द्र सिंह द्वारा लगाए आरोपों की जांच की। जांच में स्पष्ट हुआ सहायक चकबंदी अधिकारी सुनील कुमार ने अपने अधिकारों से बाहर जाकर, नियमों व चकबंदी अधिनियम की अनदेखी की मोहम्मदगंज की ग्राम समाज की जमीन को अनाधिकृत ग्रामीणों के नाम अवैधानिक रूप से दर्ज कर दिया। जांच समिति ने अपनी जांच में चकबंदी लेखपाल रामवीर सिंह को खतौनी संख्या 511 की फर्जी खतौनी जारी करने एवं अवैधानिक कृत्य में शामिल होने का दोषी पाया। कमेटी ने पाया दोनों ने ग्राम समाज की संपत्ति को क्षति पहुंचाई। एडीएम सिटी ने जांच कर डीएम को रिपोर्ट सौंपी। डीएम के निर्देश पर बन्दोबस्त अधिकारी चकबंदी बरेली पवन कुमार सिंह ने दोनों आरोपियों के खिलाफ 20 अक्तूबर 2023 को मीरगंज थाने में मुकदमा दर्ज कराया था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें